Picsart 22 05 08 19 14 18 163

अध्यापिका सन्तोष पूनिया एवं अन्य भामाशाह नारी के गुप्त सहयोग से जल मन्दिर निर्माण

0
(0)

बीकानेर 8 मई। पुण्यात्मा महावीर सिंह पूनिया की स्मृति में विद्यालय में कार्यरत उनकी धर्मपत्नी सन्तोष कुमारी पूनिया अध्यापिका तथा अन्य भामाशाह नारी के गुप्त अर्थ सहयोग से राजकीय माध्यमिक विद्यालय पवनपुरी दक्षिण विस्तार बीकानेर में करीब 1.50 लाख की लागत से निर्मित जलमन्दिर समर्पित किया। विद्यालय प्रांगण में रविवार को भाजपा नेता डॉ सत्यप्रकाश आचार्य , बीकानेर जिला उद्योग संघ के अध्यक्ष डी. पी. पचीसिया, पार्षद पुनीत शर्मा, विपिन प्रकाश गोयल सेवानिवृत प्राचार्य विनोद जोशी अध्यक्ष पवनपुरी दक्षिण विस्तार विकास समिति के आतिथ्य में जलमन्दिर का शुभारम्भ कर विद्यालय को समर्पित किया गया।

इस अवसर पर संस्था प्रधान रचना गुप्ता ने बताया कि विद्यालय में कार्यरत अध्यापिका सन्तोष पूनिया द्वारा विद्यार्थियों की आवश्यकता को समझते हुए प्रेरक के रूप आगे बढ़कर स्वप्रेरणा से किए अर्थ सहयोग के कारण ही अन्य भामाशाह नारी शक्ति के प्रेरित होकर किए गए संयुक्त सहयोग से बनवाए गए जल मन्दिर से विद्यार्थियों को शीतल व स्वच्छ जल उपलब्ध हो सकेगा ।

डा सत्यप्रकाश आचार्य पूर्व जिलाध्यक्ष भाजपा ने कहा कि प्रेरक ही नहीं अपितु स्वप्रेरणा से जल व पर्यावरण के लिए समर्पण भावना से कार्य करने वाले व्यक्तियों को समाज में हमेशा उच्च स्थान मिलता है। क्योंकि जल व पर्यावरण दोनों ही व्यक्ति के जीवन को बचाने के महत्वपूर्ण अंग है। इसलिए मानव जीवन की रक्षा के लिए किया गया कोई भी सहयोग अपने आप में अतुलनीय है।

उद्योगपति डीपी पचीसिया ने कहा कि विद्यार्थी व शिक्षक के प्रेम भाव को आगे बढ़ाते हुए विद्यालय की अध्यापिका सन्तोष पूनिया व अन्य भामाशाह नारी द्वारा जल मन्दिर के निर्माण में किए गए अर्थ सहयोग से प्रेरित होकर विद्यालय की आवश्यकताओं को पूर्ण करने हेतु अन्य शिक्षकों को भी अपने सामाजिक दायित्व से जागृत होने का आह्वान किया।

पार्षद पुनीत शर्मा ने कहा कि जीवन में सकारात्मक सोच के साथ स्वप्रेरणा से किया गया कोई भी कार्य जीवन को आगे बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इसलिए व्यक्ति को हमेशा सक्रियता से मानव जीवन में काम आने वाले दैनिक संसाधनों को पूर्ण करने में सक्रिय भूमिका निभाते रहना चाहिए ।
विनोद जोशी ने कहा कि अपने सामाजिक दायित्व को जागृत करते हुए महिला शक्ति के स्वप्रेरणा से किये अर्थ सहयोग से निर्मित जल मन्दिर अपने आप में प्रेरणा पुंज है ।

इस अवसर पर भामाशाह अध्यापिका सन्तोष पूनिया, विजय व्यास, रवि आचार्य, अरविन्द शेखावत, किरणकंवर, नीलम शर्मा, विभा महर्षि अरविन्द जैन, सविता राव, नीलम, विमला मीणा, मो. रमजान आदि भी उपस्थित रहे ।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply