IMG 20211225 WA0020

ईसीबी में खेलों के महाकुंभ ‘आह्वान’ का समापन, 400 से अधिक स्वर्ण, रजत व कांस्य पदक वितरित

0
(0)

– 1000 से ज्यादा खिलाडियों की रही भागीदारी*
– कंप्यूटर साइंस विभाग ने 22 स्वर्ण पदक जीत हासिल की इंस्टिट्यूट स्पोर्ट्स ट्राफी

बीकानेर। इंजीनियरिंग कॉलेबीकानेर (ईसीबी) में पांच दिवसीय वार्षिक स्पोर्ट्स इवेंट ‘आह्वान’ का समापन पूर्व सेवानिवृत आईपीएस मदनगोपाल मेघवाल के मुख्य आतिथ्य में हुआ । मेघवाल ने समापन समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि खेल प्रतियोगिता से विद्यार्थियों में प्रतिस्पर्धा व सकारात्मकता का विकास होता है । प्राचार्य डॉ. जयप्रकाश भामू ने कहा कि खेलों में रुचि, हमें जीवन में कठिन परिस्थितियों का सामना करने और शरीर और मस्तिष्क को तनाव रहित बनाने में मदद करती है। ।

IMG 20211225 WA0017

कंप्यूटर साइंस विभाग ने जीती इंस्टिट्यूट स्पोर्ट्स ट्राफी
कार्यक्रम समन्वयक डॉ. देवेन्द्र गहलोत व डॉ. राकेश पूनिया ने बताया कि ईसीबी के कंप्यूटर साइंस विभाग के खिलाडियों ने विभिन्न खेलों में 22 स्वर्ण पदक जीत इंस्टिट्यूट स्पोर्ट्स ट्राफी पर कब्ज़ा जमाया । वहीँ सिविल विभाग ने 5 स्वर्ण पदक जीते । दो वर्ष पूर्व इस ट्राफी पर मैकेनिकल विभाग ने 16 स्वर्ण पदक जीत कब्ज़ा जमाया था। पांच दिवसीय आह्वान में कुल 400 से अधिक स्वर्ण, रजत व कांस्य पदक वितरित किए गए । वहीं 20 से अधिक खेलों के इस आयोजन में ईसीबी व सीईटी कॉलेजों के कुल प्रतिभागी 1000 से अधिक रहे । सबसे अधिक गोल्ड मैडल पर कब्ज़ा ज़माने वाले खिलाडियों में योगिता जांगिड, पूजा विश्नोई, कपिल व यश कुमार सोलंकी रहे ।
ईसीबी ने क्रिकेट, वोलीबाल, कबड्डी, शॉट पुट, 100 मीटर रेस, 400 मीटर रेस, 800 मीटर रेस, डिस्कस थ्रो व एथलेटिक्स में स्वर्ण जीता, जबकि सीईटी ने फ़ुटबाल व बास्केटबाल में स्वर्ण पदक हासिल किया ।

स्टाफ प्रतियोगिता के परिणाम
कार्यक्रम प्रभारी डॉ. अजय चौधरी ने बताया कि फैकल्टी महिला बैडमिंटन में डॉ. श्रद्धा परमार ने, पुरुष बैडमिंटन डबल में डॉ. देवेन्द्र गहलोत व राकेश पूनिया ने, पुरुष सिंगल में बैडमिंटन में डॉ. राकेश पूनिया ने, बास्केटबॉल में ईसीबी टीचिंग ने, क्रिकेट व वॉलीबॉल में सिविल फैकल्टी ने, टेबल टेनिस में डॉ. अवधेश, डिस्कस थ्रो महिला में डॉ.इंदु भूरिया, 100 मीटर रेस में डॉ. प्रीती नरुका, डिस्कस थ्रो पुरुष में अनिल चौधरी इत्यादि ने स्वर्ण पदक हासिल किया। कार्यक्रम का सञ्चालन डॉ. श्रद्धा परमार, व धन्यवाद ज्ञापन डॉ. नवीन शर्मा ने किया।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply