IMG 20220628 WA0013

अचानक निरीक्षणों के दौरान कमियां मिली तो होगी कार्रवाई

0
(0)

जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक आयोजित

बीकानेर, 28 जून। जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक मंगलवार को जिला कलक्टर भगवती प्रसाद कलाल की अध्यक्षता में आयोजित हुई।
जिला कलक्टर ने कहा कि जिले के समस्त चिकित्सा केन्द्रों में सभी व्यवस्थाएं चाक-चौबंद रहें। समय-समय पर किए जाने वाले औचक निरीक्षणों के दौरान यदि किसी प्रकार की कमी पाई जाती है, तो संबंधित प्रभारी के विरूद्ध सख्त कार्यवाही की जाएगी।

उन्होंने कहा कि प्रत्येक मरीज को बेहतर इलाज उपलब्ध करवाना विभाग की सर्वोच्च प्राथमिकता है। इसमें किसी प्रकार की ढिलाई नहीं हो। मरीजों को निःशुल्क दवा और जांच योजना का शत-प्रतिशत लाभ मिले, यह सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने ब्लाॅक चिकित्सा अधिकारियों को सभी केन्द्रों के नियमित पर्यवेक्षण के निर्देश दिए। साथ ही केन्द्रों पर साफ-सफाई रखने, ड्यूटी टाइम के दौरान चिकित्सकों एवं अन्य स्टाफ की उपस्थित सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

जाजम बैठकों का महिलाओं को मिले लाभ
जिला कलक्टर ने कहा कि पुकार अभियान के तहत प्रत्येक बुधवार को आयोजित होने वाली जाजम बैठकों में चिकित्सा तथा महिला एवं बाल विकास विभाग के प्रतिनिधि अनिवार्य रूप से पहुंचे। इस दौरान गर्भवती-धात्री महिलाओं तथा किशोरियों के साथ संवाद किया जाए तथा पोषण, संस्थागत प्रसव, टीकाकरण, माहवारी स्वच्छता प्रबंधन आदि के बारे में बताएं। उन्होंने कहा कि इन बैठकों का लाभ अधिक से अधिक महिलाओं को मिले, यह सुनिश्चित किया जाए।

इन विषयों की हुई समीक्षा
जिला कलक्टर ने मौसमी बीमारियों, कोविड सैम्पलिंग और टीकाकरण, तम्बाकू नियंत्रण कार्यक्रम, एनिमिया मुक्त बीकानेर के तहत टेबलेट वितरण सहित विभिन्न बिंदुओं की समीक्षा की। उन्होंने मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत कम प्रगति वाले संस्थानों को गंभीरतापूर्वक कार्य करने के निर्देश दिए।

एनसीडी कार्यक्रम में जिला प्रथम रहने पर श्रेष्ठ कार्मिकों का हुआ सम्मान
गैर संचारी रोग नियंत्रण कार्यक्रम के अंतर्गत जिला गत छह माह में अंतिम तीन से प्रथम स्थान पर पहुंच गया है। इस संबंध में श्रेष्ठ कार्य करने वाले अधिकारियों व कार्मिकों को जिला कलेक्टर द्वारा सम्मानित किया गया। एनसीडी कार्यक्रम के जिला समन्वयक इंद्रजीत सिंह ढाका ने आशा, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, चिकित्सा अधिकारी, सुपरवाइजर व अन्य सभी वर्ग के सम्मानित कार्मिकों की उपलब्धियां बताई।
जनसंख्या पखवाड़े में मिलेगी परिवार कल्याण सेवाएं
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बीएल मीणा ने 27 जून से शुरू हुए जनसंख्या मोबिलाइजेशन पखवाड़ा के तहत घर-घर योग्य दंपति सर्वे करने, परिवार कल्याण साधनों का प्रचार-प्रसार की रूप रेखा बताई। जिला कलेक्टर ने 11 जुलाई को विश्व जनसंख्या दिवस से शुरू हो रहे जनसंख्या स्थिरीकरण पखवाड़े की पूर्ण तैयारियां संपन्न करने के निर्देश दिए।

बैठक में डिप्टी सीएमएचओ परिवार कल्याण डॉ. योगेंद्र तनेजा, डिप्टी सीएमएचओ डॉ लोकेश गुप्ता, आरसीएचओ डॉ राजेश कुमार गुप्ता, डब्ल्यूएचओ के अनुरोध तिवारी, डीपीएम सुशील कुमार, डीएनओ मनीष गोस्वामी, एपिडेमियोलॉजिस्ट नीलम प्रताप ढाका, यू पी एम नेहा शेखावत सहित समस्त ब्लॉक सीएमओ व चिकित्सा अधिकारी मौजूद रहे।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply