IMG 20201226 172951

प्रथम वर्ष में ही विद्यार्थियों के आकर्षण का केंद्र बना बीटीयू का एमबीए एग्रीबिजनेस पाठ्यक्रम BTU’s MBA Agribusiness course became the center of attraction of students in the first year itself

0
(0)

बीकानेर। हाल ही में शैक्षिक सत्र 2020-21 से बीकानेर तकनीकी विश्वविद्यालय द्वारा युवाओं को आकर्षित करने और राज्य के युवाओ को रोजगार की संभावनाओं में भागीदारी सुनिश्चित के उद्देश्य से प्रारंभ किए गए एमबीए एग्रीबिजनेस मैनेजमेंट पाठ्यक्रम को लेकर विद्यर्थियो में अपार उत्साह दिखाई दे रहा है और प्रवेश की पूछताछ निरन्तर जारी है। सहायक जनसम्पर्क अधिकारी विक्रम राठौड़ ने बताया की युवाओं के आकर्षण और संचालित पाठ्यक्रम की सफलता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि प्रथम वर्ष में ही 26 विद्यार्थी अब तक प्रवेश ले चुके है और इस पाठ्यक्रम की जानकारी लेने हेतु युवाओं का निरन्तर विश्विद्यालय आना जारी है। विश्वविद्यालय का एडमिशन सेल एग्री बिजनेस एक्सपर्ट एवम वरिष्ठ कृषि विशेषज्ञों की टीम के साथ निरंतर विद्यार्थियों का मार्गदर्शन एवम काउंसलिंग कर रहा है। विशेषत : ग्रामीण क्षेत्र के विद्यार्थी इस पाठ्यक्रम को लेकर काफी उत्साहित है। कुलपति प्रो. एच. डी. चारण के निर्देशन में विश्विद्यालय प्रशासन इस पाठ्यक्रम के प्रति विद्यार्थियों में जागरूकता लाने के लिए प्रयासरत है।
बीकानेर तकनीकी विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो.एच.डी. चारण ने बताया कि परंपरागत अप्रचलित पाठ्यक्रमों के प्रति घटते रुझान ने विद्यार्थियों को इस नए पाठ्यक्रम की ओर आकर्षित किया है और रोजगार की नई संभावनाओं को लेकर युवाओं में आशा की किरण को विकसित किया है। वहीं दूसरी ओर ग्रामीण क्षेत्र के युवाओं ने इस पाठ्यक्रम के प्रति रूचि प्रदर्शित की है। कृषि प्रबंधन के क्षेत्र में आई इस नवीन अलख के माध्यम से हम प्रयास कर रहे हैं गांव के अंतिम छोर तक बैठे विद्यार्थी को इस पाठ्यक्रम से लाभान्वित कर सके।
आज के बुद्धिजीवी युवाओं और विद्यार्थियों में एक नई सोच विकसित हुई है कि वह भविष्य को सुरक्षित रखना चाहते हैं साथ ही ऐसे पाठ्यक्रमों में प्रवेश लेना चाहते हैं जो उन्हें रोजगार दिला सके। परंपरागत पाठ्यक्रम एवं परंपरागत रोजगार के क्षेत्र में घटते अवसरों को देखते हुए युवाओं ने कृषि क्षेत्र को सफल विकल्प के रूप में अपनाया है, हमारे द्वारा प्रस्तावित एमबीए एग्रीबिजनेस मैनेजमेंट पाठ्यक्रम युवाओं में एक नई आशा को लेकर आया है। निसंदेह यह पाठ्यक्रम युवाओं में रोजगार की असीम संभावनाओं को बल देगा जिससे वह एक नए विकल्प के रूप में रोजगार के उद्देश्य को सार्थक कर सकेंगे। आज कृषि क्षेत्र व्यापक स्वरूप के साथ वैश्विक परिदृश्य में युवाओं के लिए आकर्षण का केंद्र बना है। बीकानेर तकनीकी विश्वविद्यालय ने तकनीकी शिक्षा के क्षेत्र में अपने उत्कृष्टता को साबित करते हुए कृषि प्रबंधन के क्षेत्र में भी विद्यार्थियों को नए अवसर प्रदान किया। एमबीए एग्रीबिजनेस मैनेजमेंट कोर्स में प्रवेश लेने वाले विद्यार्थियों के लिए हम एग्रीबेस कंपनियों से एमओयू के भी प्रयास कर रहे हैं ताकि ताकि विद्यार्थियों को पाठ्यक्रम अवधि समाप्त होते ही रोजगार उपलब्ध हो सके और वें स्वयं को सक्षम महसूस कर सके। ज्ञान विज्ञान और तकनीक के इस युग में कृषि प्रबंधन औद्योगिक धरातल पर महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। रोजगार सृजन की संभावनाओं के साथ विभिन्न उद्योगों में कृषि आधारित पाठ्यक्रम से निकले विद्यार्थियों की मांग दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। उद्योग मुनाफे और व्यापार की बढ़त के नजरिये से कृषि आधारित उद्योगों की स्थापना की ओर रुख किया है। आने वाले समय में कृषि पाठ्यक्रमों से निकले युवा कृषि पाठ्यक्रमों से निकले युवा उन्नत भारत के सुखद स्वप्न को साकार करेंगे।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply