सीएसआईआर-सीरी में आर्टिफीशियल इंटेलिजेन्‍स और परसेप्शन इंजीनियरिंग
पर राष्ट्रीय सम्मेलन आयोजित

Contents

4
(1)

पिलानी, 31 जुलाई। सीएसआईआर-केंद्रीय इलेक्‍ट्रॉनिकी अभियांत्रिकी अनुसंधान संस्‍थान में 30 जुलाई, 2020 को आर्टिफीशियल इंटेलिजेंस और परसेप्‍शन इंजीनियरिंग विषय पर एक दिवसीय राष्‍ट्रीय सम्‍मेलन का आयोजन किया गया। यह आयोजन वर्चुअल(ऑनलाइन) रूप से एम एस टीम्‍स के माध्‍यम से आयोजित किया गया। आयोजन की अध्‍यक्षता संस्‍थान के निदेशक डॉ पी सी पंचारिया ने की। एक दिवसीय राष्‍ट्रीय सम्‍मेलन के आयोजन का उद्देश्‍य आर्टिफीशियल इंटेलिजेंस और परसेप्‍शन इंजीनियरिंग के क्षेत्र में हो रहे वर्तमान बदलावों पर चर्चा करते हुए प्रतिभागियों को नवीन शोध गतिविधियों से अवगत कराना था। सम्‍मेलन में सीएसआईआर की विभिन्‍न प्रयोगशालाओं के वैज्ञानिकों तथा विभिन्‍न विश्‍वविद्यालयों एवं आईआईटी के प्रोफेसर्स ने एम एस टीम्‍स के माध्‍यम से अपने व्‍याख्‍यान दिए। इस राष्‍ट्रीय सम्‍मेलन का यूट्यूब (https://bit.ly/30julyceericonf) पर सजीव प्रसारण भी किया गया जिससे सम्‍मेलन में देशभर में आर्टिफीशियल इंटेलिजेंस और परसेप्‍शन इंजीनियरिंग के अनेक शोधार्थी लाभान्वित हुए।

उद्घाटन सत्र
अत्‍यंत महत्‍वपूर्ण और सामयिक विषय पर आयोजित किए गए एक दिवसीय राष्ट्रीय सम्‍मेलन की अध्‍यक्षता करते हुए डॉ पी सी पंचारिया, निदेशक, सीएसआईआर-सीरी ने आर्टिफीशियल इंटेलिजेंस और परसेप्‍शन इंजीनियरिंग के क्षेत्र में संस्‍थान में किए जा रहे शोधकार्यों पर प्रकाश डाला। इस अवसर पर डॉ पी सी पंचारिया, निदेशक, सीएसआईआर-सीरी सहित डॉ डी के असवाल, निदेशक, सीएसआईआर-एनपीएल; डॉ अनुराग अग्रवाल, निदेशक सीएसआईआर-आईजीआईबी तथा डॉ विद्याधर वाई. मुदकवि, निदेशक सीएसआईआर 4 पीआई ने भी आरंभिक उद्बोधन दिए। अपने संबोधन में सभी ने वर्तमान परिप्रेक्ष्‍य में आर्टिफीशियल इंटेलिजेन्‍स और परसेप्‍शन इंजीनियरिंग के महत्‍व को रेखांकित करते हुए डॉ पंचारिया और उनकी टीम को राष्‍ट्रीय सम्‍मेलन के आयोजन पर बधाई दी।

इससे पूर्व डॉ अजय अग्रवाल, एरिया कोऑर्डिनेटर (स्‍मार्ट संवेदक क्षेत्र) ने सभी अतिथियों एवं प्रतिभागियों को सम्‍मेलन की पृष्‍ठभूमि और रूपरेखा से अवगत कराया और सम्‍मेलन की सफलता की कामना की।
इसके बाद प्रोफेसर शांतनु चौधुरी, निदेशक, आईआईटी-जोधपुर ने आर्टिफीशियल इंजीनियरिंग ऑफ एवरीथिंग विषय पर अपना आरंभिक आधार व्‍याख्‍यान (की नोट टॉक) दिया। व्‍याख्‍यान से पूर्व डॉ अजय अग्रवाल ने प्रोफेसर चौधुरी का औपचारिक परिचय भी दिया।

तकनीकी सत्र
सम्‍मेलन के दौरान चार तकनीकी सत्रों का आयोजन किया गया। प्रत्‍येक सत्र में एक आधार व्‍याख्‍यान सहित पाँच व्‍याख्‍यान दिए गए। तकनीकी सत्रों के का विवरण इस प्रकार हैं :

तकनीकी सत्र 1 – न्‍यूरल बेसिस ऑफ परसेप्‍शन एंड कॉग्‍निशन
सत्राध्‍यक्ष – प्रोफेसर, अमिता चटर्जी, पूर्व कुलपति, प्रेसिडेन्‍सी विश्‍वविद्यालय, कोलकाता
तकनीकी सत्र 2 – परसेप्‍चुअल रोबोटिक्‍स एंड इन्‍टेलिजेन्‍ट सिस्‍टम
सत्राध्‍यक्ष – प्रोफेसर पी सी पांडे, आईआईटी-मुंबई
तकनीकी सत्र 3 – आर्टिफीशियल इन्‍टेलिजेंस इन हेल्‍थ केयर
सत्राध्‍यक्ष – डॉ विद्याधर मुदकवि, निदेशक, सीएसआईआर – 4 पीआई
तकनीकी सत्र 4 – आर्टिफीशियल इन्‍टेलिजेंस बेस्‍ड इन्‍टेलिजेन्‍ट सिस्‍टम्‍स
सत्राध्‍यक्ष – डॉ चंद्रशेखर, पूर्व निदेशक, सीएसआईआर-सीरी

सभी आमंत्रि‍त वक्‍ताओं ने अपने व्‍याख्‍यान में एआई और पर्सेप्‍शन इंजीनियरिंग में किए गए शोध कार्यों से अवगत कराया। सत्रों के दौरान प्रतिभागियों ने वक्‍ताओं से प्रश्‍न पूछ कर अपनी जिज्ञासा भी शांत की।

सम्‍मेलन के दौरान श्री प्रमोद कुमार तँवर, प्रधान वैज्ञानिक, सीएसआईआर-सीरी ने संस्‍थान द्वारा 15 अप्रैल से 15 मई 2020 तक हेल्‍थकेयर एवं कोरोना जागरूकता पर आग्‍मेन्‍टेड रियलिटी ऐप तैयार करने के लिए आयोजित की गई ‘लर्न एंड कंपीट चैलेंज’ नामक ऑनलाइन प्रतियोगिता के परिणामों की भी घोषणा की। इस प्रतियोगिता में बिट्स पिलानी, गोआ परिसर के आकाश झा एवं अश्‍वनी कोटृापल्‍ली के वर्चुअल सिमुलेटर प्रोजेक्‍ट को प्रथम तथा वी आई टी, चेन्‍नै के साईंनाथ गणेश एवं सिद्धार्थ एस. के सिम्‍पटम विजुअलाइजर को द्वितीय पुरस्‍कार के लिए चुना गया।

तकनीकी सत्रों के अंत में डॉ पी के खन्‍ना, मुख्‍य वैज्ञानिक ने धन्‍यवाद ज्ञापित किया।

राष्‍ट्रीय सम्‍मेलन के समापन पर संस्‍थान के नई दिल्‍ली केंद्र के प्रभारी वैज्ञानिक डॉ ए एस मंडल, मुख्‍य वैज्ञानिक को उनकी सुदीर्घ सेवाओं और शोध उपलब्धियों के लिए सम्‍मानित किया गया। सम्‍मेलन के समन्‍वयक डॉ एस अली अकबर, मुख्‍य वैज्ञानिक और संयोजक डॉ संजय सिंह, प्रधान वैज्ञानिक ने सभी अतिथियों एवं प्रतिभागियों के समक्ष डॉ मंडल की उपलब्धियों का संक्षिप्‍त परिचय दिया। सभी अतिथियों ने आर्टिफीशियल इंटेलिजेन्‍स और परसेप्‍शन इंजीनियरिंग विषय पर डॉ पी सी पंचारिया और उनकी टीम को राष्‍ट्रीय सम्‍मेलन के सफल आयोजन पर बधाई दी तथा डॉ ए एस मंडल, मुख्‍य वैज्ञानिक को सेवानिवृत्ति के बाद के जीवन के लिए शुभकामना दी।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 4 / 5. Vote count: 1

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply