Picsart 22 05 01 22 52 00 110

ओलंपिक सावे में परिणय सूत्र में बंधे जोड़ों को किया एफडी वितरण

0
(0)

*शिक्षा मंत्री डॉ. कल्ला और महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती भूपेश रहे मौजूद*

बीकानेर, 1 मई। परशुराम सेवा समिति द्वारा 19 फरवरी 2019 तथा 18 फरवरी 2022 को पुष्करणा ब्राह्मण समाज के सामूहिक विवाह (ओलंपिक सावे) में परिणय सूत्र में बंधे जोड़ों को एफडी वितरण तथा सम्मान समारोह नत्थूसर गेट के बाहर स्थित ओझा सत्संग भवन में आयोजित हुआ। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि शिक्षा मंत्री डॉ बी डी कल्ला थे।

उन्होंने कहा कि सामूहिक विवाह समारोहों से फिजूल खर्चों पर अंकुश लगता है। राज्य सरकार द्वारा इसे प्रोत्साहित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पूर्व में हर बार परकोटे को छत घोषित करवाना पड़ता था। अब सरकार द्वारा इसे स्थाई रूप से एक छत घोषित कर दिया है। उन्होंने बीकानेर के ओलंपिक सावे को पूरे देश के लिए मिसाल बताते हुए उन्होंने कहा कि सदियों पुरानी इस परम्परा को युवा पीढ़ी आगे को आगे बढ़ाएं।

महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती ममता भूपेश ने कहा कि सरकार द्वारा सामूहिक विवाह के दौरान दांपत्य सूत्र में बंधने वाले दंपती को अनुदान राशि दी जाती है। इसका उद्देश्य सामूहिक विवाह को बढ़ावा देना तथा विवाह कार्यक्रम पूर्ण सादगी से करना है। उन्होंने कहा कि परशुराम सेवा समिति द्वारा किए बीकानेर की इस परंपरा को आगे बढ़ाया जा रहा है, यह सराहनीय है। उन्होंने कहा कि संस्था सरकार की अन्य योजनाओं को भी जरूरतमंदों तक पहुंचाने का प्रयास करें।

परशुराम सेवा समिति के अध्यक्ष नवरतन व्यास ने संस्था की विभिन्न गतिविधियों के बारे में बताया।
कार्यक्रम की अध्यक्षता पंडित नथमल पुरोहित ने की। इस दौरान महापौर सुशीला कंवर, साहित्यकार शिवराज छंगाणी, सेवानिवृत्त पुलिस महानिरीक्षक बी. आर. ग्वाला, वरिष्ठ साहित्यकार शिवराज छंगाणी अतिथि के रूप में मौजूद रहे। प. जुगल किशोर ओझा (पुजारी बाबा) ने आगंतुकों का स्वागत किया। इस दौरान विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय कार्य करने वालों तथा बीकानेर के रम्मत कलाकारों का सम्मान किया गया।

*स्मारिका का किया विमोचन*
इस दौरान शिक्षा मंत्री और महिला बाल विकास मंत्री ने परशुराम सेवा समिति की स्मारिका का विमोचन किया। स्मारिका में संस्थान द्वारा सामाजिक सरोकारों के तहत किए गए कार्यों, ओलंपिक सावे के दौरान किए गए सेवा प्रकल्पों का संकलन किया गया है। इस दौरान समिति के अध्यक्ष नवरतन व्यास ने दोनों डॉ. कल्ला और श्रीमती भूपेश का चांदी का मुकुट पहनाकर अभिनंदन किया।

कार्यक्रम में प. राजेन्द्र किराडू, प. सुशील किराडू, प. अशोक किराडू, श्रीलाल व्यास, नथमल व्यास, श्रीनारायण जोशी, संजीव व्यास, पूनमचंद जोशी, मन्नी महाराज बिस्सा, बद्री प्रसाद ओझा, रामदेव छंगाणी, शिव कुमार व्यास, विष्णु दत्त व्यास, शिवरतन रगा, युगल किशोर छंगाणी, विजय कुमार पुरोहित, बलदेव व्यास, संजीव कुमार व्यास, नवनीत कुमार पुरोहित सहित बड़ी संख्या में शहरवासी मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन किशन कुमार ओझा ने किया।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply