IMG 20220626 WA0031

बीकानेर की शान रक्त वीरों का सम्मान कार्यक्रम में 750 रक्तवीर एवं रक्तमित्र और 120 संस्थाएं सम्मानित

0
(0)

नेशनल अवॉर्ड सेरेमनी- 2022

बीकानेर। जयपुर जोधपुर बाइपास स्थित होटल गणेशम रिसोर्ट तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज रहा था। जहां विशाल सभा कक्ष में एक से बढ़कर एक रक्त वीर दाताओं का नाम जब मंच से पुकारा जा रहा था और जब उस शख्सियत के रक्तदान, प्लाज्मा डोनेट करने के दौरान आ रही परेशानी के बावजूद उनके द्वारा मानवता का फर्ज अदा करने के बारे में बताया जा रहा था, तब देखने और सुनने वालों की आंखों में चमक सी उठ रही थी। इसकी एक वजह यह भी थी कि हर एक रक्तदाता जिसने अपने जीवन काल में ना जाने कितनी बार रक्तदान कर अपने जान की परवाह ना कर न केवल दूसरों की जान बचाई , अपितु मानवता का भी फर्ज अदा किया।

संभवतः बीकानेर के इतिहास में यह पहला अवसर है जब पूरे भारत वर्ष से रक्तदान करने वाली संस्थाओं को एक मंच पर बुलाकर सम्मानित किया गया जहां, रक्त के साथ प्लाज्मा और प्लेटलेट्स देने वाले लोगों का सम्मान करते हुए हर्ष की अनुभूति हो रही हो , जिन्हें रक्तदान करने वालों की चलती फिरती बैंक कहा जाता है। ऐसे में रक्त वीरों का सम्मान करने वाली संस्था स्वयं आगंतुकों के सम्मान को अपना सम्मान एवं परम सौभाग्य मान रही थी। अवसर था बीकाणा ब्लड सेवा समिति की ओर से आयोजित नेशनल अवॉर्ड सेरिमनी 2022 का। समिति के बैनर तले करीब 1000 रक्त दाताओं और इस कार्य से जुड़ी संस्थाओं का सम्मान किया गया!

समिति के संस्थापक एवं राष्ट्रीय अध्यक्ष रवि व्यास पारीक ने बताया कि संस्था की ओर से देश के लगभग सभी राज्यों में रक्तदान करने वाली करीब 120 संस्थाओं और उनसे जुड़े सदस्यों का सम्मान शहर के गणमान्य नागरिकों द्वारा किया गया। सम्मान समारोह कार्यक्रम को संबोधित करते हुए महापौर सुशीला कंवर राजपुरोहित ने कहां कि यह सम्मान रक्तदाताओं का या ऐसा कार्य करने वाली संस्थाओं का नहीं बल्कि यह सम्मान हमारा है जो हमें रक्तदाता का सम्मान करने योग्य समझा गया है।

समिति के मीडिया प्रभारी रविशंकर ओझा ने बताया कि कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि पूर्व न्यास अध्यक्ष समाजसेवी –भामाशाह महावीर रांका ने अपने संबोधन में कहां कि कोरोना काल में अनेक अवसर ऐसे आए जब रक्तदान और प्लाज्मा डोनेट करने वालों की आवश्यकता महसूस हुई। उस वक्त बीकाणा ब्लड सेवा समिति का नाम जहन में सबसे पहले आता था और एक फोन के साथ रक्त की जरूरत पूरी हो जाती थी। रांका ने कहा कि यह पहला अवसर कोरोना काल के बाद है जब मुझे समिति को साधुवाद देने का अवसर मिला है। उन्होंने कहा कि समिति के इतने कम समय में रक्तदान संबंधी कार्यों की जितनी भी सराहना की जाए कम ही कही जाएगी।

समारोह में लोटस डेयरी के अविनाश मोदी , बीकानेर व्यापार उद्योग मंडल के अध्यक्ष जुगल राठी ,विंग्स अकेडमी के नरोत्तम, सोमेश्वर एवं ज्ञानेश्वर सहित गणमान्य जनों ने अपने संबोधन में रक्त वीरों की प्रशंसा कर उन्हें स्मृति चिन्ह प्रदान किए। बीकाणा ब्लड सेवा समिति के राष्ट्रीय सचिव विक्रम इच्छपुल्यानी ने बताया कि रक्त वीर सम्मान समारोह में पंजाब, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, चंडीगढ़ सहित भारत के सभी राज्यों से आए संस्थानों के सदस्यों एवं रक्तवीरों का सम्मान डॉ.सुशील फलोदिया, अरविंद सिंह शेखावत, डॉक्टर सी एस मोदी , डॉ .राधेश्याम, डॉक्टर एल.सी बैद, डॉक्टर विनोद असवाल सहित अतिथि गणों ने किया।

शहर अध्यक्ष मुकुंद ओझा ने बताया कि कार्यक्रम का सफल संचालन किशोर सिंह राजपुरोहित ने किया। संस्थान की ओर से आगंतुकों का आभार समिति के संस्थापक एवं राष्ट्रीय अध्यक्ष रवि व्यास पारीक ने माना। समिति के पदाधिकारी घनश्याम सारस्वत, दीपक सारस्वत ,चंचल शर्मा ,सुमित शर्मा ,रविशंकर ओझा, मुखराम जाखड़ , प्रदीप सिंह , गजेंद्र सिंह समिति की महिला राष्ट्रीय अध्यक्ष आशा पारीक, राष्ट्रीय सचिव अंजलि चाण्डक, रूपम राखेचा, स्वाति स्वामी, इंद्र कुमार चांडक ,पूजा माहेश्वरी आदि ने अतिथियों का स्वागत स्मृति चिन्ह देकर किया।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply