IMG 20230503 WA0022

महापौर के प्रयास लाये रंग, अमृत 2.0 में होंगे 289 करोड़ के सीवरेज कार्य

0
(0)

*नगर निगम द्वारा रुडसिको को भेजे प्रस्ताव पर टेंडर जारी*

बीकानेर । नगर निगम बीकानेर में महापौर सुशीला कँवर राजपुरोहित के कार्यकाल में लगातार संसाधनों और केंद्र प्रवर्तित एवं राज्य प्रवर्तित योजनाओं में भरपूर कार्य करवाए जा रहे है | हाल ही में रुडसिको द्वारा राजस्थान के लिए जारी अमृत 2.0 की प्रशासनिक एवं वित्तीय स्वीकृति में बीकानेर नगर निगम को राजस्थान में सबसे अधिक 289 करोड़ रुपये के सीवरेज कार्य की स्वीकृति मिली | बीकानेर नगर निगम 200 करोड़ से अधिक राशि स्वीकृत करवाने वाला एकमात्र नगर निगम है | अमृत 2.0 में क्या कार्य करवाए जाने है इस सम्बन्ध में नगर निगम द्वारा अमृत 2.0 के लिए डीपीआर बनाकर प्रस्ताव रुडसिको भेज दिया गया है | जिसकी निविदा जारी की जा चुकी है , विभाग ने इस बाबत 289 करोड़ की निविदा जारी की है, जिसकी अंतिम तिथि 4 मई है | निगम महापौर सुशीला कँवर ने निगम अधिकारियों अभियंताओं और तत्कालीन आयुक्त अरुण शर्मा के साथ मिलकर गत कई दिनों की मेहनत से इस डीपीआर को बनावाया है | महापौर ने अपनी पहली बजट बैठक में भी सीवरेज सम्बन्धी डीपीआर बनवाकर सीवरेज लाइन बदलने या पुनरुद्धार करने का प्रस्ताव पारित किया था |

रुडसिको को कुल 289.57 करोड़ रुपये की डीपीआर बनाकर भेजी गयी थी | जिसमें नयी सीवरेज लाइन के साथ साथ पुरानी जर्जर मुख्य सीवरेज लाइन के जीर्णोद्धार व कई स्थानों पर मिसिंग लिंक का कार्य प्राथमिकता से लिया गया है | बीकानेर शहर में सीवरेज सबसे बड़ी समस्याओं में से एक है | वर्षों पुरानी मुख्य सीवरेज लाइन के जर्जर होने के कारण बार बार जाम हो जाती है, जिससे शहर के मुख्य स्थानों और मुख्य बाजारों में आये दिन सीवरेज का पानी दिखाई देता है | अमृत 2.0 में लगभग शहर की सभी मुख्य सीवर लाइन के पुनरुद्धार और कुछ स्थानों पर नयी सीवर लाइन डालने का कार्य लिया गया है | नगर निगम द्वारा डीपीआर हेतु अनुबंधित फर्म के प्रतिनिधि राघवेन्द्र द्वारा बनाई गयी डीपीआर में ई बैठकों, प्रेजेंटेशन और विचार विमर्श बाद अंततः इस डीपीआर को अंतिम स्वरुप देकर फरवरी में रुडसिको को भेजा गया था |

*रानी बाजार में 83.41 करोड़ की लागत से बदलेगी 47.48 किलोमीटर सीवरेज लाइन*
वल्लभ गार्डन जोन के रानी बाजार क्षेत्र में लगभग 83.41 करोड़ की लागत से 47.48 किलोमीटर की वर्षों पुरानी सीवरेज लाइन बदलकर नयी सीवरेज लाइन डालने का प्रावधान रखा गया है | इस नयी सीवरेज लाइन में लगभग 14160 घरों के कनेक्शन किये जायेंगे |पूरा रानीबाजार , चोपड़ा कतला, गोगागेट चौराहा, गंगाशहर रोड, रेलवे स्टेशन आदि क्षेत्रों में यह कार्य किया जाना है |

*26.99 करोड़ की लागत से बदलेगी परकोटा क्षेत्र की 15.98 किलोमीटर सीवरेज*
नगर द्वारा बनाई गयी इस डीपीआर के अनुसार शहरी परकोटा क्षेत्र जैसे कोटगेट , सिटी कोतवाली, रामपुरिया हवेली, भुजिया बाजार आदि क्षेत्रों में लगभग 27 करोड़ की लागत से 15.98 किमी लाइन बदली जायेगी | इस लाइन को बदलने से लगभग 3800 कनेक्शन होंगे | कोटगेट रामपुरिया हवेली आदि क्षेत्रों में पुराणी सीवरेज लाइन होने के कारण आये दिन कोटगेट क्षेत्र जहाँ इस पूरे इलाके की सीवरेज का डाउनफॉल है, सीवरेज ओवरफ्लो रहती है | इस पूरे क्षेत्र की सीवरेज लाइन बदले जाने से शहर के ह्रदय स्थल कोटगेट की एक बड़ी समस्या से निजात मिलेगी |

*करमीसर क्षेत्र में 65 करोड़ की लागत से डलेगी 46.72 किमी नयी सीवरेज लाइन*
करमीसर क्षेत्र का नगर निगम क्षेत्र में शामिल होने के बाद यह पहला अवसर होगा जब इस क्षेत्र के वासियों के लिए कोई बड़ी सौगात मिली हो | लगभग 65 करोड़ की लागत से पूरे करमीसर क्षेत्र में नयी सीवरेज लाइन बिछायी जायेगी और इस क्षेत्र को पहली बार सीवरेज व्यवस्था से जोड़ा जाएगा | इस कार्य से लगभग 6000 परिवारों को भारी राहत मिलेगी | करमीसर के साथ साथ राजीव नगर और जम्भेश्वर नगर के साथ अआस पास के कई मोहल्ले सीवरेज व्यवस्था से जुड़ पायेंगे |

*सुदर्शना नगर क्षेत्र का वंचित एरिया भी जुड़ेगा अमृत 2.0 में*
अमृत 2.0 में वल्लभ गार्डन जोन का वंचित क्षेत्र जहाँ अमृत 1.0 में सीवरेज लाइन नहीं डाली गयी थी , इस बार अमृत 2.0 में इस पूरे क्षेत्र को सीवरेज प्रणाली से जोड़ा जायेगा | लगभग 10.71 किमी सीवरेज लाइन बिछाकर 13.97 करोड़ की लागत से 900 आवासीय कनेक्शन किये जायेंगे | अमृत 1.0 में इस क्षेत्र के आस पास का अधिकांश हिस्से में सीवरेज लाइन दाल दी गयी थी, सुदर्शना नगर के वंचित आवासीय क्षेत्र को अमृत 2.0 के तहत सीवरेज प्रणाली से जोड़ा जाएगा |

*नए सिरे से डालेंगी मुख्य बड़ी लाइनें*
बीकानेर शहर की सभी प्रमुख और बड़ी सीवरेज लाइन बदलकर नयी डाली जाएगी| अमृत 2.0 में वल्लभ गार्डन जोन की 250 एमएमसे लेकर 1400 एमएम की सभी मुख्य लाइनों ओ बदला जाएगा | नगर निगम में आने वाली सीवरेज सम्बंधित शिकायतों में अधिकतम शिकायतें मुख्य ट्रंक लाइनों में जाम होने के कारण आती है | ज्यादा लोड एवं पुराणी लाइन होने के कारण इनको बदलना अति आवश्यक है | इस जोन में आने वाली प्रमुख मुख्य ट्रंक लाइन जैसे अम्बेडकर सर्किल, रानी बाजार चौराहा, कोटगेट,सुभाष मार्ग, केईएम रोड,जूनागढ़ के पास, नगर निगम के पास, भुट्टों का चौराहा आदि विभिन्न क्षेत्रों में मुख्य सीवरेज लाइन बदली जायेगी जिससे काफी हद तक सीवरेज जाम की स्थिति से निजात मिलेगी |

*पब्लिक पार्क में बनेगा 2 एमएलडी का सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट*
नगर निगम महापौर सुशीला कँवर राजपुरोहित ने अमृत 2.0 में नवाचार करते हुए पब्लिक पार्क स्थित पम्पिंग स्टेशन में 2 एमएलडी का सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट लगाने का फैसला किया है | इस ट्रीटमेंट प्लांट में सीवरेज के गंदे पानी का शोधन कर खेती एवं पौधारोपण योग्य साफ़ पानी तैयार किया जायेगा | इस ट्रीटमेंट प्लांट के साथ ही कुछ किलोमीटर पानी की पाइप लाइन का प्रावधान भी लिया गया है | जिससे पूरे पब्लिक पार्क में इस शोधित पानी से हरियाली बनी रहेगी | वेस्ट टू बेस्ट को अपनाते हुए महापौर का यह नवाचार हरियाली के साथ साथ वल्लभ गार्डन स्थित ट्रीटमेंट प्लांट एवं सीवरेज लाइन का दबाव भी कम करेगा |

आधुनिक पाइप बर्स्टिंग तकनीक से होगा पुरानी सीवरेज लाइन का पुनरुद्धार
पुरानी सीवरेज लाइन की सबसे आधुनिक तकनीक पाइप बर्स्टिंग से सिटी परकोटा क्षेत्र की कई मुख्य लाइनों का पुनरुद्धार किया जाएगा | इस तकनीक के माध्यम से सीवरेज लाइन बदलने के लिए पूरी सीवरेज लाइन के लिए खोदकर लाइन नहीं बदली जायेगी बल्कि सीवरेज लाइन की शुरुआत के स्थान पर एक खड्डा कर मशीन से अन्दर ही अन्दर सीवरेज लाइन को तोड़कर उसके स्थान पर नया पाइप डाला जायेगा | सिटी परकोटा में संकरी सडकों के कारण इस तकनीक का उपयोग किया जाकर प्रमुख सीवरेज लाइन बदली जायेंगी | इस तकनीक से मुख्यतः तेलीवाड़ा चौक,महावतों का चौक, भुजिया बाजार, तीन खम्बा चौक,डागा चौक, सिटी कोतवाली,गोकुल सर्किल, धर्म नगर द्वार आदि क्षेत्रों में कार्य किया जाएगा |

*मुख्य तौर पर उन क्षेत्रों में होगा अमृत 2.0 में कार्य*
पूरा रानीबाजार , चोपड़ा कटला, गोगागेट चौराहा, गंगाशहर रोड, रेलवे स्टेशन, कोटगेट , सिटी कोतवाली, रामपुरिया हवेली, भुजिया बाजार, करमीसर क्षेत्र, सुदर्शना नगर के वंचित आवासीय क्षेत्र, अम्बेडकर सर्किल, रानी बाजार चौराहा, कोटगेट,सुभाष मार्ग, जूनागढ़ के पास, नगर निगम के पास, भुट्टों का चौराहा, तेलीवाड़ा चौक,महावतों का चौक, भुजिया बाजार, तीन खम्बा चौक,डागा चौक, सिटी कोतवाली,गोकुल सर्किल, धर्म नगर द्वार आदि क्षेत्रों में कार्य किया जाएगा |

महापौर सुशीला कँवर ने बताया की सीवरेज व्यस्व्था को सुधारना हमारी प्राथमिकता रही है | पहली बोर्ड बैठक में ही इस सम्बन्ध में प्रस्ताव पारित किया गया था | नगर निगम बीकानेर को राजस्थान में सर्वाधिक राशि स्वीकृत करने के लिए केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह जी पूरी और अर्जुन राम जी मेघवाल का धन्यवाद देती हूं। नगर निगम द्वारा कुल 1100 करोड़ की डीपीआर बनायी गयी थी | अमृत 2.0 में 289 करोड़ रुपये की स्वीकृति मिलने पर प्राथमिकता से सभी महत्वपूर्ण कार्य करवाए जा रहे हैं । इसके बाद अगले फेज में शेष कार्य करवाए जायेंगे | बीकानेर में मुख्य लाइनों का कार्य अलग अलग समय पर अलग अलग संस्थानों द्वारा किया गया है ऐसे में सीवरेज के पानी के लेवल सहित कई समस्याएं दैनिक रूप से देखने को मिलती है | अमृत 2.0 में लिए गए कार्यों से ऐसी समस्याओं से निजात मिलेगी | हमने इसमें शहरी परकोटे को ध्यान में रखते उए आधुनिक पाइप बर्स्टिंग तकनीक का इस्तेमाल करने एवं पब्लिक पार्क में एसटीपी प्लांट से शोधित पानी का पब्लिक पार्क एवं आस पास के पार्कों की हरियाली में इस्तेमाल करने का भी निर्णय लिया है | अगले फेज में भी सीवरेज से जुड़े शेष सभी कार्य करवाए जायेंगे |

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply