Picsart 23 01 18 16 02 50 790

महापौर ने मौके पर दी नाला निर्माण हेतु 2.50 करोड़ की वित्तीय स्वीकृति

0
(0)

बीकानेर । महापौर सुशीला कँवर राजपुरोहित ने आज पुलिस लाइन से रानीसर बास,विनोबा बस्ती से नगर निगम भण्डार तक नाले का निरिक्षण किया। करीब 11 फीट गहरे इस खुले नाले में कई बड़ी दुर्घटनाएं और आये दिन नाला जाम की शिकायतें प्राप्त होती रही है। वार्ड 67 और वार्ड 69 दो वार्डों से जाने वाले इस नाले के पास सैंकड़ों घर है। जहाँ कई बार बच्चों के गिरने की बड़ी दुर्घटनाएं भी हुई है।

विगत वर्षों में इस नाले के कुछ हिस्से के निर्माण की निविदा जारी की गयी थी| परन्तु ठेकेदार द्वारा कार्य शुरू ही नहीं किया गया। जिसके बाद नगर निगम द्वारा उक्त निविदा को निरस्त कर दिया गया। आज महापौर सुशीला कँवर राजपुरोहित ने पार्षद अनूप गहलोत और पार्षद प्रतिनिधि युनुस अली तथा अधिशाषी अभियंता नजीर गौरी एवं आला अधिकारीयों के साथ मौका निरिक्षण किया। मौके पर मोहल्ले की महिलाओं द्वारा पूर्व में हुई दुर्घटनाओं और नाले की वर्तमान स्थिति के कारण बच्चों की सुरक्षा की दृष्टि से नाले के नव निर्माण की गुहार लगायी। महापौर ने संवेदनशीलता दिखाते हुए मौके पर ही फाइल मंगवा दोनों वार्डों में नाला पुनर्निर्माण हेतु 2.50 करोड़ की वित्तीय स्वीकृति जारी कर दी। महापौर ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि नाले के पुनर्निर्माण के साथ नाले को कवर किया जाए। साथ ही नाले के दोनों तरफ पक्की सड़क का निर्माण किया जाए।

महापौर ने बताया की इस नाले को लेकर कई शिकायतें भी प्राप्त हुई साथ ही कई बार दुर्घटनाएं भी हुई है। इस नाले को बने हुए करीब 40 वर्ष हो चुके हैं। नाले की गहराई ज्यादा होने के कारण बड़ी दुर्घटनाएं भी हुई है और आगे भी हो सकती थी। यहाँ के लोगों एवं बच्चों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए मौके पर ही फाइल मंगवा कर 1.15 करोड़ तथा 1.31 करोड़ की दो निविदाओं की वित्तीय स्वीकृति जारी कर दी गयी है। नाले के पुनर्निर्माण से सैंकड़ों लोगो की सुरक्षा व्यवस्था के साथ वर्षों पुरानी नाला जाम और ओवरफ्लो की समस्या से स्थाई रूप से निजात मिल सकेगी।

पार्षद अनूप गहलोत ने बताया की वार्डवासियों की लम्बे समय से मांग थी और आज महापौर सुशीला कंवर राजपुरोहित ने मौके पर आकर निरिक्षण करते हुए यहीं सब लोगों के बीच ही फाइल साइन कर दी। इस नाले के निर्माण से हजारों लोगों की सुरक्षा पर बना खतरा टल सकेगा साथ ही लगभग 40 वर्षों की नाला जाम और ओवरफ्लो की समस्या से भी छुटकारा मिलेगा।

पार्षद प्रतिनिधि युनुस अली ने कहा कि दोनों वार्डों की हजारों जनता की ओर से हम महापौर का धन्यवाद करते हैं कि वर्षों से जो जनता नगर निगम के चक्कर निकाल रही रही थी, आज महापौर ने खुद मौके पर आकर इस नाला निर्माण की स्वीकृति जारी कर दी। इससे वार्डवासियों को भारी राहत मिलेगी।
गौरतलब है की इससे पहले महापौर नगर निगम भंडार की दीवार पीछे करने और चौखूंटी पुलिया के पास नाला / नाली निर्माण हेतु 28 लाख की निविदाएँ जारी कर चुकी है। कमोबेश इन सभी कार्यों से चौखूंटी पुलिया, विनोबा बस्ती, रानीसर बॉस, रानीसर कुआ, वाल्मीकि बस्ती, रोशनीघर चौराहा, कमला कॉलोनी और पुलिस लाइन क्षेत्र के हजारों लोगों को राहत मिलेगी।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply