Picsart 22 02 13 09 47 06 920 1

गोचर दीवार निर्माण के लिए महिलाओं ने कर दिए हजारों रूपए गुप्तदान

0
(0)

गोचर बचाओ : समर्थन में आए गौशाला संचालक व भामाशाह

– मित्तल परिवार व अग्रवाल समाज की ओर से 1 किमी दीवार निर्माण में सहयोग का ऐलान

बीकानेर । गोचर , ओरण व चारागाह की जमीन पर कब्जों के नियमन करने के राज्य सरकार के फैसले के बाद से बीकानेर में पूर्व मंत्री देवी सिंह भाटी का शरह नथानियान गोचर भूमि में चल रहे बेमियादी धरना के 31 वें दिन बीकानेर जिले की 190 गौशालाओं के संचालकों ने धरना स्थल पर आकर गोचर आन्दोलन का समर्थन किया। वहीं बीते शुक्रवार को जानकी महल आश्रम श्रीवृन्दावन धाम के महंत भरत शरण महाराज ने धरना स्थल पर भाटी को विजय का आशीर्वाद दिया।

गोचर दीवार निर्माण को लेकर धरना स्थल पर भामाशाहों में होड़ मची हुई है । विनय – नीतू मित्तल परिवार ने गोचर में एक किलोमीटर दीवार निर्माण ( लागत लगभग 21 लाख रूपए ) अपने स्तर पर करवाने का ऐलान किया । वहीं राजाराम धारणियां व केसरदेसर के प्रयागराज चांडक ने 51-51 हजार रूपए की राशि, मुल्तान चांडक बरसलपुर ने 5 हजार रूपए, डॉ . दिलीप सिंह टोकला व रमेश अग्रवाल खाजूवाला ने 11-11 हजार रूपए व गोविंदसिंह ने 2600 रुपए पूर्व मंत्री भाटी को भेंट किए। धरना स्थल पर चल रहे श्रीमद् भावगत कथा ज्ञान यज्ञ में आई महिलाओं ने दीवार निर्माण के लिए हजारों रूपए गुप्तदान किए।

धरना स्थल पर चल रही बालसंत छैल बिहारी महाराज की भागवत कथा सुनने 5 वें दिन हजारों लोग पहुंचे। भाटी के प्रवक्ता सुनील बांठिया ने बताया कि शनिवार को बीकानेर गौशाला संघ बीकानेर जिले की 190 गौशालाओं के संचालक अपने कार्यकर्ताओं के साथ धरना स्थल पहुंचे। इनमें मुख्य रूप से दुड़ाराम कुलरिया तहसील संरक्षक नोखा , जगदीश स्वामी तहसील अध्यक्ष श्रीडूंगरगढ़ , भैराराम रोज तहसील अध्यक्ष लूणकरणसर, पन्नालाल तहसील अध्यक्ष बीकानेर , हनुमान चौधरी तहसील अध्यक्ष नोखा , शंकरलाल पारीक तहसील अध्यक्ष खाजूवाला, सुरेश जोशी मोमासर वरिष्ठ उपाध्यक्ष बीकानेर गौशाला संघ , मालाराम बापेऊ जिला संयोजक गौ ग्राम सेवा संघ , महेन्द्र सिंह लखासर प्रदेश कार्य समिति सदस्य गौ ग्राम सेवा संघ राजस्थान, निरंजन सोनी मंत्री बीकानेर गौशाला संघ , सूरजमालसिंह नीमराणा गौ ग्राम सेवा संघ के कार्यवाहक प्रदेशाध्यक्ष, रमेश बंसल खाजूवाला गौशाला धरने पर सैकड़ों समर्थकों के साथ पहुंचे।

जैसे ही ये संचालक धरना स्थल पर पहुंचे पूर्व जिलाध्यक्ष रामकिशन आचार्य , अंशुमानसिंह भाटी , समाजसेवी देवकिशन चांडक , बेगराज नागपाल पूर्व अध्यक्ष बीछवाल उद्योग संघ , राधा देवी सियाग पूर्व प्रधान पंचायत समिति बीकानेर, प्रतापसिंह राठौड़, विजय उपाध्याय , गीता प्रचारक प्रभुदयाल राजपुरोहित व तोलाराम बोथरा ने स्वागत किया। जानकी महल आश्रम श्रीवृन्दावन धाम के महंत भरत शरण महाराज ने धरना स्थल पर पहुंच कर भाटी को आशीर्वाद दिया । इस अवसर पर उन्होंने कहा कि वे कृष्ण की नगरी से आए है । मैं पूरे वृन्दावन धाम की तरफ से गाय व गोचर के लिए देवी सिंह भाटी द्वारा किए जा रहे इस आन्दोलन का न सिर्फ समर्थन करता हूँ वरन् जगत् जननी गौ माता को न्याय दिलाने के लिए संत समाज उनके साथ खड़ा है।

वेद बिना मति नहीं और गाय बिना गति नहीं

इस अवसर पर श्याम गिरि महाराज रातड़िया, अजरानंद भारती महाराज राम कुटिया, सुखदेव महाराज गड़ियाला , चन्द्रशेखर महाराज भेलू ने उपस्थित गौ भक्तों को सम्बोधित करते हुए कहा कि देवी सिंह भाटी गृहस्थी जीवन बिताते हुए भी गायों के लिए संन्यासी जैसा जीवन बिता रहे है। गौ धन के लिए उनके द्वारा किये जा रहे प्रयास अन्य जनप्रतिनिधियों के लिए प्रेरणा बने हम परमपिता से प्रार्थना करते है । उन्होंने उपस्थित जन समुदाय से कहा कि वे निस्वार्थ भाव से गायों के लिए आ रहे है इतिहास आपकों भी याद रखेगा । संतों ने राज्य सरकार को लक्षित करते हुए कहा कि वेद बिना मति नहीं और गाय बिना गति नहीं , सरकार प्रेम भाव से नहीं सुनती है तो दूसरे रास्ते भी जानते हैं । गाय के बिना सद्गति प्राप्त नहीं होगी ।

भागवत कथा में पांचवें दिन पं . रवि कुमार सारस्वत ने
भागवत पूजन विनय – नीतू मित्तल दम्पति से कराया । इस अवसर पर कथावाचक बालसंत छैल बिहारी महाराज ने अपनी कथा में कृष्ण के नामकरण , बाललीला, शकटासुर वध , माखन चोरी व पुतना उदार की कथा सुनाई। गिरिराज धरण लीला प्रसंग के साथ आग गोचर भूमि में कथा में छप्पन भोग का प्रसाद चढ़ाया गया।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply