बीकानेर जैसलमेर व पाकिस्तान बाॅर्डर को छूते इस गांव तक नहीं पहुंचा आरक्षण- अभयसिंह पन्ना

Bikaner News. आजादी के बाद 1950 में संविधान लागू होने के बाद बीकानेर जैसलमेर व पाकिस्तान बाॅर्डर को छूते पन्ना गांव के हालात देखकर पता चलता है कि यहां आरक्षण ने अपनी दस्तक नहीं दी है । इस गांव के निवासी एवं नख्तबन्ना टाइगर फोर्स की राष्ट्रीय कमेटी के सदस्य अभयसिंह पन्ना बताते हैं कि उनके गांव की स्थिति बहुत डाउन है । बच्चों के पहनने को कपड़े और जूते नहीं है और शैक्षणिक स्तर भी बहुत डाउन है । अभयसिंह कहते हैं कि 40-40 लाख की गाड़ियों में घूमने वाले आरक्षण वाले राजनेता यहां आकर देखें कि इस गांव का शैक्षणिक और आर्थिक स्तर क्या है ।

Leave a Reply

WhatsApp Us whatsapp
Click To Join Whatsapp Group Fo Daily News Updates. whatsapp
error: CONTENT IS PROTECTED!
%d bloggers like this: