संविदा सीएचओ भर्ती परीक्षा होगी सख्त कोविड प्रोटोकॉल के साथ: डॉ ओला

0
(0)

– मंगलवार को बीकानेर में 14 परीक्षा केन्द्रों पर 3048 विद्यार्थी देंगे परीक्षा

बीकानेर, 09 नवम्बर। 7810 पदों के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य अधिकारी (सीएचओ) भर्ती परीक्षा मंगलवार 10 नवम्बर को राज्य के अन्य संभाग मुख्यालयों सहित बीकानेर में भी आयोजित होगी। बीकानेर में डूंगर कॉलेज, फोर्ट स्कूल, सादुल स्कूल, लेडी एलगिन स्कूल व महारानी स्कूल सहित 14 परीक्षा केंद्रों पर दोपहर 1ः00 बजे से 2ः30 बजे तक 3048 विद्यार्थी परीक्षा देंगे। भर्ती को लेकर समस्त तैयारियां पूर्ण की जा चुकी है। तैयारियों का जायजा लेने व निरीक्षण करने राज्य पर्यवेक्षक दलबल सहित सोमवार को बीकानेर पहुंचे। निदेशक आरसीएच डॉ लक्ष्मण सिंह ओला के नेतृत्व में दल द्वारा 6 परीक्षा केंद्रों का भ्रमण कर समस्त व्यवस्थाओं की जांच की गई। डॉ ओला ने बताया कि परीक्षा को लेकर तैयारियां और व्यवस्थाएं पूर्ण चाक-चैबंद पाई गई। उन्होंने बताया कि भर्ती परीक्षा के लिए जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन व शिक्षा विभाग का भी पूर्ण क्षमता के साथ सहयोग प्राप्त हो रहा है। सभी केंद्र वितरण एवं संग्रहण अधिकारियों तथा केंद्र प्रभारियों को स्पष्ट निर्देश जारी कर पूर्ण सतर्कता के साथ बिना कोताही परीक्षाएं आयोजित करवाने हेतु पाबंद किया गया है। पुलिस प्रशासन द्वारा विभिन्न फ्लाइंग स्क्वाड बनाई गई है जो परीक्षा से पूर्व व दौरान विभिन्न परीक्षा केंद्रों की जांच करेगी। परीक्षा के जिला नोडल अधिकारी एवं संयुक्त निदेशक डॉ देवेंद्र चौधरी ने बताया कि परीक्षा और भर्ती प्रक्रिया पूर्ण पारदर्शिता व उच्च सुरक्षात्मक मापदंडों के साथ आयोजित की जा रही है। इसमें प्रतियोगियों से अपील की जाती है कि वे भर्ती परीक्षा में पास करवाने या सहयोग करने जैसे झांसों से बचकर रहें। ठगी का शिकार ना होएं। परीक्षा कंट्रोल रूम अधिकारी एवं सीएमएचओ डॉ बी एल मीणा ने बताया की भर्ती परीक्षा के पुख्ता प्रबंधन हेतु समस्त केंद्रों हेतु 4 वितरण एवं संग्रहण अधिकारियों के रूप में डिप्टी सीएमएचओ डॉ योगेंद्र तनेजा, आरसीएचओ डॉ राजेश गुप्ता, डिप्टी हेल्थ डॉ इंदिरा प्रभाकर व जिला टीबी अधिकारी डॉ सी एस मोदी को लगाया गया है। इसी प्रकार प्रत्येक केंद्र के लिए विभिन्न चिकित्सा अधिकारियों को प्रभारी बनाया गया है। परीक्षा केंद्र पर बिना मास्क किसी को भी परीक्षा देने की अनुमति नहीं दी जाएगी। सभी परीक्षार्थियों को सोशल डिस्टेंसिंग की पूर्ण पालना के साथ ही परीक्षा देनी होगी। उल्लेखनीय है कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत आयुष्मान भारत योजना में संविदा पर कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर की भर्ती कर ग्रामीण उप स्वास्थ्य केन्द्रों को स्वास्थ्य कल्याण केन्द्रों के रूप में विकसित किया जा रहा है ताकि अंतिम छोर तक चिकित्सकीय सेवाएं वैकल्पिक तौर पर उपलब्ध हो सके। अभी उप केन्द्रों पर सिर्फ एएनएम की सेवाएं ही उपलब्ध हैं।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply