IMG 20220704 WA0012

निचले क्षेत्रों में जल भराव की स्थिति में हो त्वरित कार्रवाई – जिला कलक्टर

0
(0)

बीकानेर, 4 जुलाई। जिला कलक्टर भगवती प्रसाद कलाल ने कहा कि मानसून के दौरान शहर के निचले क्षेत्रों में जल भराव की स्थिति में निकासी की त्वरित कार्यवाही की जाए। निगम ऐसे क्षेत्रों पर विशेष नजर रखे।
जिला कलक्टर ने सोमवार को कलक्ट्रेट सभागार में साप्ताहिक समीक्षा बैठक में ये निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जल निकासी की त्वरित कार्यवाही के लिए निगम द्वारा एक टीम गठित की जाए, जो जल भराव की आपात स्थिति में जरूरतमंद को राहत प्रदान करें। निगम सुनिश्चित करे कि सभी राहत उपकरण एवं संसाधन चालू स्थिति में रहें। जल भराव संबंधी किसी भी सूचना पर क्विक रेसपोंस सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा कि सार्वजनिक निर्माण विभाग तथा विद्युत निगम द्वारा भी एक-एक टीमें गठित की जाए। यह टीमें बरसात से हुए नुकसान का जायजा लेकर दुरूस्तीकरण का कार्य तुरंत प्रारम्भ करवाए।

जिला कलक्टर ने जिले में जीएसएस निर्माण कार्य की धीमी प्रगति पर नाराजगी प्रकट करते हुए कहा कि इस संबंध में ठेकेदार पर जुर्माने की कार्यवाही के लिए नोट बनाकर प्रस्तुत करें। उन्होंने सार्वजनिक निर्माण विभाग के प्रगतिरत कार्यों की समीक्षा की तथा इनकी गुणवत्ता सुनिश्चित करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने निर्देश दिए कि पीडब्ल्यूडी को सूचित किए बिना सड़क की तोड़-फोड़ नहीं की जाएगी।यदि किसी विभाग द्वारा सड़क की पुनः मरम्मत करवाई जाती है तो उसकी गुणवत्ता का संधारण करना भी सुनिश्चित किया जाए।

पशु पकड़ने के अभियान में लाएं तेजी*
जिला कलक्टर ने कहा कि सड़क पर एक भी निराश्रित पशु नहीं मिलना चाहिए। निगम अभियान में तेजी लाते हुए ऐसे पशुओं को गोशाला पहुंचाना सुनिश्चित करें और यदि किसी गोशाला द्वारा इन पशुओं को लेने से इनकार किया जाए तो सम्बंधित के विरूद्व कार्यवाही करें।

*इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट योजना में लें नए आवेदन*
जिला कलक्टर भगवती प्रसाद कलाल ने इंदिरा गांधी शहरी क्रेटिड योजना के तहत लम्बित प्रकरणों को निस्तारित करवाते हुए नए आवेदन लेने के कार्य को प्राथमिकता से करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि विभिन्न विभागो के बीच लंबित मामलों को आपसी समन्वय से सुलझाते हुए कार्य समय पर पूर्ण करना सुनिश्चित हो।

*अपलोड जवाब के लिए अधिकारी जिम्मेदार*
सम्पर्क पोर्टल व जनसुनवाई के दौरान निस्तारित प्रकरणों की समीक्षा करते हुए जिला कलक्टर ने ने कहा कि ग्राम पंचायत मुख्यालय और पंचायत समिति स्तरीय जनसुनवाई में आने वाले प्रकरणों को 15 दिन में अनिवार्य रूप से निस्तारण हो। परिवादी को दिए गए जवाब के लिए अधिकारी की जवाबदेही होगी इसलिए जवाब अपलोड करने से पूर्व अधिकारी जवाब की तार्किकता की जांच करें।

*सिंगल यूज प्लास्टिक धरपकड़ के लिए गठित हो टीम*
जिला कलक्टर भगवती प्रसाद ने कहा कि 1 जुलाई से सिंगल यूज प्लास्टिक पूरी तरह से प्रतिबंधित है। इसके उपयोग पर कठोर कार्रवाई के लिए वन विभाग, नगर निगम और प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की एक संयुक्त टीम गठित हो, यह टीम नियमित औचक निरीक्षण कर सख्त कार्यवाही करें। इस दौरान विभिन्न विभागों की बजट घोषणाओं और फ्लैगशिप योजनाओं की भी समीक्षा की गई।

बैठक में जिला परिषद की मुख्य कार्यकारी अधिकारी नित्या के, अतिरिक्त जिला कलक्टर (शहर) पंकज शर्मा, नगर निगम आयुक्त गोपाल राम बिरदा, अधीक्षण अभियंता पीएचईडी राजेश पुरोहित, अधीक्षण अभियंता पीडब्ल्यूडी मुकेश गुप्ता, अधीक्षण अभियंता यूआईटी राजीव गुप्ता सहित सम्बंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply