Screenshot 20220715 202202 WhatsApp

खिलाड़ियों की भावनाओं के अनुरूप हो रहा खेल विकास: मुख्यमंत्री

0
(0)

मुख्यमंत्री ने बीकानेर को दी सौगात
महाराजा गंगा सिंह विश्वविद्यालय में ऑडिटोरियम व इंडोर स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स का लोकार्पण
अष्टधातु से बनी गांधी प्रतिमा का किया अनावरण
मल्टीपरपज इंडोर स्पोर्ट्स हॉल का शिलान्यास

बीकानेर, 15 जुलाई। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि युवाओं के बेहतर भविष्य निर्माण के लिए राज्य सरकार अनेक ऐतिहासिक निर्णय ले रही है। खेल व खिलाड़ियों के प्रोत्साहन के लिए संभाग स्तर पर इंडोर स्टेडियम विकसित किए जा रहे हैं। प्रदेश के बच्चों को अंग्रेजी माध्यम में शिक्षा मिले, इसके लिए 2000 से अधिक महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम विद्यालय तथा दूरदराज के क्षेत्रों तक उच्च शिक्षा उपलब्ध करवाने के लिए 211 महाविद्यालय खोले गए हैं।
गहलोत शुक्रवार को बीकानेर के महाराजा गंगा सिंह विश्वविद्यालय में इंडोर स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स व ऑडिटोरियम के लोकार्पण समारोह को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार खेलों को विशेष प्राथमिकता देकर युवाओं को अधिक अवसर प्रदान कर रही है। खिलाड़ियों को अन्तर्राष्ट्रीय स्तर का प्रशिक्षण व आधारभूत सुविधाएं देने के लिए सरकार खिलाड़ियों की भावना के अनुरूप काम कर रही है। प्रदेश के 229 खिलाड़ियों को आउट ऑफ टर्न सरकारी नियुक्तियां दी गई हैं तथा ओलंपिक, एशियाड व कॉमनवेल्थ जैसे खेलों में पदक विजेताओं के लिए सम्मान राशि को भी कई गुना बढ़ाया गया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक खेलों में करीब 30 लाख खिलाड़ी भाग लेंगे। इसमें गांवों कीे खेल प्रतिभाओं को बड़ा मंच मिलेगा और उन्हें खेल जगत में अपना भविष्य बनाने के अवसर मिलेंगे। ग्रामीण ओलंपिक पूरे देश में खेलों का एक ऐतिहासिक माहौल बनाएंगे।
गहलोत ने कहा कि युवा वर्ग को रोजगार देने के लिए राज्य सरकार ने अब तक एक लाख से अधिक भर्तियां की हैं। इसके अतिरिक्त वर्तमान सरकार द्वारा अभी तक 1.25 लाख नौकरियां दे दी गई हैं, लगभग 1.50 लाख प्रक्रियाधीन हैं तथा एक लाख नौकरियां देने की घोषणा की गई है। इनके अतिरिक्त 200 युवाओं को राजीव गांधी स्कॉलरशिप फॉर एकेडमिक एक्सिलेन्स योजना के तहत विदेशों में शिक्षा के लिए भेजा जाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश निःशुल्क शिक्षा की उपलब्धता और आमजन के स्वास्थ्य की सुरक्षा सुनिश्चित करने में अग्रणी है। उन्होंने कहा कि महाराजा गंगा सिंह विश्वविद्यालय में अहिंसा पार्क बनने से युवाओं को महात्मा गांधी के आदर्शों से जुड़ने और प्रेरित होने का संदेश मिलेगा।
शिक्षा मंत्री डॉ. बी. डी. कल्ला ने कहा कि युवा अपने लक्ष्य तय करें और उन लक्ष्यों को पाने के लिए कड़ी मेहनत करें। राज्य सरकार हर कदम पर युवाओं के साथ खड़ी है। उन्होंने कहा कि बीकानेर में शीघ्र ही अन्तर्राष्ट्रीय स्तर का साइकिल वैलोड्रम बनकर तैयार होगा। इससे यहां के खिलाड़ियों को विशेष प्रशिक्षण सुविधा मिल सकेगी।

उच्च शिक्षा मंत्री राजेंद्र सिंह यादव ने कहा कि शिक्षा युवाओं के भविष्य का आधार है। मुख्यमंत्री के नेतृत्व में राज्य सरकार द्वारा गत बजट में घोषित किए गए सभी 86 महाविद्यालय चालू कर दिए गए हैं। जबकि 60 से अधिक महाविद्यालयों के भवन निर्माण कार्य शुरू हो गया है।
राजस्थान राज्य क्रीड़ा परिषद की अध्यक्षा डॉ. कृष्णा पूनिया ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा ओलंपिक और एशियाड सहित विभिन्न खेलों में पदक विजेताओं के लिए सम्मान राशि बढ़ाई गई है। राज्य में खेल प्रशिक्षण के लिए अन्तर्राष्ट्रीय स्तर की सुविधाएं विकसित की जा रही हैं। उन्होंने कहा कि राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक खेलों से गांव-गांव से युवा हिस्सा लेंगे।
इस अवसर पर कुलपति श्री विनोद कुमार सिंह ने विश्वविद्यालय की विभिन्न गतिविधियों की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि खेल और खिलाड़ियों के लिए विश्वविद्यालय में विकसित की जा रही सुविधाओं से बीकानेर को स्पोर्ट्स हब के रूप में पहचान मिलेगी।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक खेल के लोगो और टी-शर्ट का विमोचन किया। उन्होंने खेलों में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले पूर्व खिलाड़ियों को सम्मानित किया तथा पदक विजेताओं को चैक प्रदान कर पुरस्कृत किया। इस अवसर पर लगभग 8 करोड़ रूपए की अनुदान राशि खिलाड़ियों को वितरित की गई।

ऑडिटोरियम एवं इंडोर स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स का लोकार्पण
गहलोत ने विश्वविद्यालय परिसर में बने लगभग 1000 दर्शक क्षमता वाले नवीन ऑडिटोरियम का लोकार्पण किया। यह ऑडिटोरियम लगभग 16.48 करोड़ रूपए की लागत से तैयार होगा। उन्होंने लगभग 24.50 करोड़ रूपए की लागत से तैयार इंडोर स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स का लोकार्पण भी किया। इस कॉम्पलेक्स में बास्केटबॉल, वॉलीबॉल, शूटिंग, टेबल टेनिस, बैडमिन्टन, जूड़ो, कुश्ती, जिम्नास्टिक, योगा, एरोबिक आदि खेलों की सुविधा उपलब्ध करवाई जाएगी।
इस दौरान उन्होंने राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक खेलों की मशाल को बाड़मेर जिले के लिए रवाना किया। इससे पूर्व उन्होंने महाराजा गंगासिंह की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित की।

अष्टधातु से बनी गांधी प्रतिमा का किया अनावरण
मुख्यमंत्री ने विश्वविद्यालय के अंहिसा पार्क में महात्मा गांधी की प्रतिमा का अनावरण किया। लगभग 27.61 लाख रूपए की लागत से नव-निर्मित अहिंसा पार्क में 29 पेडेस्टल बनाकर महात्मा गांधी की जीवनी का विवरण लिपिबद्ध करवाया गया है। उन्होंने यहां पर पौधारोपण भी किया।

मल्टीपरपज इंडोर स्पोटर््स हॉल का शिलान्यास
गहलोत ने संभाग मुख्यालय स्थित डॉ. करणी सिंह स्टेडियम परिसर में बनने वाले मल्टीपरपज इंडोर हॉल का शिलान्यास किया। लगभग 7.50 करोड़ रूपए की लागत से बनने वाले इस हॉल में खिलाड़ियों को टेबल टेनिस, बैडमिंटन, कबड्डी सहित विभिन्न इंडोर स्पोटर््स प्रशिक्षण की सुविधा मिल सकेगी।

इस अवसर पर ऊर्जा राज्यमंत्री भंवर सिंह भाटी, राजस्थान एग्रो इंडस्ट्रीज डवलपमेंट बोर्ड के अध्यक्ष रामेश्वर डूडी, डॉ. भीमराव अम्बेडकर फाउण्डेशन के महानिदेशक मदन गोपाल मेघवाल, केश कला बोर्ड के अध्यक्ष महेन्द्र गहलोत, भू-दान बोर्ड के अध्यक्ष लक्ष्मण कड़वासरा, माटी कला बोर्ड के उपाध्यक्ष डूंगर राम गेदर, विधायक जगदीश चन्द्र, श्रीडूंगरगढ़ विधायक गिरधारी महिया, क्रीड़ा परिषद उपाध्यक्ष सतवीर चौधरी, पूर्व मंत्री वीरेन्द्र बेनीवाल, पूर्व विधायक मंगलाराम गोदारा, संभागीय आयुक्त डॉ. नीरज के पवन, आईजी ओम प्रकाश, जिला कलक्टर भगवती प्रसाद कलाल तथा पुलिस अधीक्षक योगेश यादव सहित अन्य जनप्रतिनिधि और उच्च अधिकारीगण उपस्थित रहे। कुल सचिव यशपाल आहूजा ने आभार जताया। कार्यक्रम का संचालन उप कुल सचिव बिठ्ठल बिस्सा ने किया।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply