TID-Logo

बीकानेर बनेगा डोर टू डोर कोविड टीकाकरण सेवा देने वाला देश का पहला शहर
45 प्लस आयुवर्ग को मिलेगा लाभ

0
(0)

मंगल टीका आपके द्वार

बीकानेर, 13 जून। बीकानेर कोविड टीकाकरण सेवा को डोर टू डोर पहुंचाने वाला देश का पहला शहर बनने जा रहा है। बीकानेर में यह सेवा जिला कलेक्टर नमित मेहता की पहल पर सोमवार से शुरू होने जा रही है। केवल 45 प्लस आयु वर्ग को पहली डोज के लिए प्रातः 8 से शाम 6 बजे तक डोर टू डोर टीकाकरण का यह कार्य चलेगा। इसके लिए कोई भी शहरवासी संदर्भित समय के दौरान स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी हेल्पलाइन लैंडलाइन नंबर अथवा मोबाइल नंबर पर संपर्क करके टीकाकरण हेतु स्लॉट बुक करवा सकता है बशर्ते कम से कम 10 व्यक्ति अथवा 10 के गुणक में व्यक्ति पहली डोज टीकाकरण के लिए तैयार हो। उपलब्धता अनुसार कोविशील्ड अथवा को-वैक्सीन द्वारा टीकाकरण किया जाएगा। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ ओपी चाहर ने बताया कि इस सेवा से निश्चय ही उन लोगों को लाभ मिलेगा जो वृद्धावस्था अथवा अन्य अक्षमता के कारण टीकाकरण नहीं करवा पा रहे थे। साथ ही घर के पास टीकाकरण होने से अन्य लाभार्थी भी टीकाकरण के लिए प्रेरित होंगे।
घर पर ही टीका कैसे लगवाएं ?
आरसीएचओ डॉ राजेश कुमार गुप्ता ने बताया कि किसी बीकानेर शहरी क्षेत्र में यदि 45 प्लस आयु वर्ग में पहली डोज के लिए टीकाकरण के इच्छुक 10 के गुणक में व्यक्ति मौजूद हैं तो उनमें से कोई भी एक व्यक्ति विभाग की हेल्पलाइन लैंडलाइन नंबर 0151-2204989 अथवा व्हाट्सएप नंबर 8209492164 पर सूचित करके निर्धारित प्रारूप भर कर आवेदन कर सकता है। आवेदन में लाभार्थियों के नाम, आयु, आधार संख्या, मोबाइल नंबर व पता संबंधी जानकारी देनी होगी।

कैसे संचालित होगी सेवा
डॉ चाहर ने जानकारी दी कि सेवा संचालन के लिए सीएमएचओ कंट्रोल रूम में प्रातः 8:00 से दोपहर 1:00 बजे तथा दोपहर 1:00 से शाम 6:00 बजे तक के लिए अलग-अलग टीमें बनाई गई है। डॉ अमित गोठवाल व डॉ पुष्पेंद्र सिंह तथा नर्सिंग ट्यूटर अनुपम पारीक व अजय भाटी के नेतृत्व में चार वैक्सीनेटर तथा चार वेरीफायर की ड्यूटी लगाई गई है।
डॉ गुप्ता ने बताया कि प्रभावी एईएफआई मॉनिटरिंग के लिए अंतिम वैक्सीन लगाने के आधे घंटे तक टीम उसी स्थान पर रुकेगी तथा प्रत्येक वैक्सीनेशन ड्राइव से पहले उस क्षेत्र से संबंधित शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी को सूचित भी किया जाएगा। डोर टू डोर टीकाकरण के बावजूद वैक्सीनेशन से संबंधित समस्त स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर की पालना की जाएगी।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply