IMG 20210629 WA0036

इन शर्तों के बाद खोले जा सकेंगे धार्मिक स्थल

0
(0)

धार्मिक स्थल खोले जाने के लिए गठित समिति की बैठक आयोजित

बीकानेर, 29 जून। धार्मिक स्थलों को सावधानी पूर्वक खोले जाने के सम्बंध में जिला कलक्टर नमित मेहता की अध्यक्षता में गठित कमेटी की बैठक मंगलवार को आयोजित हुई। इस दौरान जिले के सभी धार्मिक स्थल कोविड एप्रोप्रिएट बेहवियर की पालना के साथ खोले जाने पर मंथन हुआ।
जिला कलक्टर ने बताया कि चिन्हित कन्टेन्टमेंट क्षेत्रों में किसी भी धार्मिक स्थल को खोलने की अनुमति नहीं होगी। बड़े धार्मिक स्थल, जहां स्थानीय निवासियों के साथ अन्य जिलों एवं राज्यों से भी लोग दर्शन और पूजा-अर्चना के लिए आते हैं, उन्हें खोलने से पहले पुलिस, प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की संयुक्त टीम विजिट करेगी। इस दौरान यह सुनिश्चित किया जाएगा कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए पर्याप्त सुरक्षात्मक उपाय धार्मिक स्थलों पर कर लिए गए हैं। उन्होंने बताया कि समस्त धार्मिक स्थलों पर लोगों का आवागमन, धार्मिक स्थल से जुड़े व्यक्तियों द्वारा वैक्सीन की कम से कम प्रथम डोज लगवाने के पश्चात आमजन के लिए विभिन्न निर्देशों की पालना सुनिश्चित करते हुए प्रातः 5 से सायं 4 बजे तक खोला जा सकेगा।
उन्होंने बताया कि धार्मिक स्थलों पर दर्शनार्थियों को सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करनी होगी। मस्जिदों में अदा की जाने वाली नमाज के दौरान व्यक्तियों की संख्या उपलब्ध स्थान और सामाजिक दूरी को ध्यान रखते हुए रखी जाएगी। धार्मिक स्थल के पुजारियों, दर्शनार्थियों द्वारा कोविड-19 व्यवहार जैसे मास्क पहनना, थर्मल स्क्रीनिंग, हैंड वॉश, सैनिटाइजेशन का समुचित प्रबंधन एवं संपर्क में आने वाले सभी स्थानों जैसे दरवाजे के हैंडल आदि को बार-बार सेनेटाइज करना होगा। उन्होंने बताया कि धार्मिक स्थल में फूल, माला, प्रसाद, चादर और अन्य पूजन सामग्री ले जाने और घंटी बजाने पर प्रतिबंध रहेगा।
बड़े धार्मिक स्थलों में विशेष दिनों में दर्शनार्थियों की भीड़ नहीं की जा सकेगी और सोशल डिस्टेंसिंग पालना सुनिश्चित करनी होगी।
बैठक में कार्यवाहक पुलिस अधीक्षक शैलेन्द्र सिंह इन्दौलिया, अतिरिक्त जिला कलक्टर (नगर) अरुण प्रकाश शर्मा, देवस्थान विभाग के सहायक आयुक्त ओम प्रकाश पालीवाल, शहरकाजी मुश्ताक अहमद, इदगाह कमेटी के अध्यक्ष हाफिज फरमान अली, नायब शाही इमाम हाफिज शाहनवाज हुसैन, सेवा पूजा समिति के अध्यक्ष एडवोकेट शिवचन्द भोजक, श्रीकरणी मन्दिर देशनोक के अध्यक्ष गिरीराज सिंह बारहठ, श्रीलक्ष्मीनाथ जी मन्दिर के सुनील कुमार एवं जेठमल सेवग, जम्भेश्वर मन्दिर मुकाम के रामस्वरूप धारणियां, चिन्तामणी मन्दिर प्रन्यास के निर्मल कुमार धारीवाल आदि मौजूद रहे।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply