IMG 20210309 WA0056

एनएफएसए का फायदा लेने के बावजूद जुर्माना नहीं देने वाले सरकारी कार्मिकों के वेतन से कटेगी जुर्माना राशि -मेहता

0
(0)

उपखंड अधिकारियों को दिए कार्यवाही करने के निर्देश
वीसी के जरिए नहरबंदी, कोविड-19 वैक्सीनेशन आदि की समीक्षा की

बीकानेर। जिला कलेक्टर नमित मेहता ने कहा है कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना का फायदा लेने वाले ऐसे सरकारी कार्मिक जिन्होंने जुर्माना जमा नहीं कराया है उनकी तनख्वाह से जुर्माने की राशि वसूल की जाएगी।
जिला कलेक्टर मेहता ने मंगलवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए उपखंड अधिकारियों, तहसीलदारों के साथ बैठक में यह बात कही। जिला कलेक्टर ने कहा कि सभी उपखंड अधिकारियों को उपखंडवार ऐसे कमचारियों की सूची उपलब्ध करवा दी गई है। ऐसे सरकारी कर्मचारी जिन्होंने एनएफएसए का फायदा लिया, लेकिन जुर्माना राशि जमा नहीं करवाई है, उन्हें जुर्माना जमा कराने के लिए 2 दिन का समय दें और 2 दिन के उपरांत भी जुर्माना जमा नहीं करवाने की स्थिति में ऐसे कार्मिकों के वेतन से जुर्माना राशि काटी जाए।
जिला कलेक्टर ने आधार सीडिंग कार्य की समीक्षा करते हुए कहा कि कोलायत, श्रीडूंगरगढ़ और खाजूवाला में आधार सीडिंग की प्रगति काफी कम है। उन्होंने कहा कि सूचना और प्रौद्योगिकी विभाग के साथ समन्वय करते हुए इन क्षेत्रों में विशेष आधार शिविर लगाकर आधार कार्ड बनवाए ताकि शत प्रतिशत आधार सीडिंग की जा सके। उन्होंने कहा कि 31 मार्च तक शत-प्रतिशत सीडिंग हो जाए यह सुनिश्चित किया जाए। जिला कलेक्टर मेहता ने कहा कि जिले में 7 हजार 700 से अधिक ऐसे व्यक्ति हैं जिन्होंने पिछले 13 महीने से राशन नहीं लिया है इनके संबंध में भौतिक सत्यापन करते हुए तथ्यात्मक रिपोर्ट के आधार पर न्याय संगत कार्यवाही की जाए । अगले 1 सप्ताह में भौतिक सत्यापन की कार्यवाही पूरी करवाते हुए नाम हटाने के संबंध में प्रस्ताव भिजवाए जाएं।

एक सप्ताह में पूरी हो गिरादावरी

मेहता ने रबी की गिरदावरी के सम्बंध में सभी उपखंड अधिकारियों और तहसीलदारों के साथ गिरदावरी का समीक्षा करते हुए अगले 1 सप्ताह में बाकी गिरदावरी पूर्ण करने के निर्देश दिए । उन्होंने कहा कि जहां पटवार मंडल रिक्त है वहां अतिरिक्त चार्ज देकर गिरदावरी का काम पूरा करवाएं। अनावश्यक रूप से किसी दबाव में आए बिना यदि कहीं वास्तविक खराबा है तो उसे रिपोर्ट में दर्ज करें । जिला कलेक्टर ने खातेदारी रास्ता देने जैसे प्रकरण, वसूली आदि की भी समीक्षा की और कहा कि म्यूटेशन , लीज रेंट आदि की संबंध में शत-प्रतिशत वसूली की जाए नहीं तो व्यक्तिगत जिम्मेदारी तय की जाएगी। मेहता ने खातेदारी प्रकरणों के निस्तारण के सम्बंध में बीकानेर तहसीलदार को निर्देशित किया।

12 मार्च से प्रारम्भ होगा अमृत महोत्सव
जिला कलेक्टर ने बताया कि 12 मार्च 2021 से 15 अगस्त 2023 तक अमृत महोत्सव के तहत 75 कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे । जिला स्तर पर इस आयोजन का प्रारंभ 12 मार्च को दांडी यात्रा से होगा जिसमें 78 लोग शामिल होंगे। उपखंड स्तर पर इस कार्यक्रम की शुरुआत 23 मार्च को शहीद दिवस के आयोजन से की जाएगी । इसी क्रम में अन्य कार्यक्रम भी आयोजित होंगे। मेहता ने कहा कि सभी उपखंड अधिकारी महात्मा गांधी के जन्म के 150 वर्ष पूर्ण होने पर गठित समितियों के साथ बैठकर इस संबंध में तैयारी कर लें।
रोटेशन से मिलेगा नहरों को पानी
वीसी के दौरान जिला कलेक्टर ने नहर बंदी की समीक्षा करते हुए कहा कि संबंधित क्षेत्र के एसडीएम के साथ जन स्वास्थ्य एवं अभियांत्रिकी विभाग के अधीक्षण अभियंता नहरबंदी के दौरान आने वाले पानी का शेड्यूल साझा करें और उसके अनुरूप सभी उपखंड अधिकारी अपने क्षेत्र में सेनेटरी डिग्गियां भरवाने की कार्यवाही सुनिश्चित करवा लें। इस दौरान अधीक्षण अभियंता दीपक बंसल ने बताया कि 7 मार्च से प्रभावी होने वाली नहर बंदी के दौरान रोटेशन से नहरों में पानी दिया जाएगा ।कोई भी नहर ऐसी नहीं होगी जिसमें 35 दिन से ज्यादा समय तक पानी ना पहुंचे। उन्हांेने बताया कि 1 दिन के अंतराल से पानी देने की व्यवस्था की जाएगी।
मेहता ने कहा कि कि संबंधित उपखंड अधिकारी बीडीओ ,तहसीलदार , आईजीएनपी और पीएचडी के अधिकारियों के साथ रिव्यू बैठक करें। गर्मी के मौसम के मद्देनजर पानी की अधिक आवश्यकता को देखते हुए यदि कोई समस्या पैदा होने की आशंका हो तो इसके संबंध में पूर्व में ही सूचना उपलब्ध करवाएं जिससे समस्या का वैकल्पिक समाधान करवाया जा सके।

कोविड वैक्सीनेशन की दूसरी डोज के लिए करें समझाइश
मेहता ने कहा कि जिले के बज्जू, पूगल और छतरगढ़ उपखंड में कोविड-19 वैक्सीनेशन के संबंध में कम प्रगति हुई है । संबंधित उपखंड अधिकारी इसकी गंभीरता को समझें। उन्होंने कहा कि यदि की आवश्यकता है तो सीएमएचओ से समन्वय करते हुए अतिरिक्त सेंटर चालू करवाएं और लोगों से यह समझाइश की जाए कि जब तक सेकंड डोज नहीं लगेगी तब तक वैक्सीनेशन का कोई सार्थकता नहीं होगी। बैठक में अतिरिक्त जिला कलेक्टर प्रशासन बलदेव राम धोजक , अतिरिक्त जिला कलेक्टर शहर अरुण प्रकाश शर्मा , जिला रसद अधिकारी यशवंत भाकर, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ सुकुुमार कश्यप, एसीपी सत्येन्द्र सिंह राठौड सहित संबंधित उपखंड अधिकारी और तहसीलदार जुड़े।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply