20211218 133314 scaled

अब मरीजों को न्यूरो संबंधित बीमारियों के लिए पलायन की नहीं पड़ेगी जरूरत

0
(0)

बीकानेर। बीकानेर शहर में उत्कृष्ट स्वास्थ्य सेवाएं धीरे-धीरे विस्तार लेने लगी है, अब महानगरों की भांति बीकानेर में भी हर मर्ज का उपचार सुलभ है। सरकारी स्वास्थ्य व्यवस्थाओं के साथ-साथ बीकानेर में निजी क्षेत्र की स्वास्थ्य सुविधाएं भी उच्च गुणवत्ता तथा उत्कृष्ट मानदंडों के अनुसार आधुनिक तकनीक के समावेश के अनुरूप उपलब्ध है। इसी कड़ी में बीकानेर में न्यूरोसर्जरी जैसे विशेषज्ञता वाले क्षेत्र में एक नया नाम जुड़ गया है और वह नया नाम है डॉ. संजीव छाबड़ा का।

कोटा शहर के सरकारी मेडिकल कॉलेज से 2012 में अपनी एमबीबीएस की डिग्री के पश्चात डॉक्टर संजीव छाबड़ा ने एमएस जनरल सर्जरी जैसी स्पेशलिटी के लिए सवाई मानसिंह मेडिकल कॉलेज जयपुर में दाखिला लिया और उसके पश्चात वे बीकानेर के श्रेष्ठतम पीबीएम हॉस्पिटल के डिपार्टमेंट ऑफ जनरल सर्जरी में 2017-18 के लिए कार्यरत रहे। इसी दौरान डॉ संजीव छाबड़ा का चयन सुपर स्पेशलाइजेशन के लिए इंस्टिट्यूट ऑफ पोस्ट ग्रेजुएशन मेडिकल एजुकेशन एन्ड रिसर्च, कोलकाता (पीजीआई कोलकाता) में न्यूरोसर्जरी जैसी जटिल स्पेशलिटी के लिए हो गया। सफलतापूर्वक अपनी सुपर स्पेशलिटी डिग्री को पूरा करने के पश्चात इनकी कुशलता के लिए इन्हें गोल्ड मेडल से भी नवाजा गया।

वर्तमान में डॉ. संजीव छाबड़ा बतौर कंसलटेंट न्यूरो सर्जन बीकानेर संभाग में निजी क्षेत्र के प्रथम हॉस्पिटल कोठारी मेडिकल एंड रिसर्च इंस्टीट्यूट जैसे उत्कृष्ट संस्थान से जुड़ चुके हैं, जहाँ इनकी नियमित सेवाएं लोगों को सुलभ है। इन्होंने अपने अनुभव के दौरान 2,000 से अधिक ब्रेन और स्पाइन समस्याओं जैसे जटिल ऑपरेशंस को सफलतापूर्वक अंजाम दिया है। इनकी सब स्पेशलिटी में ट्रोमेटिक ब्रेन इंजरी और स्पाइनल इंजरी के साथ-साथ न्यूरो ऑन्कोलॉजी, माइक्रो न्यूरोसर्जरी एवं पीडियाट्रिक न्यूरो सर्जरी के साथ-साथ न्यूरोएंडोस्कोपी भी शामिल है। इनकी रूचि विशेष रुप से स्ट्रोक प्रिवेंशन की सर्जरी में है और अब तक इन्होंने न्यूरोसर्जरी जैसे जटिल विषय में बहुत लंबा शोध किया है।

डॉ. संजीव छाबड़ा के पास एक्सीडेंट से क्षतिग्रस्त सिर एवं रीड की हड्डी की सर्जरी, स्लिप डिस्क एवं ब्रेन हेमरेज का इलाज एवं सर्जरी, ब्रेन टयूमर एवं स्पाइन ट्यूमर का इलाज एवं सर्जरी, नस फटने से दिमाग में खून के जमाव की सर्जरी, ब्रेन एवं रीढ़ की टीबी एवं कैंसर का इलाज, फंक्शनल न्यूरोसर्जरी एवं एंडोस्कोपिक न्यूरो सर्जरी, गर्दन का दर्द एवं साइटिका का दर्द, नसों और मांसपेशियों की बीमारी का इलाज, ब्रेन एवं रीढ़ की हड्डी में दर्दनाक चोट का इलाज, मस्तिष्क एवं रीढ़ की हड्डी की जन्मजात विकृतियां, आंखों की रसौली के ऑपरेशन, सिर में पानी भरना, दिमागी बुखार, माइग्रेन, पुराना सिर दर्द आदि के उच्च गुणवत्तापरक मानकों पर आधारित एवं नवीनतम तकनीक से समावेशित उपचार उपलब्ध हैं।

डॉ. छाबड़ा का कहना है कि उपरोक्त सभी न्यूरो सम्बंधित बीमारियों के लिए अब लोगों को बीकानेर के बाहर हायर सेंटर की ओर पलायन करने की आवश्यकता नहीं रहेगी। प्रेस वार्ता के दौरान मार्केटिंग कन्सलटेंट शशांक शेखर जोशी ने बतौर मॉडरेटर अपनी अहम भूमिका निभाई।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply