IMG 20210411 WA0027

कोरा कागज साबित हुआ जिला आबकारी अधिकारी का नोटिस

5
(1)

बीकानेर। बीकानेर के जिला आबकारी अधिकारी का नोटिस एक शराब ठेकेदार के दुस्साहस के आगे महज कोरा कागज़ साबित हो कर रह गया। अगर ऐसे ही सरकारी आदेशों की धज्जियां उड़ती रही तो एक दिन जिले में कानून और व्यवस्था बेपटरी हो जाएगी। इससे अराजकता हावी हो जाएगी। दरअसल, जिला आबकारी अधिकारी ने करीब एक सप्ताह पहले एक शराब ठेकेदार को करणी नगर पवनपुरी में ठेका नहीं खोलने का नोटिस जारी किया था। नोटिस में साफतौर पर लिखा था कि जन विरोध के चलते क्षेत्र में दुकान नहीं खोली जा सकती इसलिए नई लोकेशन के लिए कार्यालय को अविलंब अवगत कराएं। इसके बावजूद ठेका मालिक ने उसी इलाके में शराब का ठेका खोल कर न केवल कानून व्यवस्था को खुली चुनौती दी है बल्कि जन भावनाओं के साथ भी खिलवाड़ करने का प्रयास किया है । इससे पहले मामला बिगड़े जिला आबकारी अधिकारी को समय रहते उचित कदम उठाना होगा। यहां यह भी बता दें कि जिला आबकारी अधिकारी ने ठेकेदार को 31 मार्च 2022 तक के लिए पूर्णतया अस्थायी मंजूरी दी थी, लेकिन 2 अप्रैल 2021 को नोटिस जारी कर दुकान नहीं खोलने के निर्देश दिए थे। ताजा जानकारी के अनुसार क्षेत्रवासियों ने शराब ठेके के खिलाफ फिर से धरना लगा दिया है।
इनका कहना है-
डीईओ के आदेश के अनुसार पवनपुरी वाला ठेका बंद कर दिया गया था। इसके बावजूद भी ठेकेदार ने कोर्ट के आदेश का हवाला देकर क्षेत्र में फिर से ठेका खोल दिया है और वो भी बिना नाम के खोला है। ठेके के सामने स्कूल है और महज कुछ दूरी पर नागणेची मंदिर है। महिलाओं का निकलना मुश्किल हो जाएगा। प्रशासन इस संबंध में उचित कदम उठाए।
– लव शर्मा , स्थानीय निवासी

IMG 20210411 WA0046

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 5 / 5. Vote count: 1

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply