TID-Logo

बच्चों, बुजुर्गों व फ्रंटलाइन वर्कर्स के कोविड वैक्सीनेशन को लेकर जारी हुई गाइडलाइन

0
(0)

बीकानेर । कोविड-19 वैक्सीनेशन के तहत 15 से 18 वर्ष तक के बच्चों का कोविड टीकाकरण एवं स्वास्थ्यकर्मी, फ्रन्टलाइन वर्कर्स व 60 वर्ष से अधिक आयु के रोगग्रस्त व्यक्तियों को कोविड वैक्सीन की प्रिकॉशन डोज लगाने को लेकर विशिष्ट शासन सचिव एवं मिशन निदेशक एनएचएम अरुणा राजोरिया दिशा निर्देश जारी किए हैं।

लाभार्थियों का वैक्सीनेशन NTAGI & STSC की सिफारिशों के आधार पर किया जाना है • कोविड-19 वैक्सीनेशन के तहत 15 से 18 वर्ष तक के बच्चों का कोविड टीकाकरण 03 जनवरी 2022 से शुरू किया जाना है। बच्चों के कोविड वैक्सीनेशन हेतु केवल कोवैक्सीन वैक्सीन का उपयोग किया जायेगा।

● 15 से 18 वर्ष तक के बच्चों के कोविड टीकाकरण के लिए उनकी जन्म तिथि 2007 से पूर्व की होनी चाहिए। लाभार्थियों द्वारा अपना रजिस्ट्रेशन 01 जनवरी 2022 से कोविन साफ्टवेयर पर आनलाईन व

कोविड वैक्सीनेशन केन्द्र पर आकर करवाया जा सकता है। • बच्चों के लिए अलग से कोविड वैक्सीनेशन सैशन साईट तैयार कर उस पर नाम लिखकर प्रदर्शित किया जावे व अलग से वैक्सीनेशन टीम लगाकर बच्चों का टीकाकरण किया जाए।

. 10 जनवरी 2022 से स्वास्थ्यकर्मी फ्रन्टलाईन वर्कर्स जिन्होने कोविड वैक्सीनेशन की प्रथम एवं द्वितीय डोज प्राप्त कर ली है को कोविड वैक्सीन की प्रिकॉशन डोज लगाई जायेगी। यह प्रिकॉशन डोज लाभार्थी के द्वितीय डोज लेने के 9 माह यानि की 39 सप्ताह बाद लगाई जायेगी। • ऐसे फन्टलाईन वर्कर जिनकी चुनाव में ड्यूटी लगाई जानी है उनको प्राथमिकता से प्रिकॉशन
डोज देना सुनिश्चित करें। ● 60 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्ति एवं 60 वर्ष से अधिक आयु के रोगग्रस्त व्यक्तियों को (चिकित्सक की सलाह पर ) जिन्होने कोविड वैक्सीनेशन की प्रथम एवं द्वितीय डोज प्राप्त कर ली है को कोविड वैक्सीनेशन की प्रिकॉशन डोज लगाई जायेगी। यह डोज प्रिकॉशन डोज लाभार्थी को द्वितीय डोज लेने के 9 माह यानि की 39 सप्ताह बाद 10 जनवरी 2022 से लगाई जायेगी।

• 60 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्ति एवं 60 वर्ष से अधिक आयु के रोगग्रस्त व्यक्तियों को चिकित्सक द्वारा जारी किसी भी प्रकार के प्रमाणपत्र प्रस्तुत करने की आवश्यकता नहीं होगी। • प्रिकॉशन डोज लगाते समय कुछ लाभार्थी द्वारा उनके चिकित्सक से प्रिकॉशन डोज लगाने के सम्बन्ध में आवश्यक सलाह प्राप्त की जा सकती है।

• लाभार्थियों द्वारा अपना रजिस्ट्रेशन कोविन साफ्टवेयर पर आनलाईन व कोविड वैक्सीनेशन केन्द्र पर आकर आनलाईन करवाया जा सकता है।

• सभी लाभार्थियों को सरकारी कोविड वैक्सीनेशन केन्द्रो पर प्रिकॉशन डोज निशुल्क उपलब्ध करवाई जावेगी। ऐसे लाभार्थी जो प्रिकॉशन डोज का भुगतान करने में सक्षम है उन्हें निजि अस्पतालों के कोविड वैक्सीनेशन केन्द्रो पर पूर्व में अनुमोदित दरों पर वैक्सीनेशन करवाने हेतु प्रोत्साहित किया जावे। आवश्यक सुविधाएं / फीचर उपलब्ध करवा दिया जायेगा।

कोविन साफ्टवेयर में उक्तानुसार कोविन साफ्टवेयर से सर्टिफिकेट डाउनलोड किया जा सकेगा।

प्रतीक्षा कक्ष- हवादार कमरा, लाभार्थियों के बैठने के लिए पर्याप्त स्थान की उपलब्धता (जिससे व्यक्तियों के बीच भौतिक दूरी की पालना हो सके) हाथ धोने के लिए पानी साबुन या हैण्ड सैनिटाइजर्स की व्यवस्था पीने के पानी व शौचालय की व्यवस्था उपलब्ध होनी चाहिए। के बैठने की उचित व्यवस्था के साथ

• टीकाकरण कक्ष टीकाकर्मी, जांचकर्ता और लाभार्थी लोजिस्टिक रखने की पर्याप्त व्यवस्था हो।

• निगरानी कक्ष हवादार कमरा लाभर्थियों के बैठने के लिए पर्याप्त स्थान की उपलब्धता (जिससे व्यक्तियों के बीच भौतिक दूरी की पालना हो सके), पीने के पानी व शौचालय की व्यवस्था उपलब्ध होनी चाहिए।

• बच्चों को टीका लगाने के पश्चात 30 मिनिट तक बैठायें व उसे निगरानी में रखें। • प्रत्येक सैशन साईट पर एनाफाइलेक्सिस किट की उपलब्धता सुनिश्चित करें व एईएफआई प्रबन्धन की सुविधा उपलब्ध होनी चाहिए।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply