Screenshot 20220127 205701 Chrome

पुष्करणा ब्राह्मण समाज के सावे पर दांपत्य सूत्र में बंधने वालों को मिलेगा अनुदान

0
(0)

शिक्षा मंत्री डॉ. कल्ला ने की व्यवस्थाओं की समीक्षा
बीकानेर, 27 जनवरी। शिक्षा मंत्री डॉ. बी.डी. कल्ला ने कहा कि पुष्करणा ब्राह्मण समाज के सामूहिक सावे के दौरान दांपत्य सूत्र में बंधने वाले नवविवाहितों को राजस्थान सामूहिक विवाह योजना के तहत अनुदान राशि दी जाएगी। इसके लिए शहरी परकोटे को एक छत मानते हुए राशि स्वीकृति के आदेश जारी करवा दिए गए हैं।
डॉ. कल्ला गुरुवार को सावे के दौरान प्रशासनिक स्तर की व्यवस्थाओं के संबंध में अधिकारियों के साथ चर्चा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सावा पुष्करणा ब्राह्मण समाज का महत्वपूर्ण कार्यक्रम है। इस बार सावे के तहत 18 फरवरी को बड़ी संख्या में सामूहिक विवाह होंगे। इस दौरान दांपत्य सूत्र में बंधने वाले नवयुगल को पूर्व की भांति प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। इसके लिए सरकार स्तर से मंजूरी दिलवा दी गई है। इस दौरान उन्हें सावे से पूर्व शहरी क्षेत्र की सड़कों को दुरुस्त करने के लिए सार्वजनिक निर्माण विभाग, साफ सफाई के लिए नगर निगम, सावे के दौरान पानी और विद्युत की निर्बाध आपूर्ति के लिए जलदाय और विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि सभी संबंधित विभाग पूर्ण गंभीरता से कार्य करें। उन्होंने कहा कि सावे के दौरान पुष्करणा समाज के लोग बड़ी संख्या में कोलकाता, बंगलौर और अन्य स्थानों से आते हैं, ऐसे में इन्हें किसी प्रकार की परेशानी नहीं हो, यह सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने 5 फरवरी तक सभी आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश दिए तथा कहा कि इसके बाद एक बार फिर समूची तैयारियों की समीक्षा की जाएगी। बता दें पुष्करणा ब्राह्मण समाज के सामूहिक विवाह की परम्परा सावा सदियों पुरानी हैं। पहले सावा हर चार साल से आता था, लेकिन अब यह दो सालों से तय होने लगा है।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply