20221018 093115 scaled

कारोबारी बोले बीकानेर से चंडीगढ़ ट्रेन चलें, मिलें वंदे भारत ट्रेन और हो विस्तार

0
(0)

*मित्तल ने दिए रेल सेवाओं के विस्तार के सुझाव*

बीकानेर। बीकानेर जिला उद्योग संघ उपाध्यक्ष एवं रेलवे जेडआरयूसीसी सदस्य नरेश मित्तल ने महाप्रबंधक उत्तर पश्चिम रेलवे द्वारा जयपुर में आयोजित जेडआरयूसीसी की बैठक में बीकानेर के रेल यात्रियों के समक्ष आ रही समस्याओं एवं रेल सेवाओं के विस्तार के लिए सुझाव दिए। बीकानेर जिला उद्योग संघ अध्यक्ष द्वारकाप्रसाद पचीसिया ने बताया कि उद्योग, व्यापार जगत तथा पर्यटन के विकास को लेकर बीकानेर से दिल्ली एवं मुम्बई की ओर सुगम एवं शीघ्र यातायत हेतु बीकानेर से दिल्ली एवं मुम्बई वन्दे भारत ट्रेन चलाई जाए तथा बीकानेर में वन्दे भारत ट्रेन के रख-रखाव के लिए भी टर्मिनल बनाया जाए । साथ ही बीकानेर एशिया की सबसे बड़ी ऊन मण्डी के नाम से विख्यात है एवं पापड़, भुजिया, रसगुल्ला के उत्पादन में भी अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर अपनी अनोखी पहचान बनाये हुए है।

नरेश मित्तल ने बताया कि वर्तमान में बीकानेर में कम से कम 32000 कन्टेनर का आयात-निर्यात होता है। इस हेतु बीकानेर उद्योग जगत के सर्वांगीण विकास के लिए बीकानेर में रेलवे द्वारा ड्राईपोर्ट की स्थापना की जाए तथा वर्तमान में बीकानेर से कोई भी जन शताब्दी ट्रेन नहीं चल रही है । बीकानेर से एक जन शताब्दी ट्रेन नई दिल्ली के लिए चल जाने से उद्योग जगत एवं आमजन को लाभ होगा । साथ ही बीकानेर से वाया रतनगढ़, चूरू, सीकर, जयपुर, कोरबा के लिए नई गाड़ी चलाई जायवए। बीकानेर से हावड़ा के मध्य 3 दिन चलने वाली बीकानेर हावड़ा गाड़ी को प्रतिदिन चलाया जाए।

बीकानेर से हरिद्वार त्रै-साप्ताहिक गाड़ी बीकानेर से हरिद्वार सप्ताह में तीन दिन ही चलती है, जबकि यात्रियों की मांग को देखते हुए उक्त गाड़ी को प्रतिदिन चलाया जाना चाहिए तथा इस गाड़ी का समय परिवर्तन करके सांयः 6 बजे चलाया जाए। वर्तमान में बीकानेर से कालका, चण्डीगढ़ के लिए कोई सीधा रेल सम्पर्क नहीं है इस हेतु बीकानेर से कालका वाया चण्डीगढ़ नई रेलगाड़ी चलाया जाए। साथ ही प्लेटफार्म नं. 1 व 6 पर भी लिफ्ट लगाई जाए ताकि दिव्यांग, वरिष्ठजन, महिलाओं, बच्चों तथा रोगग्रस्त यात्रियों को सुविधा प्राप्त हो सके । गाड़ी संख्या 12979/12980 त्रै-साप्ताहिक जयपुर-बान्द्रा सुपरफास्ट को बीकानेर तक विस्तारित किया जाए यह सुपरफास्ट गाड़ी जयपुर बान्द्रा के मध्य सप्ताह में तीन दिन चलती है, इस गाड़ी के रैक का जयपुर में 34 घण्टे का ठहराव है । यात्रियों की मांग एवं सुविधा के लिए उक्त गाड़ी को बीकानेर तक वाया सीकर, चुरू, रतनगढ़ विस्तारित किया जाए।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply