बीटीयू ने ‘बीटीयू बीकानेर’ एप द्वारा बीटीयू कार्य प्रणाली का किया डिजिटलीकरण, बीटीयू फैकल्टी ने विकसित किया एप

0
(0)

बीकानेर। बीकानेर तकनीकी विश्वविद्यालय के माननीय कुलपति प्रो.एच.डी.चारण ने ‘बीटीयू बीकानेर’ नाम से नया एंड्रोइड एप लाँच किया। बीकानेर तकनीकी विश्वविद्यालय के संघटक महाविद्यालय काॅलेज ऑफ इंजीनियरिंग एण्ड टेक्नोलॉजी बीकानेर के संगणक विज्ञान एवं अभियान्त्रिकी विभाग की फैकल्टी लक्ष्मण सिंह खंगारोत द्वारा यह एंड्रोइड एप विकसित किया गया । प्रो. चारण ने लक्ष्मण सिंह के कार्य को सराहते हुए बताया कि यह एंड्रोइड एप विश्वविद्यालय की सूचनाएं साझा करने का नया डिजीटल माध्यम है।

बीटीयू के निदेशक अकादमिक डाॅ. वाई.एन.सिंह ने बताया कि इस एप के माध्यम से विश्वविद्यालय एवं सम्बधित सोशल प्लेटफार्म से जुड़ सकेेंगे। एप द्वारा बीटीयू वेबसाइट के साथ साथ बीटीयू फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन एवं यूट्यूब का उपयोग एक साथ किया जा सकेगा। एप के डवलपर लक्ष्मण सिंह ने बताया कि एप में विद्यार्थियों एवं उपयोगकर्ता द्वारा चाही गई जानकारी एक ही जगह संरक्षित करने की भी सुविधा है। भविष्य में इस एप द्वारा परिक्षा सम्बन्धित कार्य भी किया जाना सुनिश्चित किया जायेगा। बीटीयू के डीन, एफ.ओ.ई.ए. डाॅ. एस.के.बंसल ने बताया कि यह विकास विद्यार्थियों व फेकल्टी के लिए एक प्रेरणा है। डिजीटलीकरण के माध्यम से देश का विकास सम्भव है।

सुखी जीवन आनंदम – मानव मूल्य की कार्यशाला का आरम्भ

बीकानेर। बीटीयू के सनघटक कॉलेज यूसीईटी बीकानेर के मानव मूल्य सेल में सुखी जीवन आनंदम की पांच दिवसीय छात्र कार्यशाला का आरम्भ २३-०९-२०२० से हुआ जो की २७-०९-२०२० तक जारी रहेगी। इस कार्यशाला में पांच सौ से अधिक छात्र जुड़े जिसमें बीटेक, एमटेक, एमबीए, एमसीए के है। बीटीयू ने लॉकडाउन के दौरान दस ऐसी कार्यशाला बीटेक प्रथम वर्ष के छात्रों के लिए की। अब वे अपने तृतीया वर्ष के छात्रों के लिए कर रही है। इसके मुख्या अतिथि बीटीयू के कुलपति महोदय प्रोफ एच डी चारण थे। उन्होंने छात्रों की सम्बोधित करते हुए कहा की आपके अंदर सही समझ और संबंधों को पूरक बनाने की क्षमता होनी चाहिए। वे मानव मूल्य के साथ हमें स्किल बेस्ड भी होना चाहिए।चेयरमैन नोडल सेंटर बीकानेर प्रोफ वाई एन सिंह ने बताया की इस कार्यशाला के आयोजन का उद्देश्य है की प्रत्येक व्यक्ति अपने मन को मनुष्यता के रूप में परिवर्तित करें और विद्यार्थी जब समाज में जाए तो समाज के प्रति जागरूक होकर जाए।इस कार्यक्रम का संचालन बीकानेर के मानव मूल्य सेल ने किया जिसमें उनकी टीम डॉ प्रीती पारीक, डॉ अलका स्वामी, डॉ रूम भदौरिआ, केसरी पुरोहित, डॉ अनु शर्मा, डॉ मनीष तंवर, डॉ अतुल गोस्वामी, अक्षिता चौधरी, लक्ष्मन सिंह, नीरज चौधरी, विश्वास आचार्य, राजेश सुथार, अभिषेक पुरोहित शामिल थे।

img 20200923 wa00186479143663447367961

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply