TID-Logo

सार्वजनिक स्थान पर पशु अपशिष्ट (कचरा) डाले तो होगी एफआईआर, निगम आयुक्त ए एच गौरी ने जारी किया सार्वजनिक नोटिस

0
(0)

बीकानेर, 15 मार्च। बीकानेर नगरीय में क्षेत्र में अवैध डेयरियों से निकलने वाले अपशिष्ट पदार्थ जैसे पशुओं का गोबर, कचरा, मल मूत्र आदि सार्वजनिक सड़क या अन्य स्थानों पर डाले जाने पर नगर निगम द्वारा सम्बंधित डेयरी संचालक के विरूद्ध आपराधिक प्रकरण दर्ज करवाया जाएगा।
निगम आयुक्त ए एच गौरी ने बताया कि राजस्थान नगरपालिका अधिनियम 2009 और नगर निगम बीकानेर द्वारा दिए गए निर्देशों के तहत इस तरह की समस्त गतिविधियां प्रतिबंधित की गई है। आयुक्त नगर निगम ने बताया कि यदि किसी व्यक्ति द्वारा नगरीय क्षेत्र में गायों और पशुओं को सार्वजनिक मार्ग या स्थान पर खुला छोड़ा गया अथवा इन डेयरियों से निकलने वाले अपशिष्ट गोबर, कचरा, मल मूत्र आदि को सार्वजनिक सड़कों , नाली या अन्य स्थानों पर डालते हुए पाया गया तो ऐसे अवैध डेयरी संचालकों के विरुद्ध आपराधिक प्रकरण दर्ज करवाते हुए दांडिक कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। साथ ही सफाई और ड्रेनेज व्यवस्था को हुए नुकसान की भरपाई के लिए निगम द्वारा इस संबंध में संबंधित से अतिरिक्त व्यय की राशि कर के रूप में वसूल की जाने की कार्रवाई भी की जाएगी।
राजस्थान नगरपालिका अधि 2009 के तहत अपराध की श्रेणी में शामिल निगम आयुक्त ने बताया कि बार-बार हिदायत के बावजूद अवैध डेयरी संचालकों द्वारा गोबर , कचरा आदि सड़क पर डाले जाने और पशुओं को खुला छोड़े जाने की शिकायतें मिल रही हैं। ऐसी समस्त गतिविधियां राजस्थान नगरपालिका अधिनियम 2009 की धारा 232, 233, 248, 251, 267(1)(ग) एवं विभिन्न धाराओं के तहत दंडनीय अपराध की श्रेणी में आता है। ऐसा पाए जाने पर नियमानुसार सख्त कार्यवाही की जाएगी।

वरिष्ठ महिलाओं में कोरोना वैक्सीनेशन जागरूकता के लिए कार्यशाला आयोजित
बीकानेर, 15 मार्च। कोरोना वैक्सीनेशन के प्रति वरिष्ठ महिलाओं को जागरूक करने के लिए महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा सोमवार को एक कार्यशाला आयोजित की गई।
पंचायत समिति हॉल में आयोजित हुई कार्यशाला में उपखंड अधिकारी बीकानेर मीनू वर्मा ने कहा कि वरिष्ठ नागरिकों की सुरक्षा में वैक्सीन सबसे जरूरी है। सभी वरिष्ठ महिलाएं बीमारी की गंभीरता को समझें और किसी प्रकार की लापरवाही ना बरतें और पंजीकरण करवाते हुए वैक्सीन लगवाएं। कार्यशाला में डाॅ अनिल वर्मा ने कहा कि कोरोना से जंग जीतने में वैक्सीन की अहम भूमिका रहेगी। बुजुर्ग लोगों को इस बीमारी से गंभीर खतरे के मददेनजर सरकार ने 60 वर्ष से अधिक आयु की महिलाओं को प्राथमिकता से वैक्सीनेश का अवसर दिया है। वरिष्ठ महिलाएं वैक्सीन के सम्बंध में कोई भ्रांति ना रखे। वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है। डाॅ वर्मा ने वैक्सीन से सम्बंधित महत्वपूर्ण जानकारियां दी। निर्मला दुबे, विजय सिंह राठौड़ ने भी इस संबंध में आगे बढ़कर कार्य करने के लिए सभी मानदेय कर्मियों को धन्यवाद दिया और आगे भी कार्य करने के लिए प्रेरित किया।

पीडब्लूडी अधिकारियों हेतु एक दिवसीय सेवोतम प्रशिक्षण आयोजित
बीकानेर, 15 मार्च। भारत सरकार कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग कार्मिक, लोक शिकायत और पेंशन मंत्रालय नई दिल्ली के तत्वावधान में हरिश्चन्द्र माथुर राजस्थान राज्य लोक प्रशासन संस्थान, बीकानेर द्वारा जिले के सार्वजनिक एवं निर्माण विभाग के अधिकारियों हेतु एक दिवसीय सेवोत्तम पर कार्यशाला का आयोजन सार्वजनिक निर्माण विभाग के सभागार कक्ष में किया गया। प्रशिक्षण में अतिरिक्त मुख्य अभियन्ता सुधीर माथुर, मुख्य लेखाधिकारी पुष्पांजली श्रीमाली, अधिक्षण अभियंता मुकेश गुप्ता, बसन्त आचार्य एवं अधिषाषी अभियंता सुनील गहलोत, मोतीराम, लिलाधर खत्री, जेपी अरोडा एवं सहायक अभियंता चंद्रप्रकाश बोहरा, शिल्पा कच्छावा के साथ-साथ विभाग के अन्य कर्मचारियों सहित कुल 34 सम्भागी उपस्थित रहें।
सुधीर माथुर, अतिरिक्त मुख्य अभियन्ता द्वारा उद्घाटन समारोह में सिटीजन चार्टर एवं सेवोत्तम पर प्रकाश डालने के साथ-साथ बताया कि सेवोत्तम के माध्यम से राजकीय कार्य प्रणाली पर सुधार किया जा सकता है। ह.च.मा. रीपा के अतिरिक्त निदेशक एवं पाठयक्रम निदेशक योगिता गोयल एवं अतिरिक्त निदेशक शिशिर चर्तुवेदी ने प्रशिक्षण का शुभारम्भ करते हुये प्रशिक्षण के माड्युल, सिटीजन चार्टर, लोक सेवा गारंटी, सूचना का अधिकार पर सम्भागियों से संवाद किया।
प्रशिक्षण में व्याख्यान हेतु शिक्षा विभाग के सेवानिवृत्त अजय चैपड़ा संयुक्त निदेशक द्वारा सेवोत्तम, सिटीजन चार्टर, सूचना का अधिकार विषयों पर जानकारी प्रदान की गई। सूचना प्रौद्योगिकी एवं संचार विभाग नोखा के प्रोग्रामर प्रभात कुमार बारूपाल द्वारा राजकीय कार्य हेतु सम्पर्क पोर्टल की जानकारी प्रदान की गई।
ह.च.मा. रीपा बीकानेर के सूचना सहायक मो. अजीज, वरिष्ठ सहायक राम सिंह कोली एवं नवीन जलुथरिया द्वारा प्रशिक्षणर्थियों का पंजीयन करने के साथ-साथ प्रशिक्षण कार्यो हेतु सहयोग किया गया। समापन समारोह मे उद्बोधन करते हुए शिशिर चतुर्वेदी ने प्रसन्नता व्यक्त की कि सभी सम्भागियों की प्रशिक्षण में सक्रिय सहभागिता रही।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply