TID-Logo

92 वर्षीय दादी ने अपना हक त्याग शिविर में ही करवाया खाता विभाजन

0
(0)

बीकानेर, 29 नवंबर। प्रशासन गांवों के संग अभियान के तहत जिले में लग रहे शिविर बरसों से खाता विभाजन के लम्बित प्रकरणों के निस्तारण का अवसर प्रदान कर ग्रामीणों के लिए राहत लेकर आ रहे हैं। मनाफरसर में सोमवार को आयोजित शिविर एक परिवार के लिए बेहद संतोषजनक रहा जहां 92 वर्षीय केसर कंवर पत्नी स्व. हिम्मत सिंह ने शिविर प्रभारी के समक्ष उपस्थित होकर निवेदन किया कि उनके हक की जमीन उनके बेटों व पोतों को सौंप दी जाए। केसर कंवर ने बताया कि उनकी उम्र 92 वर्ष हो चुकी है। रोही मनाफरसर की 7.77 व रोही धीरदान की 9.44 भूमि में से अपना हक वह पुत्रों व पोत्रों को देना चाहती हूं ताकि मेरे पुत्र व पोत्र आपसी सहमति से खाता विभाजन करवा सके।

शिविर प्रभारी ने तहसीलदार लूनकरसर को हक त्याग डीड तैयार करवाकर पंजीयन करने व साथ ही खाता विभाजन के निर्देश प्रदान किये। तहसीलदार द्वारका प्रसाद शर्मा ने हक त्याग पंजीयन कर शिविर स्थल पर ही नामांतरण दर्ज किया तथा खाता विभाजन प्रस्ताव पारित कर सम्बल प्रदान किया। एक ही दिन में हक त्याग व सहमति से हुए खाता विभाजन पर सहखातेदार बहुत खुश हुए और सरकार के अभियान व प्रशासन का धन्यवाद दिया। सभी का कहना था कि इस संबल से अब वे अपनी भूमि का उपयोग करने के साथ-साथ सरकार की योजनाओं का भी लाभ ले सकेंगे।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply