IMG 20210314 WA0085

बीकानेर की समृद्ध संस्कृति से परिचित करवाकर सम्पन्न हुआ रम्मत महोत्सव

0
(0)

बीकानेर। महाराजा गंगासिंह विश्वविद्यालय, बीकानेर एवं कला साहित्य संस्कृति विभाग राजस्थान सरकार के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित तीन दिवसीय रम्मत समारोह के तीसरे दिन हेडाउ मेहरी रम्मत जो मरुनायक चैक बीकानेर में आयोजित होती है उसका मंचन रम्मत के उस्ताद अजय कुमार देराश्री के नेतृृत्व में किया गया। इस रम्मत मेें मुख्य रुप से घेवर चंद भादाणी, ताराचंद जोशी, कुशालचंद पुरोहित आदि कलाकारों ने अपनी कला का प्रदर्शन कर रम्मत का मंचन किया। वहीं सुनारों की गुवाड में मंचित होने वाली स्वांग मेहरी का मंचन रम्मत के उस्ताद लक्ष्मीनारायण सोनी के नेतृत्व में किया गया। इसमें मुख्य रुप से गौरीशंकर सोनी, विजय शंकर सोनी, सेवाराम सोनी आदि कलाकारों ने अपनी कला का प्रदर्शन किया। रम्मत महोत्सव में तीसरी रम्मत के भट्टड़ों के चौक में स्वांग मेहरी रम्मत का मंचन रम्मत के उस्माद भंवरलाल पुरोहित के नेतृत्व में किया गया । इसमें मुख्य रुप से नवलकिशोर, रविशंकर , सुशील भादाणी आदि ने किया। रम्मत महोत्सव में चौथी रम्मत के रुप में बारहगुवाड चौक में मंचित होने वाली हेडाउ मेंहरी रम्मत का मंचन रम्मत के उस्ताद शिवशंकर पुरोहित के नेतृत्व में किया गया। इसमें मुख्य रुप से भेरवरत्न पुरोहित, राजकुमार रंगा, रामकुमार पुरोहित आदि कलाकारो ने किया। समापन समारोह में मुख्य अतिथि के रुप में अर्जुनराम मेघवाल केन्द्रीय मंत्री भारत सरकार वर्चुअल माध्यम से उपस्थित रहे। उन्होंने विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित रम्मत महोत्सव की प्रशंसा करते हुए कहा कि विश्वविद्यालय ने स्थानीय संस्कृति को जीवित रखने के लिए एक अनूठा प्रयास किया है। उन्होंने कहा कि बीकानेर में रम्मतों का एक गौरवमय इतिहास रहा है, वर्तमान समय में पाश्चात्य संस्कृति के हावी होने के कारण युवा पीढी इन कार्यक्रमों से दूर होती जा रही है। उन्होंने समस्त कलाकारों का आह्नान किया कि वे बीकानेर की इस महान परम्परा को अपना महत्वपूर्ण योगदान दे। कार्यक्रम में विश्वविद्यालय कुलपति प्रो. विनोद कुमार सिंह ने स्वागत भाषण दिया। आयोजन सचिव डाॅ बिठ्ठल बिस्सा ने विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित तीन दिवसीय कार्यक्रमों की विस्सृत रुप प्रस्तुत की। समापन समारोह में विश्वविद्यालय एवं कला साहित्य व सस्कृति विभाग राजस्थान सरकार द्वारा सभी कलाकारों को स्मृति चिन्ह एवं प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया। कार्यक्रम में विश्वविद्यालय के कुलसचिव संजय धवन, प्रो. एस.के. अग्रवाल, प्रो. अनिल कुमार छंगाणी, प्रो. राजाराम चोयल, परीक्षा नियत्रंक डाॅ जे.एस. खीचड समस्त कर्मचारी एवं शिक्षक उपस्थित रहे।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply