IMG 20210621 WA0034

हाईरिस्क पोईन्ट पर बने आवासों का हो सर्वे-मेहता

0
(0)

बीकानेर, 21 जून। जिला कलक्टर नमित मेहता ने बीकानेर शहर में हाईरिस्क पोईन्ट पर बने आवासों का सर्वे करने के निर्देश दिए है। उन्होंने नगर निगम और नगर विकास न्यास क्षेत्र में हाईरिस्क मकानों को चिन्हित करने के निर्देश दिए और कहा कि बरसात के मौसम के इन आवासों को नुकसान होने के संभावनी बनी रहती है।
मेहता ने सोमवार को कलक्ट्रेट सभागार में आयोजित साप्ताहिक समीक्षा बैठक में निगम और नगर विकास न्यास के अधिकारियांे को निर्देश दिए कि निर्माणाधीन भवनों की मौके पर जांच करें। बिना स्वीकृति के जिन भवनों का निर्माण हो रहा है, उनके खिलाफ कार्यवाही सुनिश्चित करे। उन्होंने कहा कि जो लोग दुर्घटना वाले स्थानों पर बसे है, उन्हें नोटिस जारी करते हुए कार्यवाही करे। उन्होंने इसके लिए निगम और यूआईटी को वार्डवार सर्वे टीम लगाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सर्वें के बाद अगर दुर्घटना की वजह से नुकसान होता है, उसके लिए संबंधित अधिकारी की जिम्मेदारी तय की जायेगी।
जिला कलक्टर ने विद्युत विभाग के अभियन्ता को जिले के ऐसे स्थान की तथ्यात्मक रिपोर्ट तैयार करने के निर्देश दिए जिमसें बरसात की वजह से बिजली कंरट की वजह से नुकसान होने की संभावना हो। उन्होंने निर्देश दिए कि शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में विद्युत दुर्घटना वाले स्थानों को चिन्हित करते हुए समय रहते कमियों को दूर किया जाए। उन्होंने बीकानेर इलेक्ट्रीसिटी सप्लाई कम्पनी के अधिकारी को निर्देश दिए कि शहर के जिन क्षेत्रों में विद्युत पोल व ट्रांसफार्मर पर जल भराव की स्थिति बनती है, उसका सर्वे करते हुए सुरक्षा की दृष्टि से सभी उपाय सुनिश्ति करें। साथ ही ऐसे स्थानों पर डेंजर साइनेज बोर्ड लगाए, जिससे आमजन सजग हो सके।
जिला कलक्टर ने सार्वजनिक निर्माण विभाग के कार्यों की समीक्षा की और निर्देश दिए कि बरसात के मौसम से पहले सभी सड़कों के कटाव व गढ्ढ़ों को दुरूस्त कर दिया जाए। उन्होंने जिले में बजट घोषणा में स्वीकृत सड़कों के निर्माण की प्रगति के बारे में जानकारी ली और निर्देश दिए कि जिन कार्यों के वर्कआर्डर जारी हो चुके हैं, उन्हें शीघ्र प्रारंभ करवाया जाए। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय राज मार्गो पर बबूल के पेड़ों की वजह से वाहन चालकों को देखने पर परेशानी होती है तो उन पेड़ों की छटाई करवाई जाए।

जिला कलक्टर ने समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री की बजट घोषणाओं से जुड़े विकास कार्यों की समीक्षा की और संबंधित अधिकारियों को इसे निर्धारित समय पर पूर्ण करते हुए फाइनल रिपोर्ट भेजने के निर्देश दिए। उन्होंने बीकानेर शहर के मुख्य नालों के सफाई कार्य, आवारा पशुओं को पकड़ने, चौखूंटी पुलिया की साईट में हुए अतिक्रमणों को हटाने, खराब हुए टयूबवैल को ठीक करवाने, मनरेगा में नियोजित लैबर, कृषि कनेक्शनों, जलजीवन मिशन की प्रगति आदि की जानकारी ली और आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) बलदेवराम धोजक, अतिरिक्त जिला कलक्टर (शहर) अरूण प्रकाश शर्मा, नगर निगम उपायुक्त पंकज शर्मा, जिला रसद अधिकारी यशवंत भाकर, सहायक निदेशक लोक सेवाए सवीना विश्नोई, अधीक्षण अभियन्ता जलदाय विभाग दीपक बंसल, अधीक्षण अभियन्ता सार्वजनिक निर्माण विभाग डीपी सोनी, पशुपालन विभाग के संयुक्त निदेशक ओपी किलानिया सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply