IMG 20210121 WA0007

24 हजार मेगापिक्सल वाले इस फोटो को लाखों लोग देख चुके हैं दो दिन में Millions of people have seen this photo of 24 thousand megapixels in two days.

0
(0)

एक फोटो जोधपुर के लोगों में चर्चा का विषय बनी हुई है। शहर की ऐसी फोटो लोगों ने पहले कभी नहीं देखी।
गीगापिक्सल से फोटोग्राफी अब तक विदेशों में ही होती थी लेकिन इंदौर के फोटोग्राफर प्रांशु दुबे ने इसे जोधपुर के फोटो के साथ भारत में इंट्रोड्यूज किया है। उन्होंने जोधपुर का 24 हजार मेगापिक्सल (24 गीगापिक्सल) का फोटो खींचा है जो भारत की सबसे बड़ी जूम-एबल इमेज है। फोटो की क्वालिटी इतनी बेहतर है कि जूम करने पर सड़कों पर चलते लोगों को क्लियर देखा जा सकता है और साइनबोर्ड तक पढ़े जा सकते हैं। दो दिन में ही सवा लाख लोग इस फोटो को देख रोमांचित हो उठे है। ऐसे बनाया इतना बड़ा फोटो…

  • दस साल से फोटोग्राफी कर रहे पिक्सेलडू डॉट कॉम के फाउंडर 28 साल के प्रांशु एरियल, पैनोरमा, हॉस्पिटेलिटी और इंफ्रास्ट्रक्चर फोटोग्राफी के एक्सपर्ट हैं।
  • प्रांशु ने बताया, पहले खींचा गया उदयपुर का 16 गीगापिक्सल का फोटो भी अच्छा बना था लेकिन उस समय सोशल मीडिया इतना एक्टिव नहीं था इसलिए रिस्पोंस कम मिला। अब स्मार्ट फोन हैं और लोग डेटा यूज कर रहे हैं इसलिए उन्होंने नया फोटो खींचने का तय किया।
  • प्रांशु टूरिज्म प्रमोट करने के लिए फोटोग्राफी कर रहे हैं और उनकी नजर में इस फोटो के लिए जयपुर या जोधपुर दो ही शहर थे। सितंबर में वे पहली बार जोधपुर आए और यहां के कलरफुल कल्चर से इतने प्रभावित हुए कि यहीं फोटो लेने का डिसाइड किया।
  • प्रांशु ने बताया कि देश के टूरिज्म को बढ़ाने के लिए वे कई बार सरकारी दफ्तरों में अपने आइडियाज लेकर गए परन्तु स्पॉन्सरशिप के लिए कोई तैयार नहीं हुआ। फाइनली प्रांशु ने खुद अपने ही इन्वेस्टमेंट से इस फोटो को बनाने का निर्णय लिया।
  • मेहरानगढ़ म्यूजियम ट्रस्ट ने उन्हें मेहरानगढ़ की प्राचीर से फोटोग्राफी की इजाजत दी और उन्होंने अक्टूबर में कैनन 5डीएस के कैमरे से 351 फोटो खींचीं। उन्होंने मेहरानगढ़ की ड्रोन से फोटोग्राफी भी की है।
    दो दिन में देख चुके है सवा लाख लोग
  • प्रांशु का उद्देश्य एडवांस डिजिटल फोटोग्राफी टेक्नोलॉजी के साथ टूरिज्म को जोड़कर भारत को इंटरनेशनल लेवल पर इस फील्ड में आगे बढ़ाना है। यह फोटो 17 जनवरी 2018 को उन्होंने अपनी वेबसाइट jodhpur.pixeldo.com पर अपलोड की थी और पहले ही दिन 50 हजार लोगों ने मोबाइल पर इसे देखा जबकि अब तक करीब सवा लाख लोग यह फोटो देख चुके हैं।
    यह खासियत है इस फोटो की
  • जोधपुर की यह फोटो 351 अलग अलग फोटोज को जोड़कर बनाई गयी है। यह फोटो 24 हजार मेगापिक्सल की है। इस फोटो को अगर प्रिंट किया जाए तो 135 मीटर लम्बा प्रिंट निकाला जा सकता है। यह भारत का सबसे बड़ा डिजिटल जूमेबल फोटो है। इसके पहले उदयपुर का 16 गीगापिक्सेल फोटो पहले स्थान पर था। फोटो की खासियत है की इसे कितना ही ज़ूम करके देखा जा सकता है और फोटो की क्वालिटी ख़राब नहीं होती। यह फोटो मेहरानगढ़ के किले से ली गयी है | इस फोटो की शूटिंग पांच घंटे तक चली और फोटो को स्टिच करने में सात दिन का समय लगा।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply