TID-Logo

पीबीएम अस्पताल परिसर में बनेंगे दो ट्यूबवेल

0
(0)

राजस्थान मेडिकल रिलीफ सोसायटी की बैठक आयोजित
बीकानेर, 10 मार्च। पीबीएम अस्पताल की राजस्थान मेडिकेयर रिलीफ सोसायटी की बैठक बुधवार को संभागीय आयुक्त बीएल मेहरा की अध्यक्षता में मेडिकल काॅलेज सभागार में आयोजित हुई। बैठक में जिला कलक्टर नमित मेहता भी मौजूद रहे। संभागीय आयुक्त ने पीबीएम अस्पताल में निविदा पर कार्यरत कार्मिकों की उपस्थिति के औचक निरीक्षण के लिए कमेटी गठित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि प्रत्येक कार्यालयाध्यक्ष भी इसकी नियमित समीक्षा करें। इस दौरान पीबीएम अस्पताल में पानी की समस्या के स्थाई समाधान के लिए अस्पताल परिसर में दो ट्यूबवेल बनाने की स्वीकृति दी गई। जिला कलक्टर ने कहा कि नहर बंदी के दौरान पीबीएम अस्पताल में जल उपलब्धता को लेकर कोई परेशानी नहीं हो, इसके मद्देनजर पीबीएम अधीक्षक और जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के अधीक्षण अभियंता आपसी समन्वय रखें। पीबीएम अस्पताल के आउटडोर और इनडोर में आने वाले रोगियों को पर्ची के लिए लाइन में नहीं लगना पड़े, इसके लिए पीबीएम और सूचना प्रौद्योगिकी विभाग के बीच एमओयू की संभावनाओं पर चर्चा की गई। पीबीएम अधीक्षक डाॅ. परमेन्द्र सिरोही ने कोविड आईसीयू, ट्रोमा सेंटर, एमसीएच में रेडियोमीटर एबीजी मशीन, शिशु चिकित्सालय में स्थापित एबीजी जांच मशीन तथा सेंटर लैब में रेडियोमीटर की जांचों के लिए रिजेंट एवं अन्य कन्ज्यूमेबल की आपूर्ति के लिए राशि की प्रशासनिक एवं वित्तीय स्वीकृति दी गई। इसी प्रकार मानसिक रोग विभाग द्वारा की जाने वाली टीडीसीएस जांच की शुल्क दो सौ रुपये निर्धारित करने, जीव रसायन विभाग की विभिन्न जांचों की शुल्क वृद्धि तथा सर्जरी विभाग में सर्जरी प्रोसेसन के लिए सामान खरीद के लिए 23 लाख रुपये की स्वीकृति दी गई। सोसायटी के मनोनीत सदस्य त्रिलोक नाथ कल्ला एवं नवरत्न सिंघवी ने सोसायटी के राजस्व वृद्धि से संबंधित विभिन्न सुझाव दिए। बैठक में प्रशिक्षु आइएएस कनिष्क कटारिया, मेडिकल काॅलेज प्राचार्य डाॅ. एसएस राठौड़, उप प्राचार्य डाॅ. एलए गौरी, डाॅ. रंजन माथुर, डाॅ. बीके गुप्ता, डाॅ. देवेन्द्र अग्रवाल, डाॅ. मोहम्मद सलीम, डाॅ. योगिता सोनी आदि मौजूद रहे।
—–
‘शांति मार्च’ के साथ 12 मार्च को शुरू होगा ‘अमृत महोत्सव’
जिला कलक्टर ने की तैयारियांे की समीक्षा
बीकानेर, 10 मार्च। महात्मा गांधी जयंती के 150वें वर्ष और स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ का जश्न ‘अमृत महोत्सव’ के रूप में मनाया जाएगा। जिला स्तर पर इसकी शुरुआत 12 मार्च को ‘शांति मार्च’ के साथ होगी। दांडी मार्च में 78 यात्री हिस्सा लेंगे। इस मार्च के जरिए देश की आजादी के लिए महात्मा गांधी द्वारा प्रारंभ किए गए सविनय अवज्ञा आंदोलन के महत्त्व से आमजन को अवगत करवाया जाएगा।
जिला कलेक्टर नमित मेहता ने बुधवार को कलेक्ट्रेट सभागार में इस संबंध में तैयारी बैठक ली। उन्होंने कहा कि महोत्सव के सफल आयोजन के लिए सभी विभाग समन्वय करते हुए काम करें। मेहता ने कहा कि भावी पीढ़ी स्वतंत्रता आंदोलन और संघर्ष से परिचित होते हुए देश की आजादी के 75 साल का जश्न मनाएं, यही इस आयोजन का उद्देश्य है। यह संदेश आमजन तक पहुंचे इस दिशा में विशेष प्रयास किए जाएं।
गांधी पार्क से शुरू होगा मार्च
मेहता ने बताया कि 12 मार्च को दोपहर 4.30 बजे गांधी पार्क से शुरू होकर दांडी शांति मार्च शहर के विभिन्न मार्गों से होते हुए सूरसागर पर सम्पन्न होगा। मार्च में स्काउट गाइड, एनसीसी एन एस एस के 78 कैडेट्स प्रतिभागी रहेंगे।
अहिंसा यात्रा 23 मार्च को
जिला कलेक्टर ने बताया कि उपखंड स्तर पर अमृत महोत्सव के तहत 23 मार्च को शहीद भगत सिंह, राजगुरु और सुखदेव की पुण्यतिथि के अवसर पर अहिंसा यात्रा और मौन कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। इस कार्यक्रम का उद्देश्य स्वतंत्रता दिलाने में अपने प्राणों की आहुति देने वाले महान स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदान से युवा पीढ़ी को परिचित करवाना है। उन्होंने कहा कि सभी संबंधित विभाग समन्वय से काम करते हुए अपने अपने कार्य पूरे करें। इस संपूर्ण कार्यक्रम का नोडल विभाग खेल एवं युवा मामलात विभाग को बनाया गया है।
महात्मा गांधी की 150वीं जयंती की जिला स्तरीय समिति के मुख्य जिला संयोजक संजय आचार्य ने बताया कि इस आयोजन से युवाओं को गांधी दर्शन और भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन में गांधी दर्शन की भूमिका के प्रति जागरुकता आएगी। भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन की मुख्य घटनाओं के प्रति आमजन में चेतना विकसित करने के उद्देश्य से यह आयोजन किया जा रहा है।
बैठक में अतिरिक्त जिला कलेक्टर (शहर) अरुण प्रकाश शर्मा, नगर निगम आयुक्त ए एच गौरी , नगर विकास न्यास सचिव नरेंद्र सिंह राजपुरोहित, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के उपनिदेशक एल डी पंवार, आईसीडीएस उपनिदेशक शारदा चैधरी, अभियान समन्वयक व समिति के उप संयोजक जाकिर हुसैन सहित संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।
——-

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply