Picsart 22 05 05 15 33 21 370

सिंगल यूज प्लास्टिक उत्पाद 1 जुलाई से होंगे प्रतिबंधित, अवहेलना पर होगी सख्त कार्रवाई- कलक्टर

5
(1)

15 जून तक शून्य कर दिया जाए सिंगल यूज प्लास्टिक का स्टॉक- पचीसिया

सिंगल यूज प्लास्टिक प्रतिबंध जागरूकता कार्यशाला आयोजित

बीकानेर, 5 मई। सिंगल यूज प्लास्टिक प्रतिबंध के संबंध में जागरूकता के उद्देश्य से गुरुवार को रानी बाजार औद्योगिक क्षेत्र स्थित जिला उद्योग संघ सभागार में राजस्थान राज्य प्रदूषण नियंत्रण मंडल द्वारा जिला प्रशासन, जिला उद्योग केंद्र तथा नगर निगम के संयुक्त तत्वावधान में कार्यशाला आयोजित की गई। इसका उद्घाटन जिला कलक्टर भगवती प्रसाद कलाल ने किया।

जिला कलेक्टर ने कहा कि कार्यशाला आमजन में सिंगल यूज प्लास्टिक के खतरों तथा इनके विकल्प के रूप में पर्यावरणीय अनुकूल उत्पादों के उपयोग के प्रति जागरूकता पैदा करेगी। उन्होंने कहा कि विकास के साथ ऐसी चीजें तैयार ना हों, जो वातावरण को प्रदूषित करें तथा इनके दूरगामी बुरे प्रभावों हों। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा 1 जुलाई से सिंगल यूज प्लास्टिक का भंडारण, उत्पादन, विक्रय और परिवहन प्रतिबंधित किया जाएगा। इसके बाद सिंगल यूज़ प्लास्टिक से संबंधित आदेशों की अवलेहना करने वालों के खिलाफ सख्ती बरती जाएगी। उन्होंने आह्वान किया कि आमजन सिंगल यूज प्लास्टिक के वैकल्पिक उत्पादों को अपनाएं। इससे पर्यावरण भी संरक्षित और सुरक्षित रहेगा।

जिला उद्योग एवं वाणिज्य केंद्र की महाप्रबंधक मंजू नैण गोदारा ने बताया कि वर्तमान में सिंगल यूज प्लास्टिक के वैकल्पिक उत्पादों का उत्पादन करने वाले उद्यमियों को राज्य सरकार द्वारा प्रोत्साहित किया जाएगा तथा विभिन्न योजनाओं में ऋण, छूट और अनुदान का लाभ प्राथमिकता से दिया जाएगा।
जिला उद्योग संघ के अध्यक्ष द्वारका प्रसाद पचीसिया ने कहा कि आज विवाह तथा अन्य कार्यक्रमों में डिस्पोजेबल प्लास्टिक का उपयोग लगातार बढ़ रहा है। यह बेहद हानिकारक है। उन्होंने उद्यमियों को आह्वान करते हुए कहा कि उनके पास जमा सिंगल यूज प्लास्टिक का स्टॉक 15 जून तक शून्य कर दिया जाए।

मोदी डेयरी के एमडी अशोक मोदी ने कहा कि ऐसे कार्यक्रम भविष्य की दिशा तय करेंगे तथा सिंगल यूज़ प्लास्टिक के विरुद्ध चेतना जगाएंगे।
राजस्थान राज्य प्रदूषण नियंत्रण मंडल के क्षेत्रीय अधिकारी प्रदीप कुमार असनानी ने कहा कि सिंगल यूज प्लास्टिक के वैकल्पिक उत्पाद बनाने के लिए बीकानेर के उद्यमी आगे आएं। उन्होंने अतिथियों का आभार जताया।

इस दौरान मंडल के लैब प्रभारी डॉ. बी.के. सोनी, श्रीकुमार वैष्णव और इतिशा बबेरवाल ने विभिन्न प्रस्तुतीकरण के माध्यम से सिंगल यूज प्लास्टिक के खतरों और वैकल्पिक उत्पादों के बारे में बताया।
इस अवसर पर जिला कलक्टर ने सिंगल यूज प्लास्टिक के उपयोग न करने की शपथ दिलाई। कार्यक्रम में रीको के वरिष्ठ क्षेत्रीय प्रबंधक प्रवीण गुप्ता, बीकानेर जिला उद्योग संघ के सचिव वीरेंद्र किराडू, प्रकाश ओझा, वेद अग्रवाल, विनोद जोशी, प्रशांत कंसल, महेश कोठारी, विमल दम्माणी, परविंदर सिंह शेखावत, भंवर लाल सहारण, सुशील बंसल, दिलीप रंगा, शिवरतन पुरोहित, राजाराम सारडा, वैज्ञानिक अधिकारी गरिमा मिश्रा, कनिष्ठ वैज्ञानिक अधिकारी सूरजमल मीणा, कनिष्ठ पर्यावरण अभियंता गिरीश व्यास सहित उद्यमी एवं स्वयंसेवी संस्थाओं के प्रतिनिधि और आमजन मौजूद रहे।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 5 / 5. Vote count: 1

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply