Picsart 22 05 14 14 00 11 971

सेवादल एक विचार है, भारत की आत्मा है, न की राजनैतिक फायदे के लिए बनाया गया संगठन : कमल कल्ला

0
(0)

*सेवा का सम्मान, अजमेर से दुदु पद यात्रा कर पहुंचे बीकानेर दल का हुआ भव्य स्वागत*

बीकानेर। कांगे्रस सेवादल द्वारा चलाई जा रही गुजरात के साबरमती आश्रम से राजघाट तक की गौरव यात्रा के ३५वें दिन दुदु पहुंचने पर सभी पद यात्रियों का भव्य सम्मान किया गया। सेवादल के राष्टीय अध्य्क्ष श्री लाल जी देसाई ने अब तक 820 किलोमीटर पैदल चलकर इतिहास बनाने जा रहे हैं। इस चुनौती को व्यक्तिगत रूप से स्वीकार कर श्वेतसेना प्रमुख ने यह सिद्ध कर दिया कि राष्ट्रभक्ति का जज्बा सेवादल में कुटकुट कर भरा हुआ है। सेवादल पैदल सैनिकों के सम्मान समारोह के अवसर पर राजस्थान सरकार के कई मंत्रियों ने हिस्सा लिया। जिसमें प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा सहित रामलाल जाट, शकुंतला रावत, लालचंद कटारिया, ममता भूपेश, धर्मेन्द्र राठौड़, पवन गोदारा भी शामिल थे। कार्यक्रम का संचालन विधायक व सेवादल के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष बाबूलाल नागर ने किया।

सभी पद यात्रियों को प्रतिक चिह्न, शाल, सूत की माला, दुपट्टा व साफा पहनाकर भव्य स्वागत किया गया। ज्ञात रहे की बीकानेर से शहर सेवादल अध्यक्ष अनिल व्यास के नेतृत्व व प्रदेश उपाध्यक्ष कमल कल्ला के सान्निध्य में दो बसें जिसमें ७५ सेवादल के कार्यकर्ता थे जो शनिवार को अजमेर पहुंचे थे एवं गौरव यात्रा में सम्मलित होकर अजमेर से दुदु तक की लगभग ६० किमी पद यात्रा की। वहीं दुदु पहुंचने पर यात्रियों का एक समारोह पूर्वक आयोजन में भव्य स्वागत किया गया। जिसके लगभग १५ हजार लोग साक्षी बनें।

इस उपलक्ष्य पर उपस्थित सभी मंत्रियों ने अपनी बात रखते हुए सेवादल के महत्व व उसके गौरान्वित इतिहास पर प्रकाश डालते हुए कहा कि यह वहीं सेवादल है जिसके प्रथम राष्ट्रीय अध्यक्ष पं. जवाहर लाल नेहरू हुए जोकि आगे चलकर देश के प्रधानमंत्री बने। सेवादल लगातार आजादी के पूर्व से ही गांधी के बताए हुए रास्ते पर अग्रसर है एवं तिरंगे की आन-बान और शान को बनाए रखने के लिए वचन बद्ध है।

वहीं मंत्रियों के साथ मंच साझा कर रहे सेवादल के प्रदेश उपाध्यक्ष कमल कल्ला ने अपने विचार रखते हुए दोहराया कि सेवादल एक विचार धारा है, यही भारत की आत्मा है। सेवादल का गठन राजनैतिक फायदे के लिए नही किया गया था। सेवादल के सभी साथियों को अब नगर-नगर, गांव-गांव में पदयात्रा निकाल कर गांधी जी के विचार धारा को आमजन तक पहुंचाकर देशभर में फैल रहे वैमनस्य को मिटाकर आपसी सौहाद्र्र पूर्ण महौल बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभानी है। आज के इस दौर में जहां एक ओर लाठी और दुष्प्रचार के दम पर वर्तमान केन्द्र सरकार सत्ता हासिल करने में जुटी है एवं भविष्य में भी अपने आपको स्थापित ही रखने में लगी हुई है, वहीं हमें उनके झूठे तिलस्म को तोड़कर लोगों का जनजागरण करना ही होगा वरना देश रसातल की ओर ले जाने की तैयारी में है।

आजादी गौरव यात्रा का अंतर्गत कांग्रेस सेवादल द्वारा तीन दिवसीय गाँधी चिंतन शिविर में टीम राजस्थान सेवादल ने शिविर से सम्बंधित सम्पूर्ण व्यस्थाओ का शिद्दत से संचालन कर रहा है | सेवादल से प्रदेश उपाध्यक्ष कमल कल्ला ने बताया कि चिंतन शिविर में रजिस्ट्रेशन से लेकर विभिन्न व्यवस्थाओं का निर्वाहन कर रहे है। उन्होंने बताया कि शिविर में इन विषयों पर चिंतन हो रहा है,किसान और खेती,युवा शिक्षा और रोजगार अर्थव्यवस्था, संगठन, राजनीति, सामाजिक न्याय और अधिकारिता। सेवादल के सभी साथी शिविर में अपनी जिम्मेदारी का निर्वाहन कर रहे है।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply