Picsart 22 04 02 15 36 17 902

शिक्षा मंत्री डॉ. कल्ला ने किया सनातन पंचांग का विमोचन

0
(0)

बीकानेर, 2 अप्रैल। शिक्षा मंत्री डॉ. बी. डी. कल्ला ने श्री छः न्याति ब्राह्मण महासंघ द्वारा प्रकाशित सनातन पंचांग का शनिवार को रानी बाजार स्थित गौड़ ब्राह्मण सभा भवन में विमोचन किया।
इस अवसर पर डॉ. कल्ला ने कहा कि पंचांग हमारी सनातन संस्कृति को उजागर करता है। हमने विश्व को ज्योतिष, वेद और आयुर्वेद जैसे रत्न दिए हैं। इनसे दुनिया भर में हमारी विशिष्ठ पहचान बनी है। उन्होंने कहा कि ज्योतिष, वैदिक जमाने से आज तक अपना विशेष महत्व रखती है। ज्योतिषीय आधार पर की गई गणनाएं सटीक और तार्किक होती हैं। डॉ. कल्ला ने आह्वान किया कि सनातन धर्म के अनुयायियों द्वारा जन्मदिन, वैवाहिक वर्षगांठ जैसे उत्सव पंचांग की तिथियों के आधार पर मनाए जाएं।

शिक्षा मंत्री ने कहा कि वेदों और ऋचाओं को जानने वाले विद्वानों के ज्ञान का संकलन राजस्थान संस्कृत एकेडमी द्वारा किया जा रहा है। राज्य सरकार द्वारा बीकानेर सहित विभिन्न स्थानों पर वेद विद्यालय स्थापित किए गए हैं। जिनके माध्यम से वैदिक संस्कृति और ज्योतिष विद्या को आगे बढ़ाने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि युवा पीढ़ी को इस ओर बढ़ाएं, जिससे सनातन संस्कृति और अधिक पल्लवित हो सके।

सागर आश्रम के अधिष्ठाता श्री श्रीधर प्रकाश महाराज ने कहा कि सृष्टि का आरंभ चैत्र प्रतिपदा को हुआ। यही विक्रम संवत का प्रथम दिन होता है। उन्होंने कहा कि हमारी संस्कृति को संजोए रखना हमारा कर्तव्य है। उन्होंने तिथि, वार, नक्षत्र, योग और करण को पंचांग के पांच अंग बताए।
अतिरिक्त जिला कलेक्टर (नगर) अरुण प्रकाश शर्मा ने नव वर्ष की शुभकामनाएं दी और नव संवत्सर के महत्त्व के बारे में बताया।

श्री छः न्याति ब्राह्मण महासंघ के अध्यक्ष भवरलाल व्यास ने आगंतुकों का आभार जताया। महामंत्री पल्लवी शर्मा ने उपरना ओढ़ाकर अतिथियों का सम्मान किया। कार्यक्रम का संचालन करते हुए पाराशर नारायण शर्मा ने पंचांग में संकलित विभिन्न पहलुओं के बारे में जानकारी दी।
इस दौरान कामेश्वर प्रसाद सहल, डॉ. मोहनलाल जाजड़ा, डॉ. पवन दाधीच, राकेश ओझा आदि बतौर अतिथि मौजूद रहे। वेद पाठशाला के बालकों ने श्रीसुक्त, शांतिपाठ, अथर्वशीर्ष सहित वेदों की विभिन्न ऋचाएं पढ़ी।

कार्यक्रम में महासंघ की महिला प्रकोष्ठ अध्यक्ष चारु शर्मा, राजनैतिक प्रकोष्ठ अध्यक्ष हरिगोपाल उपाध्याय, युवा प्रकोष्ठ अध्यक्ष गजानंद शर्मा, नगर अध्यक्ष अरविंद शर्मा, लोकसेवा प्रकोष्ठ अध्यक्ष अरुण कुमार पाण्डे, व्यवसाय प्रकोष्ठ अध्यक्ष लोकेश चतुर्वेदी,किशोर न्याय बोर्ड की सदस्य किरण गौड़, तहसील अध्यक्ष रमेश पारीक तथा विधि प्रकोष्ठ अध्यक्ष मनोज सुरोलिया सहित अनेक लोग मौजूद रहे।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply