IMG 20220119 WA0021

गोचर बचाने के लिए बड़ी संख्या में जुटने लगे हैं अनेक संगठन

0
(0)

हिन्दू जागरण मंच व बीकानेर बार एसोसिएशन का देवीसिंह भाटी के धरने को समर्थन

भाटी का अनिश्चितकालीन धरना जारी

बीकानेर । गोचर ओरण व चारागाह की जमीन पर कब्जों को नियमित करने के राज्य सरकार के फैसले के बाद से बीकानेर में पूर्व मंत्री देवी सिंह भाटी सरह नथानिया गोचर भूमि में धरने पर बैठे हैं। धरना स्थल पर सुंदर कांड के पाठ हो रहे है तो अनवरत भजन, कीर्तन व वैदिक मंत्रोच्चार हो रहा है। भाटी के इस धरने को शहरी व ग्रामीण क्षेत्र से गौ प्रेमियों का लगातार समर्थन मिल रहा है। वहीं गोचर दीवार निर्माण में सहयोग देने के लिए दानदाता भी आगे आ रहे है। जवानाराम नायक ने दीवार निर्माण के लिए 51 हजार रुपए भेंट किए। बुधवार को स्वामी विशोकानंद ने पूर्व मंत्री देवी सिंह भाटी से फोन पर वार्ता कर गौ माता के लिए दिए जा रहे धरने को उचित कदम बताया। विशोकानंद वर्तमान में अहमदाबाद प्रवास पर है । आज धरना स्थल पर सन्त सुरजीत नाथ राजलदेसर,कृष्ण नाथ व विलास नाथ ने धरने पर आकर भाटी के धरने को धर्म संगत बताया ।

धरनास्थल पर सुंदरकाण्ड पाठ

भाटी के प्रवक्ता सुनील बांठिया ने बताया बुधवार को धरनास्थल पर बीकानेर शहर के मानस प्रेमियों ने सुंदरकाण्ड पाठ किया । धरने पर राष्ट्रवादी संगठन हिन्दू जागरण मंच व आर एस एस के पदाधिकारियों व बार एसोसिएशन बीकानेर, राजस्थान स्टेट गौशाला फेडरेशन के संयुक्त सचिव व प्रधानमंत्री की किसानों की आय दोगुनी करने वाली कमेटी के सदस्य कान सिंह निर्वाण , हिन्दू जागरण मंच के जेठानंद व्यास , बीकानेर बार एसोसिएशन के अध्यक्ष कमल नारायण पुरोहित ने वकीलों के साथ आकर भाटी के धरने को अपना समर्थन दिया। इस अवसर पर निर्वाण ने कहा कि भाटी जी ने यह जो धरना दिया है उसे राजस्थान के गो प्रेमियों को एक बल मिला है उन्होंने कहा कि बाकी के आह्वान पर राजस्थान के गौ भक्त बीकानेर आने को लालायित हैं । उनको इंतजार है तो भाटी के आह्वान का। निर्वाण ने कहा कि सरकार का गोचर पर पट्टे काटने का निर्णय गलत है इस निर्णय को वापस लेना ही होगा। बार एसोसिएशन बीकानेर के अध्यक्ष कमल नारायण पुरोहित ने कहा राज्य सरकार का यह निर्णय विधि समत्त नहीं है इसे सरकार को वापिस लेना ही होगा।

गोचर बचाने के लिए सक्रिय हो जनप्रतिनिधि

हिंदू जागरण मंच के प्रांत संयोजक जेठानंद व्यास ने कहा राज्य सरकार का गाय की जमीन पर कब्जे करवाने का प्रयास हिंदुओं की भावनाओं से खिलवाड़ करना है उसे राष्ट्रवादी संगठन कभी बर्दाश्त नहीं करेंगे । व्यास ने भाटी के इस धरने को सकारात्मक पहल बताते हुए अन्य जनप्रतिनिधियों से गौ धन के लिए चलाए जा रहे इस आन्दोलन में सक्रिय होने का आह्वान किया। व्यास के साथ शिष्टमंडल में प्रांत विधि प्रमुख शैलेश गुप्ता अंकित भारद्वाज महानगर संयोजक मुकेश आदरणीय अध्यक्ष आर एस एस के कैलाश भार्गव दुर्गा शंकर आचार्य सहित अनेक आर एस एस से जुड़े प्रबुद्ध जनों ने भाटी के आंदोलन को अपना समर्थन दिया। ग्रामीण क्षेत्र से हेमाराम सुथार बाबू राम राइका रामस्वरूप मानकासर दीवान सिंह भाटी सरपंच गजे सिंह रामलाल जाट ललमदेसर मोहन लाल सियाग राजू सिंह सोढा जगदीश कुमावत शंकर लेघा मंडाल सहित सैकड़ों ग्रामीणों ने धरना स्थल पर पहुंचकर भाटी के इस कार्य को अनुकरणीय बताया।

तिरंगा यात्रा के साथ पहुंची महिलाएं

धरना स्थल पर शहर की विभिन्न मानस प्रचार समितियों के पदाधिकारियों ने सुंदरकांड पाठ किया। पार्टियों में सीए महेंद्र चुरा भंवर पुरोहित नरेश पुरोहित शिवजी सेवक राहुल मारू गिरधारी कुकणा वसंत महाराज श्रीकांत आसोपा सहित 50 से अधिक मानस प्रेमियों ने सुंदरकांड का पाठ किया।
धरना स्थल पर अलका विश्नोई के नेतृत्व में सीता गहलोत , राजकुमारी व मधु पारीक सहित बीसियों महिलाए तिरंगा यात्रा लेकर पहुंची व भाटी के धरने को समर्थन दिया।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply