IMG 20230107 WA0017

राज्य कोष के प्रहरी हैं लेखा सेवा के कार्मिक : शिक्षा मंत्री

0
(0)

*अकाउंटेंट्स एसोसिएशन का स्नेह मिलन समारोह और जिला अधिवेशन आयोजित*

बीकानेर, 7 जनवरी। शिक्षा मंत्री डॉ. बी डी कल्ला ने कहा कि लेखा सेवा के कार्मिक राज्य कोष के प्रहरी हैं। प्रत्येक कार्मिक इस जिम्मेदारी को समझते हुए कार्य करें तथा किसी भी स्तर पर हो रहे अपव्यय को रोकने संबंधी सुझाव भी सरकार को के समक्ष रखें।
डॉ. कल्ला ने शनिवार को रानी बाजार औद्योगिक क्षेत्र स्थित रिद्धि सिद्धि भवन में राजस्थान अकाउंटेंट एसोसिएशन के जिला अधिवेशन तथा स्नेह मिलन समारोह को संबोधित करते हुए यह उद्गार व्यक्त किए।

उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार मुक्त प्रशासन प्रशासनिक व्यवस्था सुनिश्चित करना सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। इसे फलीभूत करने में लेखा सेवा के कार्मिकों की भूमिका महत्वपूर्ण होती है। कार्मिक इसे समझें और इसके अनुरूप कार्य करें। शिक्षा मंत्री ने कहा कि ऐसे कार्यक्रमों से आपसी मेलजोल बढ़ता है। वहीं युवा कार्मिकों को वरिष्ठजनों के अनुभव से सीखने के अवसर भी मिलते हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार, लेखा सेवा सहित सभी कार्मिकों की प्रत्येक वाजिब मांग की पूर्ति की प्राथमिकता के आधार पर करने के लिए संकल्पबद्ध है। मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत द्वारा वर्ष 2004 के बाद नियुक्त कार्मिकों के लिए पुरानी पेंशन योजना लागू कर नया कीर्तिमान स्थापित किया है। कार्मिकों के लिए राजस्थान गवर्नमेंट हेल्थ स्कीम लागू की है। केंद्र के अनुरूप महंगाई भत्ता समय पर दिया जा रहा है।

संभागीय आयुक्त डॉ. नीरज के. पवन ने कहा कि प्रत्येक कार्मिक सेवा भाव के साथ कार्य करें। सरकार की योजनाएं लक्षित वर्ग तक पहुंचाने का प्रयास करें। राजस्थान अकाउंटेंट एसोसिएशन के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष श्रीलाल भाटी, सत्य नारायण शर्मा, स्थानीय निधि अंकेक्षण विभाग के अतिरिक्त निदेशक अरविंद सिंह बिश्नोई और कोषाधिकारी सवाई सिंह बारहठ ने विचार व्यक्त किए। उन्होंने कोषाधिकारी (पेंशन) के पद सृजित किए जाने सहित विभिन्न मांगें रखी। राकेश गुप्ता ने संगठन के स्वरूप के बारे में बताया। जिला शाखा बीकानेर के अध्यक्ष मुकेश बताया कि शाखा द्वारा प्रतिवर्ष खेलकूद प्रतियोगिता तथा स्नेह मिलन कार्यक्रम आयोजित होता है।

इस अवसर पर शिक्षा मंत्री डॉ. बी. डी. कल्ला ने गत वित्तीय वर्ष में सेवानिवृत्त हुए लेखा सेवा के कार्मिकों का सम्मान किया तथा 25 से 31 दिसंबर तक आयोजित खेल प्रतियोगिताओं के विजेताओं को पुरस्कार भी प्रदान किए। दयानिधि तिवाड़ी और अजय पुरोहित ने आभार जताया। कार्यक्रम का संचालन विनोद जोशी और गणेश कलवानी ने किया। इस दौरान अकाउंटेंट एसोसिएशन के सचिव औंकार सिंह, वरिष्ठ उपाध्यक्ष अमित छंगाणी, उपाध्यक्ष आशीष शर्मा, इमरान खान तथा खेल मंत्री रामनिवास सहित लेखा सेवा के अन्य कार्मिक मौजूद रहे।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply