कोविड से चिंतित कोलकाता से बीकानेरवासियों के लिए मार्मिक चिट्ठी

5
(1)

– अपनो की अपनो से मार्मिक अपील

कोलकाता। कोरोनारूपी महामारी ने पूरे विश्व में जो तबाही मचाई है,उससे वसुधा का कोई कोना अछूता नही रह गया है।हमारे देश में भी रिकॉर्ड संख्या में मरीज मिले है,लाखो मौते हुई है।हालाकि गत कुछ दिनों से देश में संक्रमित होने वाले रोगियों की संख्या में गिरावट आई है लेकिन अत्यंत दुःख के साथ इस सच्चाई को भी स्वीकार करना पड़ रहा है कि हमारी मातृभूमि बीकानेर में न केवल संक्रमित रोगियों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है,वरन इस बीमारी के कारण होने वाली मृत्यु के आंकड़े भी दिल दहलाने वाले है।हम कोलकाता एवम उसके उपनगर में रहने वाले प्रवासी आज भी भावनात्मक रूप से अपनी इस माटी एवम वाशिन्दों से जुड़े हुए है।लगभग हमारे हर परिवार का पारिवारिक जुड़ाव आज भी बीकानेर से है।सो वहाँ कोरोना संक्रमण से हो मौतों के आ रहे समाचारों ने हमारे यहाँ रहने वाले हर परिवार को भी झंनझोर कर रख दिया है।हर परिवार ने अपने किसी निकटवर्ती परिजन को इस काल में कोरोना के कारण खोया है।बीकानेर में इस संक्रमण के अप्रत्याशित रूप से बढ़ने का मूल कारण इसके बचाव की प्रक्रिया को न अपनाना रहा है।मास्क न पहनने की आदत, शहर के परकोटे में पाटो पर बैठ कर सामाजिक दूरी न मानना तो है ही साथ साथ हमारे सामाजिक रीति रिवाजों ने भी वर्तमान में इस संक्रमण के हमारे शहर बीकानेर में प्रसार में बड़ा योगदान दिया है।हालांकि बीकानेर के हमारे प्रबुद्ध सामाजिक नेतृत्व ने आगामी बर्ष होने वाले द्विबर्षीय पुष्करणा सावे को स्थगित कर सराहनीय कदम उठाया है किंतु आज भी वहाँ के निवासियों द्वारा रोजाना सामाजिक गतिविधियों जैसे न्यारा,टेवा,बैठक,मृत्यु भोज, के साथ साथ नूतन गृह प्रवेश,सगाई आदि सामाजिकता से जुड़े कार्य में सामाजिक दूरी को न मानते हुए अपनी शारीरिक उपस्थिति दर्ज करवा रहे है जो कि दुःखद है।चूंकि वैज्ञानिक इस वायरस के इलाज की अब तक कोई टीका या दवा नही खोज पाये है अतः वर्तमान में इस बीमारी से बचाव ही इससे बचने का एकमात्र उपाय है।हमसभी कोलकाता एवम उपनगर में प्रवासी आप बीकानेर के निवासियों से विनम्र अपील करते है कि जब तक इस संक्रमण का कोई ठोस इलाज नही मिलता है तब तक सभी व्यापक तौर पर होने वाले सामाजिक एवम धार्मिक गतिविधियों को स्थगित रखे। हुसी जिकी देखी जासी से न केवल हम निज को बल्कि अपने परिजनों एवम शुभचिंतकों को भी विपदा में डाल रहे है। साथ ही साथ कोलकाता एवम उपनगर में रहने वाले प्रवासीजनों से भी आशा करते है कि आगामी कुछ दिनों तक यात्रा के कार्यक्रम को जब तक जरूरी न हो स्थगित रखे।बंधुओ,बचेंगे तो मिलेंगे, इस अपील के साथ।✍ 👇✍

आपके अपने

मोहन लाल व्यास
शिव दयाल व्यास
रामगोपाल थानवी
ऋषिकेष हर्ष
हीरालाल किराडू
कृष्ण कुमार हर्ष
सुशील कुमार पुरोहित
पंडित शिव किसन किराडू
विजय कुमार पुरोहित
दाऊ लाल देरासरी
प्रेमरतन छंगाणी
छोटुलाल पुरोहित
नन्द किशोर ओझा
राज कुमार व्यास(राजू मंत्री)
पूनमचंद रंगा
ऋषि आचार्य
मीना पुरोहित
रेखा आचार्य
नारायण दास व्यास
महेंद्र पुरोहित
श्याम सुंदर व्यास
संतोष व्यास
किसन पुरोहित
केदार उपाध्याय
आशा राम पुरोहित
राज कुमार पुरोहित
दिलीप पुरोहित
दाऊ लाल ओझा
अशोक भादानी
पी शीतल हर्ष
स्वयंप्रकाश पुरोहित
राज कुमार व्यास काकू
और
सभी कोलकाता एवम उपनगर के पुष्करणा प्रवासीजन

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 5 / 5. Vote count: 1

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply