IMG 20220129 WA0050

ऐसे करें उन्नत किस्म की अनार का उत्पादन

0
(0)

प्रशिक्षण में किसानों ने सीखी तकनीक

बीकानेर, 29 जनवरी। कृषि अनुसंधान केंद्र, बीकानेर पर अनार फसल पर संचालित राष्ट्रीय कृषि विकास परियोजना के अंतर्गत गोविंदसर गांव में अनार की उन्नत उत्पादन तकनीक पर एक दिवसीय प्रशिक्षण आयोजित किया गया। परियोजना के प्रभारी व उद्यान वैज्ञानिक डॉ राजेन्द्र सिंह राठौड़ ने बताया कि प्रशिक्षण में 50 किसानों को अनार के लिए उपयुक्त मिटटी, उन्नत किस्मे, खाद व उर्वरकों का प्रबंधन, सिचाई की अवस्थाएँ, पृनिंग का तरीका, व तुड़ाई उपरांत प्रबंधन के बारे में विस्तार से बताया। डॉ बी डी एस नाथावत, सहायक आचार्य ने अनार में लगने वाले रोगों के बारे में बताया तथा किसानों को रसायनों के स्थान पर जैव कीटनाशकों व फफूंदनाशको के प्रयोग के बारे में बताया तथा किसानों को जैविक उत्पादन के लिए प्रेरित किया। डॉ एस पी सिंह, सहायक आचार्य ने अनार के गुणवत्तापूर्ण उत्पादन पर मौसम के पड़ने वाले प्रभाव व छोटे पौधों को विपरीत परिस्थितियों से कैसे सुरक्षित रखने के बारे में बताया। डॉ दुर्गा सिंह राठौड़, वरिष्ठ वैज्ञानिक व प्रभारी, कृषि विज्ञान केंद्र ने अनार में लगने वाले कीड़ों से बचाव के उपाय बताए। डॉ प्रियंका ने नर्सरी तैयार करने के बारे में किसानों को बताया।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply