यूसीईटी की जनरल हेल्थ एंड वेलनेस एवं ऑनलाइन टीचिंग कॉर्यशाला का समापन

0
(0)

बीकानेर। बीकानेर तकनीकी विश्वविद्यालय के संगठक महाविद्यालय यूनिवर्सिटी कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग दुवारा टेक्यूप-3 अंतर्गत आयोजित जनरल हेल्थ एंड वेलनेस साप्ताहिक ऑनलाइन शार्ट टर्म कोर्स का समापन आज सम्प्पन हुआ। शार्ट टर्म कोर्स के मुख्य वक्ता भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान जोधपुर के निदेशक डॉ संजय मिश्रा थे। कार्यक्रम का शुभारंभ करते हुए सह संयोजक डॉ अनु शर्मा ने मुख्य अतिथि का परिचय करवाया।

प्रिंसिपल यूसीईटी एवं निदेशक अकादमिक डॉ यदुनाथ सिंह ने अपना स्वागत उद्बोधन दिया एवं एवं लॉक डाउन के दौरान आयोजित की जाने वाली विभिन्न कार्यशालाओं, ऑनलाइन शैक्षणिक गतिविधियों की जानकारी प्रदान की। कार्यशाला संयोजक डॉ गायत्री शर्मा ने 1 सप्ताह का शॉर्ट टर्म कोर्स का पूरा विवरण सभी के समक्ष प्रस्तुत किया। अधिष्ठाता डॉ एसके बंसल ने प्रतिभागियों को संबोधित करते हुए कहा कि इस शार्ट टर्म कोर्स में जो भी बातें प्रतिभागियों ने ग्रहण की है उसे अपने जीवन में अवश्य उतारें तभी इस शॉर्ट टर्म कोर्स की सार्थकता सिद्ध होगी। मुख्य वक्ता डॉ संजीव मिश्रा ने अपने उद्बोधन में कहा कि स्वस्थ शरीर स्वस्थ जीवन की पहचान है अतः वर्तमान में मनुष्य को अपने स्वास्थ्य की तरफ ध्यान देना चाहिए।कार्यक्रम के मध्य में अपने अध्यक्षीय उद्बोधन से संबोधित करते हुए कुलपति प्रो. एचडी चारण ने कहा कि पहला सुख निरोगी काया को ध्यान रखते हुए मनुष्य को जीवन में हर पक्ष की तरफ ध्यान रखना चाहिए।
अंत में एचओडी एचईएएस डॉ सतीश कुमार महला ने कार्यक्रम समाप्ति की घोषणा की और सभी का धन्यवाद ज्ञापित किया।

वही दूसरी और यूसीईटी में वन वीक ऑनलाइन फैकेल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम “मैनेजमेंट ऑफ ऑनलाइन टीचिंग लर्निंग एंड एसेसमेंट इन हायर एजुकेशन” का शुभारंभयूसीईटी, बीकानेर के सिरेमिक इंजीनियरिंग विभाग व जेएनटीयूए, अनंतपुर, आंध्र प्रदेश के केमिकल इंजीनियरिंग विभाग के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित कार्यक्रम की शुरुआत में समन्वयक सुरेंद्र जांगू ने कार्यक्रम के विषय के बारे में बताया और माननीय कुलपति बीकानेर तकनीकी विश्वविद्यालय प्रोफेसर एच डी चारण और माननीय कुलपति जवाहरलाल नेहरू टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी अनंतपुर आंध्र प्रदेश, प्रोफेसर एस श्रीनिवास कुमार का परिचय सभी पार्टिसिपेंट्स से करवाया। बी टी यु के कुलपति प्रोफेसर एच डी चारण ने आज के परिप्रेक्ष्य में ऑनलाइन शिक्षा के महत्व के बारे में बताया और कहा की ऑनलाइन शिक्षण व्यवस्था से क्लासेज की मॉनिटरिंग आसान हुई है। भविष्य में ऑनलाइन शिक्षण व्यवस्था को और बेहतर बनाने व प्रभावी तरीके से सञ्चालन पर आधारित इस एक सप्ताह के FDP के लिए दोनों विश्वविद्यालय के कुलपतियो ने आभार व्यक्त किया। प्रोफेसर एच डी चारण ने दोनों विश्वविद्यालय के पारस्परिक उन्नयन के लिए MoU का भी प्रस्ताव रखा जिस पर JNTUA CEA अनंतपुर, आंध्र प्रदेश के कुलपति ने अपनी सहमति व्यक्त की। प्राचार्य यूसीईटी प्रोफेसर वाई एन सिंह ने कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुवे दोनों विश्वविद्यालय के संयुक्त प्रयासो की सराहना की। प्राचार्य (जेएनटीयूऐ‌‍‌) प्रोफेसर के गोविंदराजुलू ने भी कार्यक्रम को सम्बोधित किया और COVID -19 के परिप्रेक्ष्य में ऑनलाइन शिक्षण व्यवस्था द्वारा विद्यार्थियों के सतत अध्ययन पर चर्चा की। कार्यक्रम के अंत में समन्वयक विश्वास आचार्य ने माननीय कुलपति बीकानेर तकनीकी विश्वविद्यालय प्रोफेसर एचडी चारण और माननीय कुलपति जवाहरलाल नेहरू टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी अनंतपुर प्रोफेसर एस श्रीनिवास कुमार, प्राचार्य (जेएनटीयूऐ‌‍‌) प्रोफेसर के गोविंदराजुलू और प्राचार्य यूसीईटी प्रोफेसर वाई एन सिंह को उनके मार्गदर्शन और सहयोग के लिए धन्यवाद दिया। कार्यक्रम के पहले सेशन में रिसोर्स पर्सन डॉ योगेश वेलंकर (पी एच डी परडयु यूनिवर्सिटी यूएसए) ने वर्तमान के डिजिटल युग में एक शिक्षक की महत्वता को बताया और ऑनलाइन शिक्षण की कुछ फंडामेंटल फैक्ट को डिस्कस किया। कार्यक्रम के द्वितीय सेशन में रिसोर्स पर्सन डॉक्टर अंबर जैन (पीएचडी एमआईटी यूएसए) ने ऑनलाइन शिक्षण के दौरान ऑफलाइन शिक्षण के कौन-कौन से पहलुओं को ध्यान में रखना चाहिए उसके बारे में अवगत करवाया।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply