IMG 20211027 WA0046

सरकार द्वारा संचालित विभिन्न ऋण योजनाओं का प्रभावी क्रियान्वयन करें बैंक- कलक्टर

0
(0)

क्रेडिट आउटरीच कार्यक्रम के तहत प्रदान किए 450 करोड़ रुपये के ऋण

बीकानेर, 27 अक्टूबर। जिला अग्रणी बैंक द्वारा बुधवार को रानी बाजार औद्योगिक क्षेत्र स्थित जिला उद्योग संघ सभागार में क्रेडिट आउटरीच कार्यक्रम आयोजित किया गया। इसमें सार्वजनिक और निजी क्षेत्र में जिले में कार्यरत 23 बैंकों ने भागीदारी निभाई। इस दौरान एमएसएमई, हाउसिंग, कार, खुदरा तथा सरकारी वित्त पोषित योजनाओं के 300 से अधिक लाभार्थियों को लगभग 450 करोड़ रुपये के लोन प्रदान किए गए।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि जिला कलक्टर नमित मेहता थे। उन्होंने कहा कि जरूरतमंद व्यक्तियों को समाज की मुख्यधारा से जोड़ने के लिए सरकार द्वारा चलाई जाने वाली विभिन्न ऋण योजनाओं का सभी बैंक प्रभावी क्रियान्वयन करें। इसके लिए शाखावार लक्ष्य निर्धारित किए जाएं तथा उच्च स्तर पर इसकी नियमित समीक्षा हो। उन्होंने कहा कि प्रशासन शहरों के संग अभियान के तहत आयोजित हो रहे शिविरों में इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना के तहत अधिक से अधिक पात्र लोगों को लाभान्वित करने के प्रयास किए जाएं। इसमें जिला प्रशासन के सभी विभागों का प्रभावी सहयोग रहेगा। उन्होंने क्रेडिट आउटरीच कार्यक्रम को अच्छी पहल बताया तथा कहा कि बढ़ती हुई बैंकिंग सेवाओं का अधिक से अधिक लोग लाभ उठाएं। बैंकर्स भी इसमें सकारात्मक भागीदारी निभाई।

एसबीआई के उप महाप्रबंधक सुशील कुमार ने कहा कि कोरोना संक्रमण के दौर में देश की अर्थव्यवस्था लगभग रुक गई। अनेक लघु कुटीर उद्योग बंद हो गए। इस दौर में निचली इकाइयां सबसे अधिक प्रभावित हुई। इन्हें संबल देने के उद्देश्य से भारत सरकार द्वारा क्रेडिट आउटरीच कार्यक्रम प्रारंभ किया गया है।

वर्षा तनु ने आरसेटी द्वारा पुलिस कार्मिकों के परिजनों के लिए आयोजित किए जा रहे रोजगार परक प्रशिक्षण को उपयोगी बताया तथा कहा कि ऐसे प्रयासों से असंगठित क्षेत्रों में काम करने वाले लोगों को संगठित रूप से काम करने का अवसर मिलेगा। उन्होंने कहा कि बैंकों द्वारा महिलाओं को स्वावलम्बी बनाने की दिशा में अधिक से अधिक कार्य करना चाहिए।

अग्रणी जिला प्रबंधक एम.एम.एल. पुरोहित ने बताया कि त्योहारी सीजन को देखते हुए केंद्र सरकार द्वारा 16 से 31 अक्टूबर तक क्रेडिट आउटरीच कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा हैं। इसका मुख्य उद्देश्य लोन प्रवाह को बढ़ाते हुए जरूरतमंद लोगों की सहायता करना हैं। उन्होंने कहा कि इसके लिए बीकानेर सहित पांच जिलों में मेगा कैम्प आयोजित किए गए।

जिला उद्योग संघ के अध्यक्ष द्वारका प्रसाद पचिसिया ने आह्वान किया कि जिले में औद्योगिक विकास को नए आयाम मिले, इसके लिए सभी बैंकों द्वारा उद्योग विभाग से संबंधित योजनाओं का समयबद्ध लाभ उपलब्ध कराया जाए। उन्होंने बीकानेर में औद्योगिक विकास के लिए मेगा फूड पार्क, ड्राई पोर्ट, गैस पाइपलाइन तथा हवाई सेवाओं में विस्तार की आवश्यकता जताई।

इस दौरान पीएनबी के जोनल हेड संजीव कुमार, बैंक ऑफ बड़ौदा के सहायक महाप्रबंधक योगेश यादव ने विचार व्यक्त किए। कार्यक्रम में आईसीआईसीआई बैंक के सहायक महाप्रबंधक बृजमोहन बाहेती, एचडीएफसी के सर्किल विक्रम सिंह, एसबीआई के सहायक महाप्रबंधक हरीश राजपाल, अनिल शाहा, रमेश अग्रवाल तथा वीरेन्द्र किराडू मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन ज्योति प्रकाश रंगा ने किया।

इस दौरान जिला कलक्टर नमित मेहता सहित अन्य अतिथियों ने विभिन्न योजनाओं के लाभान्वितो को चेक प्रदान किए। जिला कलक्टर ने बैंकों और सरकारी विभागों द्वारा लगाई गई प्रदर्शनी का उद्घाटन किया। प्रदर्शनी में विभिन्न बैंकों और सरकारी विभागों द्वारा 14 स्टाॅल्स लगाए गए। वहीं विभिन्न ऋण योजनाओं के आवेदन भी भरवाए गए।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply