Screenshot 20210119 233418 Google

भारत सरकार ने किया 23 जनवरी को हर साल पराक्रम दिवस के रूप में मनाने का फैसला

0
(0)

ई दिल्ली (पीआईबी)। भारत सरकार नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125 वीं जन्म वर्षगांठ साल को राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर 23 जनवरी को जश्न के रूप में मनाएगी। यह फैसला प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में गठित एक उच्च स्तरीय समिति में किया गया है। समिति कार्यक्रमों को तय करने और स्मरणोत्सव का पर्यवेक्षण और मार्गदर्शन करने के लिए गठित की गई है। राष्ट्र के प्रति नेताजी की अदम्य भावना और निस्वार्थ सेवा का सम्मान करने और उन्हें याद रखने के लिए भारत सरकार ने देश के लोगों, विशेषकर युवाओं को प्रेरित करने के लिए हर साल जनवरी के 23 वें दिन को ” पराक्रम दिवस ” के रूप में मनाने का फैसला किया है । नेताजी ने विपत्ति का सामना करने के लिए भाग्य के साथ काम किया और उनमें देशभक्ति की भावना जगाई।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply