IMG 20210127 WA0011

एसकेआरएयूः कुलपति ने किया मशरूम उत्पादन इकाई का उद्घाटन, एन्तरप्रेन्योर्स के लिए लाभदायक होगी साबित

Contents

0
(0)

– किसानों की आय बढ़ाने की दृष्टि से उपयोगी है इकाई-प्रो. सिंह

बीकानेर, 27 जनवरी। स्वामी केशवानंद राजस्थान कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. आर. पी. सिंह ने बुधवार को कृषि महाविद्यालय के पादप व्याधि विज्ञान विभाग द्वारा स्थापित मशरूम उत्पादन इकाई का उद्घाटन किया। इस दौरान कुलपति ने कहा कि मशरूम की खेती किसानों की आय बढ़ाने में महत्वपूर्ण योगदान दे रही है तथा छोटे किसानों एवं गृहणियों के लिए उपयुक्त व्यवसाय साबित होने लगा है। इसमें पोषक तत्वों की अधिकता है, जो कि स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से बेहद लाभदायक होती है। उन्होंने कहा कि महाविद्यालय द्वारा मशरूम इकाई स्थापित किए जाने से किसानों को मशरूम के स्पाॅन (बीज) भी आसानी से उपलब्ध हो सकेंगे। विद्यार्थियों और एन्तरप्रेन्योर्स के लिए भी यह लाभदायक साबित होंगी। साथ ही यहां नियमित प्रशिक्षण भी दिए जाएंगे। उन्होंने मशरूम उत्पादन कक्ष, मशरूम बीजाई व कम्पोस्ट इकाई का अवलोकन किया। इकाई प्रभारी डाॅ. दाताराम ने बताया कि इकाई में ढींगरी मशरूम की फ्लोरिडा, आयस्टर, पिंक आयस्टर और सजोरकाजू आयस्टर किस्मों के 160 बैग लगाए गए हैं। लगभग 25 दिन बाद इनमें उत्पादन शुरू हो जाएगा। ढींगरी मशरूम सुगंधित, मुलायम और पोषक तत्वों से भरपूर होता है। यह शाकाहारी लोगों के लिए उपयोगी है। इसकी सब्जी तथा पकोड़े आदि बनाए जाते हैं। यह मोटापा, मधुमेह, रक्तचाप तथा हृदय रोगियों के लिए लाभदायक होता है। इस दौरान कृषि महाविद्यालय के अधिष्ठाता डाॅ. आई. पी. सिंह, विशेषाधिकारी इंजी. विपिन लढ्ढा, डाॅ. अशोक मीणा, डाॅ. अर्जुन यादव सहित डीन-डायरेक्टर आदि मौजूद रहे।

एसकेआरएयू में मनाया गणतंत्र दिवस, कुलपति ने किया ध्वजारोहण

बीकानेर, 27 जनवरी। स्वामी केशवानन्द राजस्थान कृषि विश्वविद्यालय में 72वां गणतंत्र दिवस समारोह मंगलवार को परम्परागत तरीके से मनाया गया। कुलपति प्रो. आर. पी. सिंह ने ध्वजारोहण किया तथा सुरक्षा प्रहरियों के मार्चपास्ट की सलामी ली। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि यह दिन स्वत्रंत भारत के गणतांत्रिक परिवेश का अहसास करवाने वाला पवित्र दिन है। हमें संविधान निर्माताओं के प्रति कृतज्ञ होना चाहिए। उन्होंने विश्वविद्यालय की विभिन्न उपलब्धियों के बारे में बताया। कुलपति ने कहा कि सतत प्रयासों से विश्वविद्यालय ने उल्लेखनीय उपलब्धियां हासिल की हैं। सभी कार्मिक इस ऊर्जा को बरकरार रखें। इस दौरान कुलसचिव कपूर शंकर मान, वित्त नियंत्रक बी एल सर्वा, छात्र कल्याण निदेशक डॉ. वीर सिंह, विशेषाधिकारी इंजी. विपिन लढ्ढा मौजूद रहे। संचालन डॉ. बृजेन्द्र त्रिपाठी ने किया।

एसकेआरएयूः कुलपति ने किया मैन्युअल का विमोचन

बीकानेर, 27 जनवरी। स्वामी केशवानंद राजस्थान कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. आर. पी. सिंह ने डाॅ. पी. के. यादव और डाॅ. आर. के. नरोलिया द्वारा तैयार ‘फंडामेंटल ऑफ हॉर्टिकल्चर’ मैन्युअल का विमोचन किया गया। डॉ पी के यादव ने बताया कि इस मैन्युअल को भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद नई दिल्ली की पांचवीं डीन कमेटी द्वारा अनुमोदित पाठ्यक्रम की सिफारिश अनुसार तैयार किया गया है। डाॅ. नारोलिया ने बताया कि मैन्युअल में बागवानी से समन्धित विषय के मौलिक तथ्यों जैसे कि बागवानी में उपयोग होने वाले औजारों, पौधों के नाम व उनकी पहचान, कटाई-छटाई व खाद देने के तरीके और उनकी मात्रा की गणना, पौधों के प्रसारण की विधियां आदि से संबंधित जानकारी संकलित की गई है। यह मैन्युअल स्नातक कृषि प्रथम वर्ष के विद्यार्थियों के लिए तैयार किया गया है। इसका फायदा कृषि के सभी विद्यार्थियों को होगा। इस दौरान प्रसार शिक्षा निदेशक डाॅ. एस. के. शर्मा और कृषि महाविद्यालय के अधिष्ठाता डाॅ. आई. पी. सिंह मौजूद

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply