महाराजा गंगासिंह विवि की ओर से नाल गांव में सेनेटाइजर मास्क का वितरण, गांव को किया सेनेटाइज

0
(0)

✍ नवरतन सोनी ✍

नाल 16 सितम्बर। राज्यपाल के निर्देश पर नाल बड़ी गांव को महाराजा गंगासिंह विश्वविद्यालय ने गोद ले रखा है। बुधवार को नाल पंचायत भवन में विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर विनोद कुमार सिंह के मुख्य आतिथ्य में मीटिंग का आयोजन कर विश्वविद्यालय की तरफ से ग्रामीणों को सोशल डिस्टेंसिंग रखते हुए मास्क,सेनेटाइज, हाथ धोने के लिए साबुन का वितरण किया गया व ट्रेक्टर से गांव में सोडियम हाइपो क्लोराइड का छिड़काव किया गया। इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि नाल सिविल एयरपोर्ट के अधिकारी राधेश्याम मीणा थे। अध्यक्षता नाल ग्रामविकास अधिकारी अनिल कुमार मेघवाल ने की व स्वागताध्यक्ष पूर्व वार्ड पंच ओमप्रकाश सोनी थे। इस अवसर पर अपने सम्बोधन में कुलपति विनोद कुमार सिंह ने कहा कि जब तक कोरोना बीमारी का उपचार नहीं आता है तब तक बचाव ही उपचार है। ग्रामवासी जब भी बाहर निकले मास्क पहन कर निकले, हाथ धोते रहे तथा एक दूसरे से 2 गज दूरी रख कर बाहर के कार्य करने जाएं। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय नाल गांव के विकास को ओर गति देने के लिए यहां कार्य करेगा जिसमें गांव के लोगो की राय व मंशा के अनुरूप हम यहां कार्य करवाएंगे। विशिष्ट अतिथि राधेश्याम मीणा ने कहा कि विश्वविद्यालय के सहयोग से गांव का सर्वागीण विकास हो सकता है। नोडल अधिकारी डॉ अनिल कुमार दुलार ने उपस्थित ग्रामीणों से आह्वान किया कि वे जल व पर्यावरण संरक्षण के सुझाव हमें दे ताकि हम उन कार्यो को करवा सके। इससे पहले पूर्व वार्ड पंच ओमप्रकाश सोनी ने सभी अतिथियों का स्वागत किया। ग्राम विकास अधिकारी अनिल कुमार मेघवाल ने गांव में करवाए जाने वाले विकास कार्यो का ब्यौरा सभी के सामने प्रस्तुत किया। समाज सेवी दिलीप सिंह व पूर्व सरपंच प्रतिनिधि हनुमानमल सुराणा ने विश्वविद्यालय द्वारा किए जा रहे कार्यों की सराहना की। साथ ही अपना हर सम्भव सहयोगदेने का आश्वासन दिया। इस अवसर पर महाराजा गंगासिंह विवि के कुलपति प्रोफेसर विनोद कुमार सिंह,रजिस्ट्रार डॉ जसवंत सिंह खीचड़, प्रोफेसर अनिल कुमार छंगाणी, नोडल अधिकारी डॉ अनिल कुमार दुलार, डॉ फौजा सिह, डॉ प्रभुदान चारण, संकाय सदस्य डॉ लीला कोर, डॉ ज्योति लखानी, सहायक कुलसचिव डॉ प्रकाश सहारण, डॉ गिरिराज हर्ष, कमलकांत शर्मा सहित नाल थाने के एएसआई जगदीश, समाज सेवी भगवान राम मेघवाल ने कोरोना को लेकर बचाव के उपाय बताए व ग्राम नाल बड़ी के सर्वागीण विकास के बारे में अपने सुझाव दिए। इस अवसर पर पंचायत सहायक भंवर लाल पालीवाल,श्रीमती सन्तोष, पंचायत सहायक दीवान दान ने सक्रिय सहयोग दिया। कुलपति प्रोफेसर सिंह ने अपने हाथों से सोडियम हाइपोक्लोराइड का छिड़काव कर गांव में सेनेटाइजेशन की शुरूआत की। बाद में ट्रैक्टर द्वारा गांव में गलियों व मेन मार्केट में पूरे दिन छिड़काव किया गया।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply