IMG 20220802 WA0010

बनवारी शर्मा एक कुशल संगठक और मिलनसार व्यक्तित्व के धनी-डॉ. कल्ला

0
(0)

बीकानेर, 02 अगस्त। राजस्थान कर्मचारी संयुक्त महासंघ लोकतांत्रिक राजस्थान संस्कृत संघ सहित अन्य संघों द्वारा संघ के कार्यकारी अध्यक्ष बनवारी शर्मा का रविन्द्र रंगमंच पर अभिनंदन किया। अभिनंदन समारोह में संस्कृत शिक्षा के सभी जिला अध्यक्ष और तहसीलों के अध्यक्ष व कर्मचारियों ने गर्मजोशी से अपने महामंत्री बनवारी जोशी का अभिनंदन किया।

समारोह के मुख्य अतिथि शिक्षा मंत्री डॉ. बी.डी.कल्ला ने बनवारी शर्मा को एक कुशल संगठक और मिलनसार व्यक्तित्व का धनी बताया और कहा कि जो भी व्यक्ति शर्मा से मिला, वह उनका हो गया। इनका व्यवहार तारीफे काबिल हे। व्यतित्व में ऐसा तेज है की हर कोई इनका होकर रह जाता है।
शिक्षा मंत्री डा. कल्ला ने बनवारी लाल शर्मा के संगठन को दिए योगदान को बेहतरीन बताया और कहा कि इनके मिलनसार व्यक्तित्व की वजह से उन्होंने संगठन में जगह बनाई है।
समारोह की अध्यक्षता करते हुए राजस्थान खादी व ग्रामोद्योग बोर्ड अध्यक्ष बृज किशार शर्मा ने संस्कृत शिक्षा विभाग की समस्याओं को शिक्षामंत्री के समक्ष रखा और कहा कि सामान्य शिक्षा की तरह संस्कृत विद्यालयों को क्रमोन्न करने तथा समय पर पदौन्नति होनी चाहिए।

राजस्थान कर्मचारी संयुक्त महासंघ लोकतांत्रिक राजस्थान संस्कृत संघ के कार्यकारी अध्यक्ष बनवारी शर्मा ने अपना अभिनंदन किए जाने पर सभी का आभार व्यक्त किया और कहा कि वे आगे भी सस्कृत शिक्षा और अधिकारी व कर्मचारियों की समस्याओं का समाधान करवाने के लिए प्रयास करते रहेंगे। उन्होंने कहा कि बिना संगठित हुए कोई भी लड़ाई नहीं जीती जा सकती।

अभिनंदन समारोह में राजस्थान राज्य कर्मचारी संयुक्त महासंघ लोकतांत्रिक के प्रदेश अध्यक्ष सूरज प्रकाश टाक, राजस्थान राज्य कर्मचारी संयुक्त महासंघ एकीकृत के प्रदेश अध्यक्ष गजेंद्रसिंह राठौड़, राजस्थान विप्र कल्याण बोर्ड के सदस्य ओम प्रकाश शर्मा, पूर्व अध्यक्ष बुद्धि प्रकाश शर्मा, वाई के शर्मा, चन्द्र प्रकाश शर्मा, राजस्थान राज्य कर्मचारी संघ के महेन्द्र धायल, रमेश तिवाड़ी, अशोक तिवाड़ी, जयपुर संभागीय अध्यक्ष राज कुमार शर्मा, सचिवालय सेवा संघ के अध्यक्ष मेघराज पंवार, सुभाष आचार्य, आनंद पारीक, महामंत्री संस्कृत साहित्य राजकुमार जोशी, कोटा के जिलाध्यक्ष रामरतन साभंरिया ने बनवारी शर्मा के व्यक्तित्व व कृतित्व पर प्रकाश डाला और कहा कि इनका पूरा जीवन संस्कृत शिक्षा और इसके अधिकारी व कर्मचारी हितों के लिए समर्पित रहा। शर्मा ने संस्कृत शिक्षा और कर्मचारी के हितों की रक्षा के लिए संघर्ष किया और आज उनके कार्यों का अभिनंदन हुआ है।

शर्मा को नारी शक्ति वूमैन पॉवर की ओर से अभिनंदन पत्र भेंट किया। इस अवसर पर संभागीय शिक्षा अधिकारी चूरू किशन लाल शर्मा, गोपाल लाल जाट, संभागीय शिक्षा अधिकारी जयपुर राजेंद्र शर्मा, संभागीय शिक्षा अधिकारी जोधपुर के उपनिदेशक डॉ सीपी शर्मा के साथ बीकानेर के साथ ही पूरे राजस्थान से विभिन्न संगठनों के लोग मौजूद थे। संचालन छगनलाल शास्त्री और अरविंद व्यास ने किया। धूमल भाटी रमेश तिवारी रमजान तवर सतीश कुमार अब्दुल वाहिद भी मौजूद रहे।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply