Picsart 22 05 26 22 18 02 846

धौलाधार पर्वत पर लापता हुए बीकानेर के तीन पर्वतारोहियों को अर्पित की श्रद्धांजलि

0
(0)

बीकानेर । धौलाधार पर्वत श्रृंखला के इंद्रहार पास पर 26 मई 1986 को लापता हुए बीकानेर के तीन पर्वतारोही अरविंद बोड़ा, भानु सोनी और सूर्य प्रकाश सुथार की 36वीं पुण्यतिथि पर आज सुबह डॉ. करणी सिंह स्टेडियम स्थित वॉल परिसर में सभा आयोजित कर उनका स्मरण करते हुए श्रद्धांजलि अर्पित की ।

संस्थान सचिव आरके शर्मा ने इस अवसर पर दी पायोनियर्स एडवेंचर सोसाइटी द्वारा आयोजित अभियान की विस्तृत रिपोर्ट प्रस्तुत की और बताया कि किस तरीके से मौसम खराब होने के कारण यह तीनों ही पर्वतारोही टीम से बिछड़ कर फस गए और बाद में संस्थान के खोजी दल को एक स्केलेटन और तीनों पर्वतारोहियों के सामान बरामद हुए थे । इसके बाद एक मेमोरियल ट्रैकिंग के दौरान ट्रीयूंड और इंद्रहर पास पर एक स्मृति शिलालेख स्थापित किया गया ।

इस अभियान दल के नेता राजेंद्र श्रीमाली ने बताया कि रीजनल माउंटेनियरिंग इंस्टीट्यूट से दल के सदस्य 24 मई को रवाना हो गए और ट्रीयूंड और लका गोट तक पदयात्रा कर कैंप स्थापित किया । 26 मई को दल जब इंद्रहार पास को पार कर रहे थे तभी मौसम खराब हो गया और बर्फबारी के कारण तीनों पर्वतारोही आगे निकल गए। शेष टीम इंदिरा पास से नीचे ही रह गई । तीनों पर्वतारोहियों ने जयनाद करते हुए संकेत दिए कि वे दो स्थानीय लोगों के साथ आगे जा रहे हैं । अगले दिन बर्फ के कारण शेष 10 सदस्य टीम इंद्रहार दर्रा पार नहीं कर सके और वे तीनों सदस्यों की अगुवाई के लिए चम्बा पहुंचे। वहां पहुंचने पर मालूम हुआ कि तीनों पर्वतारोही चंबा पहुंचे ही नहीं हैं।

तब इन्होंने जानकारी ली तो मालूम पड़ा कि गांव वाले इंद्रहार पास पार करने तक तो साथ थे लेकिन मौसम खराब होने के कारण वे टीम से बिछड़ गए इसके बाद रेस्क्यू टीम को भेजा गया व खोजबीन की गई लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला ।

पर्वतारोही मगन बिस्सा भी इस बीच एक अभियान को समाप्त कर मैकलोडगंज पहुंच गए और बीकानेर से गए आर के शर्मा व मुकेश यादव के साथ टीम बनाकर पुनः खोजबीन प्रारंभ की इस दौरान हिमाचल सरकार द्वारा भी हेलीकॉप्टर से खोजबीन की गई लेकिन खोजी दल को केवल टोपी, तेल की बोतल व दस्ताने ही मिल सके थे । इसके बाद पुनः सितंबर में खोजी दल इस क्षेत्र में गया जहां एक गडरिया के सूचना मिलने पर एक स्केलेटन और तीनों पर्वतारोहियों के सामान ही मिल पाए । इसके बाद सोसायटी द्वारा मगन बिस्सा के नेतृत्व में मेमोरियल ट्रैक का भी आयोजन किया गया ।

आज की सभा में नरेश अग्रवाल ने भी खोजी दल द्वारा किए गए प्रयासों की जानकारी दी। आज आयोजित कार्यक्रम में पुष्पांजलि देते हुए 2 मिनट का मौन रख उपस्थितों ने दिवंगत आत्मा की शांति की प्रार्थना की । सभा में पायोनियर राजेंद्र शर्मा, महेश भोजक, महेश पारीक, मुराद अली, सैयद मुश्ताक अली, साबिर अली, नरेंद्र आचार्य, बीएस गिल, उमा शंकर सुथार, रोहिताश्व बिस्सा, पार्थ मंगल, चुंबक, ओजस्वी बिस्सा, देव, श्रीराम शर्मा, राजकुमार सिंह सहित अनेक साहसी और हिमालय परिवार मोहर सिंह वर्मा शिव कुमार वर्मा सहित अन्य खिलाड़ी सदस्य उपस्थित थे।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply