Picsart 22 06 17 22 37 32 406

व्यक्ति धर्म से बड़ा है राष्ट्र धर्म – गोपाल स्वामी

0
(0)

*24 कुंडीय गायत्री यज्ञ की पुर्णाहुति 18 को…*

*दीप-यज्ञ से जगमगाया यज्ञ पांडाल*

बीकानेर। अखिल विश्व गायत्री परिवार शांतिकुंज हरिद्वार की जिला शाखा गायत्री शक्तिपीठ एवं कल्याणी प्रज्ञा मंडल पवनपुरी के संयुक्त तत्वावधान में तीन दिवसीय 24 कुंडीय गायत्री महायज्ञ एवं संस्कार महोत्सव का आयोजन बल्लभ गार्डन स्थित आशीर्वाद गार्डन भवन में आयोजित किया जा रहा है।

जिला समन्वयक करनीदान चौधरी ने बताया कि पंडित श्रीराम शर्मा आचार्य के सूक्ष्म संरक्षण में देव स्थापना एवं मां गायत्री, नवग्रह तथा षोडश मातृका पूजन के साथ 24 कुंडीय गायत्री यज्ञ का शुभारंभ किया गया। शोभा सारस्वत द्वारा शंखनाद किया गया।
प्रत्येक कुंड पर विराजमान 24 मुख्य याजकों द्वारा संकल्पबद्ध होकर राष्ट्रीय धर्म, सामाजिक समरसता तथा जन मंगल के निमित्त गायत्री मंत्र, महामृत्युंजय मंत्र, रुद्र गायत्री, दुर्गा गायत्री, प्रखर प्रज्ञा तथा सजल श्रद्धा की विशेष आहुतियां दी गई।

इस अवसर पर निशुल्क संस्कार दीक्षा संस्कार, यज्ञोपवित, अन्नप्राशन, विद्यारम्भ, पुंसवन तथा जन्मदिवस संस्कार करवाये गये। जन-जन तक सद्विचार पहुंचाने के लिए 57 महिला-पुरुष ने ज्ञानदूत का संकल्प लिया। उपजोन प्रभारी नीलम शर्मा द्वारा जप-तप अनुष्ठान के लिए 55 महिलाओं को जल-व्रत के संकल्प दिलाये गये। जिसमें महिलायें एक दिन का केवल जल पीकर ही व्रत करेगी वहीं जल व्रत के समय गायत्री जप अनुष्ठान करेगी। नीलम शर्मा ने बताया कि देश भर में गायत्री जयंती पर प्रारम्भ किये गये वैश्विक जप-तप अभियान में क्रमिक जल उपवास संकल्प लेने वाला राजस्थान प्रदेश में बीकानेर पहला जिला बन गया है।

प्रमुख यज्ञाचार्य गोपाल स्वामी ने कहा कि व्यक्ति धर्म से राष्ट्र धर्म बड़ा होता है। राष्ट्रीय संपत्ति का संरक्षण करना हर भारतीय का कर्तव्य है। उन्होंने आगे कहा कि नशा मुक्त और स्वस्थ समाज देश की दशा और दिशा बदल सकता है। 24 कन्याओं द्वारा गायत्री चालीसा, महाआरती का संगीतमय सस्वर पाठ किया गया।

सायंकाल सत्र में 1008 दीपों के माध्यम से श्रद्धालुओं द्वारा संगीतमय दीप-यज्ञ किया गया। सैकड़ों दीपमाला से यज्ञ पंडाल जगमगाने लगा। इससे पूर्व शांतिकुंज हरिद्वार की केन्द्रीय टोली यज्ञाचार्य गोपाल स्वामी, बीरम सिंह तथा फलेन्द्र कुमार का नेमीचंद गहलोत, पवन कुमार ओझा, पिंटु तिवारी, सुल्ताना राम सिद्ध, राधा शर्मा, प्रमिला गंगल तथा धनंजय सारस्वत द्वारा स्वागत किया गया। वहीं गायत्री परिवार की पुर्व ट्रस्टी मधुबाला शर्मा, भागीरथ जांगिड़ तथा वयोवृद्ध सुरेन्द्र शर्मा को उल्लेखनीय सेवाओं के लिए केन्द्रीय टोली द्वारा विशेष सम्मानित किया गया।

*शनिवार को होगी पुर्णाहुति*
प्रातः 8 बजे से 12:15 बजे तक गायत्री यज्ञ एवं निशुल्क संस्कार के साथ 24 कुंडीय गायत्री यज्ञ की पुर्णाहुति हो जायगी।

*इन्होंने ने किया व्यवस्था सहयोग*
यज्ञ एवं संस्कार समारोह में गायत्री परिवार युवा शाखा डिवाइन इंडिया यूथ एशोसियेशन दिया के धनंजय सारस्वत, तरुण कुमार राठी, गोविंद राम केवटिया, राजेश साध, योगिता स्वामी, अन्नु कुमावत, अनीशा बिश्नोई ने व्यवस्था में सहयोग किया।

*इनका रहा मार्गदर्शन*
कार्यक्रम में सह प्रबंध ट्रस्टी इंजीनियर अमरसिंह वर्मा, जवाहर लाल गंगल, मदनलाल अग्रवाल, देवेन्द्र सारस्वत, जगजीत सिंह, विश्वप्रसाद पारीक, सीमा सिंह, राखी शर्मा, सरला चौधरी, शीला अग्रवाल, रामकुमार चौहान,शिव फोटो आर्ट, भारतभूषण गुप्ता तथा राधेश्याम नामा का मार्गदर्शन प्राप्त हुआ।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply