TID-Logo

कैमल रेसिंग ट्रैक पर रफ्तार पकड़ेगा उष्ट्र-पर्यटन

0
(0)

ऊँट अनुसंधान केन्द्र की संस्थान प्रबंधन समिति की बैठक का आयोजन

बीकानेर 18 मार्च । भाकृअनुप-राष्ट्रीय उष्ट्र अनुसंधान केन्द्र, बीकानेर की संस्थान प्रबंधन समिति (आईएमसी) की आज महत्वपूर्ण बैठक रखी गई । केन्द्र निदेशक डाॅ.आर्तबन्धु साहू की अध्यक्षता में आयोजित इस बैठक में परिषद द्वारा मनोनीत विभिन्न संस्थानों के पदाधिकारियों ने भाग लिया।
इस महत्वपूर्ण बैठक में केन्द्र निदेशक डाॅ.आर्तबन्धु साहू ने समिति सदस्यों को केन्द्र से जुड़ी गतिविधियों तथा इनकी प्रगति के बारे में अवगत कराते हुए कहा कि संस्थान के कुशल प्रबंधन हेतु आवंटित निधि, खर्च एवं कार्याें आदि को ध्यान में रखते हुए समयबद्ध निष्पादन किया गया। उन्होंने ऊँट को ‘औषधि भण्डार‘ के तौर पर उपयोग में लाए जाने तथा उष्ट्र-पर्यटन क्षेत्र में विपुल संभावनाओं को ध्यान में रखते हुए ऊँट दौड़ गतिविधि को बढ़ावा देने तथा इस हेतु ‘कैमल रेसिंग ट्रैक‘ निर्माण की बात कही। केन्द्र निदेषक ने समिति को आश्वस्त करते हुए कहा कि संस्थान के प्रबंधन को और अधिक बेहतर व प्रभावी बनाने की दिशा में समिति सदस्यों से प्राप्त महत्वपूर्ण सुझावों का बेहतर क्रियान्वयन किया जाएगा।
बैठक के दौरान समिति सदस्यों ने वर्षा के जल का संचयन करते हुए इसे जैविक खेती हेतु उपयोग में लाए जाने, उष्ट्र पालन से संबद्ध स्थानीय स्तर पर सुलभ समुदायों को संस्थान द्वारा अपनी प्रचार-प्रसार गतिविधियों में अधिकाधिक सम्मिलित किए जाने, ऊँटों को एक राज्य से दूसरे राज्य में परिवहन संबंधी नियमों की शिथिलता, ऊँटों की ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में उपयोगिता, केन्द्र द्वारा ऊँटों की प्रमुख नस्लों के रखरखाव में बढ़ोत्तरी किए जाने तथा ऊँटों की शारीरिक क्रियाओं का उन पर प्रभाव आदि विभिन्न मुद्दों एवं प्रस्तावों पर गहन चर्चा की गई।

समिति सदस्यों में डाॅ.आर.के.सिंह, अधिष्ठाता, अधिष्ठाता, पशु चिकित्सा एवं पशु विज्ञान काॅलेज, राजुवास, बीकानेर, डाॅ.विमला डुकवाल, अधिष्ठाता, गृह विज्ञान महाविद्यालय, एसकेआरएयू, बीकानेर, श्री प्रकाश विमल, सहायक वित्त एवं लेखाधिकारी, भाकृअनुप-कृषि तकनीकी अनुप्रयोग अनुसंधान संस्थान, जोधपुर, श्री बिजेन्द्र पुनिया, श्रीगंगानगर, श्री रामगोपाल सुथार, बीकानेर ने अपने विचार रखें। डाॅ.हुक्माराम एवं डाॅ. वीरेन्द्र नेत्रा ने निदेशक, पशुपालन विभाग, राजस्थान सरकार के प्रतिनिधि के रूप में इस बैठक में भाग लिया। वहीं डाॅ. अम्बरीश त्यागी, सहायक महानिदेशक (एएनपी), भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद, नई दिल्ली एवं डाॅ.जी.साईकुमार, प्रधान वैज्ञानिक, भाकृअनुप-भारतीय पशु-चिकित्सा अनुसंधान संस्थान, इज्जतनगर, केन्द्र की इस बैठक में आॅन-लाइन जुड़ें। साथ ही एनआरसीसी के डाॅ.आर.के.सावल, डाॅ.शिरीष नारनवरे एवं भरतकुमार आचार्य ने भी बैठक में भाग लिया।
आर.ए.साहू, प्रशासनिक अधिकारी ने इस समिति की बैठक संबंधी कार्यसूची, गत वर्ष के विवरण व केन्द्र में किसानों हेतु उपलब्ध सुविधाओं आदि के बारे में जानकारी दी।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply