Picsart 22 06 01 17 42 32 892 scaled

किसी भी कीमत पर गोचर के स्वरूप में बदलाव बर्दाश्त नहीं

5
(1)

बीकानेर । श्री मुरली मनोहर भीनासर गोचर के अध्यक्ष कैलाश चंद सोलंकी ने बताया कि बीकानेर नगर विकास न्यास द्वारा सुजानदेसर की गोचर को खुर्द बुर्द करके वहां पर मनमर्जी से ग्रीन फॉरेस्ट डवलप करने का प्लान बनाया जा रहा है, जो कि गोचर भूमि का अतिक्रमण है। इस अवसर बंशीलाल तंवर ने कहां कि प्रशासन ग्रीनफॉरेस्ट के नाम पर जमीन को हड़पना चाहता है, हम किसी भी कीमत पर गोचर के स्वरूप में बदलाव नहीं करने देंगे।

IMG 20220601 WA0008

बैठक में गोचर विकास के सदस्य शिव कुमार गहलोत ने कहा कि जब गोचर वास्तव में ग्रीनफॉरेस्ट ही है,तो नगर विकास न्यास को फॉरेस्ट डवलप करना है तो, वर्तमान गोचर को ही डवलप करके उसे गौ संरक्षण के लिए आरक्षित करें। बीकानेर गौ सेवा संघ के अध्यक्ष सूरजमालसिंह नीमराना ने गोचर सरंक्षण व विकास के लिए कई महत्वपूर्ण सुझाव दिए।
गंगाशहर, सुजानदेसर गोचर के कार्यकारी अध्यक्ष मूलचंद श्यामसुखा ने कहा कि आज बुधवार को जिला कलक्टर कार्यालय के सामने प्रदर्शन किया गया और मुख्यमंत्री व गृहमंत्री को ज्ञापन प्रेषित किया गया।

सरेह नाथानिया गोचर के ट्रस्टी मनोज कुमार सेवक ने कहा कि बीकानेर क्षेत्र की समस्त गोचर भूमि के लिए ,”संयुक्त गोचर संरक्षण एवं विकास मोर्चा”, के बैनर तले महावीर रांका, विनोद सिहाग, पार्षद अनूप गहलोत, मनोहर सिंह बाबा, प्रेम सिंह घुमांदा, जलजसिंह, सरेनाथाया गोचर के सूरज प्रकाश राव, उमाशंकर सोलंकी, वंदे मातरम मंच के विजय कोचर, माल जी जोशी, हरीश गहलोत, महेंद्र जोशी, यसविंदर चौधरी, भवानी सोलंकी, चतर भुज राजपुरोहित, मनोज भाटी, शम्भू पड़िहार, मुकेश पड़िहार, उमेश सोलंकी, राजू सोलंकी, गोपाल भाटी,धर्मेंद्र सोलंकी, कानसिंह राजपूत, सूरजा राम, संपत सिंह,लिखमी चंद जोशी, ईश्वरराम कुमावत, कमल, मूलाराम भाटी, राजकुमार उपाध्याय, बन्ने सिंह, अशोक जोशी, हनुमान सुथार आदि शामिल हुए।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 5 / 5. Vote count: 1

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply