Picsart 22 03 21 20 45 14 257

कल सुबह सुबह इन इलाकों में छूटेंगे पसीने

0
(0)

बीकानेर, 21 मार्च। विद्युत उपकरणों के आवश्यक रखरखाव हेतु मंगलवार को सुबह 7:30 बजे से 10:30 बजे तक विद्युत आपूर्ति बाधित रहेगी। बीकेईएसएल के सहायक अभियंता ने बताया कि मोहतासराय, हाफिज कॉलोनी, राव बीकाजी की टेकरी, गुलजार बस्ती, केसव राव कुआं, ईश्वर आईटीआई, मादीयों की शमशान, छबीली घाटी, लक्ष्मीनाथ मंदिर, लक्ष्मीनाथ पुलिया, लंका, सुराणों का मोहल्ला,भाण्डाशाह जैन मंदिर, गहलोत हास्पिटल, शंकर पान के पास, पी.एन. भवन, खेतेश्वर बस्ती, गोपेश्वर बस्ती, कादानी कॉलोनी, सोलनियां भैरू मंदिर,आचार्यो का चौक, उस्तों की बारी, सुथारों की गुवाड़, उस्तों का मौहल्ला, लौहार कॉलोनी, भैरू मंदिर के पास, आदूजी की बाडी, सुराणा डेयरी के पास, सुराणों का मौहल्ला, उस्ताबारी के बाहर, जुगल भवन के पास, भट्टड़ो का चौक, हरीजन बस्ती, हनूमान मंदिर, श्रीरामसर, हर्षोलाव तालाब, छोटा रानीसर, सुथारों की तलाई, डारा भवन, शीतलागेट के बाहर व अन्दर, ताजिया चौकी आदि क्षेत्रों में विद्युत आपूर्ति बाधित रहेगी।

पोस मशीन से हो खाद्य सामग्री का वितरण-जिला कलक्टर
ड्रोपआउट विद्यार्थियों का सर्वे कर, दिलाएं विद्यालयों में प्रवेश
बीकानेर, 21 मार्च। जिला कलक्टर भगवती प्रसाद कलाल ने उचित मूल्य दुकानों द्वारा खाद्य सामग्री पोस मशीन से ही वितरित करने के निर्देश दिए और कहा कि उपभोक्ताओं को वितरित खाद्य सामग्री की पर्ची भी दी जाए।
जिला कलक्टर सोमवार को कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी को आगामी सत्र के प्रवेशोत्सव के दौरान ड्रोपआउट विद्यार्थियों का सर्वे करवाने और इन विद्यार्थियों को विद्यालयों में प्रवेश दिलवाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि बेहतर पोषण के लिए विद्यार्थी क्या, कब और कितना खाएं, इसकी जानकारी स्कूलों में दी जाए। साथ ही मुख्यमंत्री चिंरजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के बारे में भी बताया जाए। अनाथ और विधवा माता के बच्चों का सर्वे करवाया जाए, जिससे इन्हें विभिन्न सरकारी योजनाओं का लाभ दिलाने में आसानी हो।
जिला कलक्टर ने सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग की योजनाओं की समीक्षा के दौरान ऑनलाइन स्वीकृत पेंशन मामलों का सत्यापन करने के निर्देश दिए। महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा संचालित आंगनबाड़ी केन्द्र के रिक्त पदों की जानकारी ली और इन्हें भरने की कार्यवाही प्राथमिकता से करने के निर्देश दिए।
पट्टा विहीन पशु उप स्वास्थ्य केन्द्रों की सूची संबंधित उपखण्ड अधिकारी को देने के निर्देश दिए, जिससे नियमानुसार पट्टे जारी किए जा सके। उन्होंने पशु चिकित्सालयों में दवाओं की उपलब्धता व मोबाइल यूनिट की जानकारी ली। जिन गांवों में पशु सब सेन्टर नहीं है, उनमें मोबाइल यूनिट भेजकर पशुओं का उपचार करने के निर्देश दिए। मोबाइल यूनिट के भ्रमण कार्यक्रम की जानकारी संबंधित ग्राम पंचायत के सरपंच और अन्य जनप्रतिनिधियों को दें, जिससे ज्यादा से ज्यादा पशुपालक लाभान्वित हो सकें।

बैठक में सहकारिता, श्रम, सांख्यिकी एवं आयोजना विभाग के कार्यों की भी समीक्षा करते हुए उन्होंने आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। इस दौरान अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) बलदेवराम धोजक, महिला एवं बाल विकास विभाग की उपनिदेशक शारदा चौधरी, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के उपनिदेशक एल.डी. पंवार, जिला उद्योग केंद्र की महाप्रबंधक मंजू नैण गोदारा, सहायक निदेशक कृषि राम किशोर मेहरा आदि मौजूद रहे।

कम्प्यूटर टंकण गति परीक्षा 10 अप्रैल को
बीकानेर, 21 मार्च। मृत राज्य कर्मचारियों के आश्रित के रूप में अनुकम्पात्मक नियुक्ति प्राप्त कनिष्ठ सहायक, जिन्होंने माह अगस्त से नवम्बर 2021के दौरान आवेदन प्रस्तुत किया है, उनकी हिन्दी/अंग्रेजी कम्प्यूटर टंकण गति परीक्षा 10 अप्रैल को प्रातः 10.30 बजे से गंगाथियेटर के पास स्थित राजीव गांधी सेवा केन्द्र में आयोजित की जाएगी। परीक्षा आयोजन समिति के अध्यक्ष एवं अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) बलदेव राम धोजक ने बताया कि सभी संबंधित अभ्यर्थी 6 अप्रैल से अपने प्रवेश पत्र कार्यालय जिला कलक्टर बीकानेर की स्थापना शाखा (कमरा नं. 13) से कार्यालय समय में प्राप्त कर सकेंगे। टंकण परीक्षा कम्प्यूटर पर ही आयोजित होगी तथा अभ्यर्थी अपने साथ स्वयं का की-बोर्ड ला सकेंगे।

बैंक ऑफ इंडिया द्वारा ‘कस्टमर आउटरीच प्रोग्राम एवं डॉक्टर्स मीट’ का हुआ आयोजन
बीकानेर, 21 मार्च। आज़ादी का अमृत महोत्सव के अंतर्गत बैंक ऑफ इंडिया द्वारा सोमवार को कस्टमर आउटरीच प्रोग्राम तथा डॉक्टर्स मीट का आयोजन क्षेत्रीय कार्यालय में हुआ।
आंचलिक प्रबन्धक वैभव आनंद ने बताया कि बैंक ऑफ़ इंडिया द्वारा क्षेत्रीय कार्यालय में 39 केंद्रों पर एक साथ श्रीगंगानगर , हनुमानगढ़ , सीकर, झुन्झुनू एवं अलवर सेन्टर पर भी इसी तरह के कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं।
क्षेत्र प्रबंधक डॉ. भँवरलाल हर्ष ने कहा कि बैंक देश की आर्थिक प्रगति का इंजन है। बैंक से ग्राहक अपनी आवश्यकता के अनुरूप ऋण लेकर समृद्ध बनें एवं समय पर ऋण का भुगतान करके अपनी अच्छी शाख बनाएं।
हर्ष ने बताया कि बीकानेर क्षेत्र कार्यालय के अंतर्गत आने वाली सभी 39 शाखाओं द्वारा आउटरीच प्रोग्राम के दौरान किसानों को 2 करोड़ 80 लाख, व्यवसाइयों को 2 करोड़ 18 लाख, आवास एवं वाहन ऋण के रूप में 2 करोड़ 65 लाख रुपए स्वीकृत कर वितरित किए गए । इस प्रकार कुल मिलाकर 7 करोड़ 92 लाख रु के ऋण स्वीकृत कर संवितरित किए गए । बीकानेर शहर स्थित शाखाओं द्वारा बैंक की आवास, वाहन, लघु एवं मध्यम इकाइयों एवं कृषि क्षेत्र में 2 करोड़ 75 लाख रुपए के ऋण स्वीकृत एवं 85 लाख रुपए के ऋण मौके पर ही वितरित किये गये I
इस अवसर पर डॉ.हर्ष ने कोरोना काल के दौरान डॉक्टर्स द्वारा समाज को प्रदान की गई सेवाओं के लिए डॉक्टर्स का आभार व्यक्त किया गया।
कार्यक्रम एवं डॉक्टर्स मीट मे एसएमईयूसी शाखा के वरिष्ठ प्रबन्धक सुरेश कुमार द्वारा, लोकेश सोलंकी, गौरव चावला और संदीप काला द्वारा विभिन्न ऋण के बारे में जानकारी दी।
कार्यक्रम मे बैंक ऑफ इंडिया के कार्यपालक निदेशक एम कार्तिकेयन , एनबीजी नॉर्थ –1 के महाप्रबन्धक अरुण कुमार जैन ,आंचलिक प्रबन्धक वैभव आनंद भी वर्चुअल मीटिंग के जरिए मौजूद रहे।
डॉक्टर्स मीट में डॉ सी एस मोदी , डॉ अबरार अहमद, डॉ रजनीश शर्मा , डॉ मुकेश राघव , डॉ जितेंद्र आचार्य , डॉ राजीव नारायण पुरोहित, डॉ डी पी श्रीमाली , डॉ सुनील हर्ष , डॉ अच्युत त्रिवेदी, डॉ मनोहर सैन, डॉ मीनाली जैन , डॉ ऋतु आदि उपस्थित रहेI वरिष्ठ प्रबंधक डॉ विष्णु कुमार गोयल ने धन्यवाद ज्ञापित किया।

इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना
अब तक 404 को मिला ऋण, चौथे स्थान पर पहुंचा जिला
बीकानेर, 21 मार्च। इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना के तहत ऋण स्वीकृति और राशि हस्तांतरण की धीमी प्रगति को जिला कलक्टर ने गंभीरता से लिया और सभी बैंकर्स को आगामी दस दिनों में स्थिति सुधारने के निर्देश दिए।
जिला कलक्टर ने सोमवार को विभिन्न सरकारी ऋण योजनाओं की प्रगति समीक्षा बैठक के दौरान यह निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना के तहत मार्च के पहले सप्ताह तक सिर्फ 101 लाभार्थियों को राशि हस्तांतरित की गई। इसके बाद नियमित समीक्षा के कारण अब तक 404 लोगों को राशि मिल सकी है। सर्वाधिक राशि हस्तांतरण के मामले में जयपुर, अजमेर और सीकर के बाद बीकानेर चौथे स्थान पर पहुंच गया है।
यह है स्थिति
जिले में इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना के तहत 20 हजार 147 के लक्ष्य के विरूद्ध 11 हजार 362 आवेदन प्राप्त हुए। विभिन्न बैंकों द्वारा अब तक सिर्फ 402 प्रकरणों में ही राशि लाभार्थी के खाते में हस्तांतरित करते हुए इसकी सूचना पोर्टल पर ऑनलाइन की है। जबकि 8 हजार 297 आवेदन बैंकों के पास लंबित हैं। अब तक एसबीआई द्वारा 315, बैंक ऑफ बड़ौदा द्वारा 16, केनरा बैंक द्वारा 2, पीएनबी द्वारा 4 तथा यूको बैंक द्वारा सिर्फ दस लाभार्थियों को बैंक राशि हस्तांतरित की गई है। उन्होंने सख्त हिदायत देते हुए कहा कि आवेदन बेवजह रिजेक्ट नहीं किए जाएं। सभी रिजेक्ट आवेदनों की जांच करवाई जाएगी।
इस दौरान मुख्यमंत्री लघु उद्यम प्रोत्साहन योजना, इंदिरा महिला शक्ति उद्यम प्रोत्साहन योजना, अनुजा निगम की पोप एवं सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग की विशेष योग्यजन स्वरोजगार योजना सहित विभिन्न योजनाओं की समीक्षा की गई। जिला कलक्टर ने राजस्थान मरूधर ग्रामीण बैंक की प्रगति पर संतोष जताया।
बैठक में एसबीआई के सहायक महाप्रबंधक अनिल सहाय, हरीश राजपाल, पीएनबी के सर्किल हैड कृष्ण कुमार, मरूधरा ग्रामीण बैंक कें अतुल सरदाना, लीड बैंक प्रबंधन एमएमएल पुरोहित, जिला उद्योग केन्द्र की महाप्रबंधक मंजू नैण गोदारा, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के उपनिदेशक एलडी पंवार, महिला अधिकारिता के सतीष पड़िहार आदि मौजूद रहे।
अस्वीकार नहीं किए जाएं सिक्के
जिला कलक्टर ने कहा कि जिले के दुकानदारों द्वारा भुगतान के दौरान ग्राहकों से सिक्के स्वीकार नहीं किए जाने संबंधी शिकायतें प्राप्त हो रही हैं। इससे आमजन को परेशानी का सामना करना पड़ता है। उन्होंने कहा की बैंकर्स द्वारा इस दिशा में नियमानुसार कार्यवाही की जाए। अग्रणी जिला प्रबंधक ने बताया कि भारतीय कोइन एक्ट के तहत भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा जारी सिक्के, विधि मान्य मुद्रा है। इसे अस्वीकार नहीं किया जा सकता। ऐसा किए जाने पर संबंधित के विरूद्ध कार्यवाही अमल में लाई जा सकती है।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply