IMG 20210121 WA0019

नो रिफ्लेक्टर नो वाहन ऑन रोड अभियान 26 से- रवि जैन
बीकानेर, सीकर, अजमेर परिवहन रीजन की हुई बैठक

0
(0)

बीकानेर, 21 जनवरी। परिवहन आयुक्त एवं शासन सचिव रवि जैन ने कहा कि विभाग 26 जनवरी से नो रिफ्लेक्टर नो वाहन ऑन रोड अभियान चलाएगा। उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि प्रदेश में एक भी वाहन सड़क पर ऐसा चलता नहीं मिलेगा, जिसके आगे और पीछे रिफ्लेक्ट नहीं लगा हो। उन्होंने कहा कि रिफ्लेक्टर पट्टी का लगाने के लिए चलने वाले इस अभियान में स्थानीय स्तर पर प्रशासन, पुलिस और स्वयंसेवी संस्थाओं का भी सहयोग लिया जाए।
जैन गुरुवार को स्वामी केशवानंद कृषि विश्वविद्यालय के आईएबीएम हॉल में बीकानेर, अजमेर एवं सीकर के परिवहन रीजन के प्रादेशिक परिवहन अधिकारी और जिला परिवहन अधिकारियों की बैठक में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि इस अभियान के तहत बड़े वाहन से लेकर छोटे वाहनों पर रिफ्लेक्टिव टेप लगाई जाएगी जो उच्च गुणवत्ता की होगी। उन्होंने कहा कि इस कार्य के लिए विभाग द्वारा पांच कंपनियों का अनुमोदन किया गया है। जैन ने कहा कि फिटनेस सेंटर जहां से वाहनों को फिटनेस का प्रमाण पत्र जारी किया जाता है, वहां सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे तथा प्रादेशिक परिवहन अधिकारी और जिला परिवहन अधिकारी रेंडमली प्रत्येक माह के 3 दिन फिटनेस सेंटर पर हुई संपूर्ण कार्रवाई की सीडी देखेंगे ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि फिटनेस प्रमाण पत्र देते समय वाहन की संपूर्ण जांच की गई है या नहीं। इस दौरान यह भी देखा जाए कि संपूर्ण कार्य नॉर्म्स के अनुसार ही हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि अगर किसी सेंटर में किसी तरह की गड़बड़ी पाई गई तो संबंधित के विरुद्ध सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।
परिवहन आयुक्त ने कहा कि आलोच्य वित्त वर्ष के शेष रहे 70 दिनों में राजस्व वसूली की जाए। उन्होंने कहा कि जो लक्ष्य निर्धारित किए गए थे उन्हें शत प्रतिशत प्राप्त करने के लिए अभी से ही कार्य योजना बनाकर कार्य प्रारंभ कर दे। उन्होंने सभी अधिकारियों से कहा कि 24 गुणा 7 कार्य होना चाहिए। उन्होंने कहा कि विभाग का निरीक्षक और अधिकारी इस तरह से सामंजस्य स्थापित कर कार्य करें कि किसी भी स्थिति में कोई भी ओवरलोड वाहन अथवा नियमों की अवहेलना करने वाले वाहन सड़क पर न चलें। उन्होंने कहा कि निरीक्षण के लिए विभाग द्वारा स्थान निर्धारित किया गया है वहां पर एक निरीक्षक और एक गार्ड आवश्यक रूप से लगातार रहेंगे। उन्होंने कहा कि 25 जनवरी से सभी निरीक्षक और अधिकारी अपना लोकेशन जहां वे खड़े होकर चालान काटते हैं उसका फोटो व्हाट्सएप ग्रुप पर शेयर करेंगे। परिवहन आयुक्त ने कहा कि विभाग में जितने भी संसाधन हैं उनका अधिकतम और बेहतर उपयोग करते हुए राजस्व वसूली के कार्य शत प्रतिशत पूर्ण होने चाहिए।
रवि जैन ने कहा कि विभाग का अब ज्यादा से ज्यादा कार्य ऑनलाइन हो गए हैं। इसके चलते आम जनता को कार्यालय में आने की जरूरत कम ही पड़ती है, टैक्स आदि जमा कराने का कार्य घर बैठे हो जाता है। उन्होंने कहा कि अब विभाग द्वारा ऑनलाइन फीडिंग चालान तथा परमिट आदि का कार्य पोस मशीन के माध्यम से ही किए जाए। उन्होंने कहा कि अधिकारी यह भी सुनिश्चित करें कि ड्राइविंग लाइसेंस और आरसी वितरण की व्यवस्था फुलप्रूफ सिस्टम से होनी चाहिए। इसमें किसी भी तरह की शिकायत आने पर संबंधित व्यक्ति के साथ-साथ पर्यवेक्षण की गलती मानते हुए संबंधित जिला परिवहन अधिकारी और प्रादेशिक परिवहन अधिकारी के विरुद्ध भी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।
विभाग ब्लैक स्पॉट करे चिन्हित
परिवहन आयुक्त एवं शासन सचिव जैन ने सभी अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे अपने अपने जिले में ब्लैक स्पाॅट को भी चिन्हित करें और उन्हें ठीक करवाने अथवा तकनीकी रूप से सुधार करवाने का तकमीना स्थानीय सार्वजनिक निर्माण विभाग के अभियंता से तैयार करवाकर मुख्यालय भेजे ताकि ऐसे स्थान जहां अधिक दुर्घटना होती है उन्हें ठीक किया जा सके। उन्होंने सभी प्रादेशिक परिवहन अधिकारियों और जिला परिवहन अधिकारी से कहा कि वह अपने जिले में पांच-पांच ब्लैक स्पॉट को चिन्हित कर सूचना तत्काल भेजे।
आगंतुकों के बैठने के लिए हो बेहतर व्यवस्था
रवि जैन ने सभी अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे अपने कार्यालय में यह सुनिश्चित करेंगे कि कार्यालय में आने वाले आगंतुकों के बैठने के लिए स्थान निर्धारित हो और उस स्थान पर पीने का शुद्ध पानी सुलभ हो। अगर संभव हो तो वहां मनोरंजन के लिए एक टीवी भी लगाई जाए। उन्होंने कहा कि ऑटोमेटिक ड्राइविंग टेस्ट ट्रेक के आसपास वृक्षारोपण भी किया जाए जिससे कि आने वाला हर व्यक्ति अपने आपको गौरवान्वित महसूस कर सकें। बैठक में अपर परिवहन आयुक्त महेंद्र कुमार खींची, आकाश तोमर, प्रवीण ,आशीष यादव सहित बीकानेर सीकर एवं अजमेर जिले के प्रादेशिक परिवहन अधिकारी व जिला परिवहन अधिकारी उपस्थित थे।

8 नए आधार सेन्टर्स की स्वीकृति
बीकानेर, 21 जनवरी। जिले में सूचना प्रौद्योगिकी एवं संचार विभाग द्वारा 8 नए आधार सेन्टर की स्वीकृति दी है। संयुक्त निदेशक सत्येंद्र सिंह राठौड़ ने बताया की यूआईडीएआई द्वारा जिले में 8 नवीन आधार कंेद्रों की स्वीकृति दी गई है जिन पर आमजन आधार नामांकन व अद्यतन संबंधी समस्त सेवाओं का लाभ प्राप्त कर सकते है। उन्होनें बताया कि इन 8 आधार कंेद्रों में पलाना, गाढ़वाला, बम्बलू (बीकानेर), पीएचईडी कार्यालय, उपखंड लूणकरणसर, रानेर, सत्तासर तहसील छतरगढ, मसूरी व लालमदेसर छोटा(नोखा) है। उन्होंने बताया कि इन 8 नवीन आधार केंद्रो को मिलाकर जिले में सूचना प्रौद्योगिकी एवं संचार विभाग राजस्थान के अंतर्गत चलने वाले आधार मशीनों की संख्या 32 हो गई है, इनमें से बीकानेर शहर में 5, बीकानेर ग्रामीण में 5, लूणकरणसर में 2, नोखा में 7, पांचू में 2, बज्जू में 2, कोलायत में 1, श्रीडंूगरगढ में 6 एवं खाजूवाला में 2 आधार नामांकन व अद्यतन केंद्र संचालित हैं।

मैं भी डिजिटल अभियान का आयोजन
बीकानेर, 21 जनवरी। प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना का मैं भी डिजिटल अभियान के अंतर्गत पथ विक्रेताओं को ऋण वितरण क्यूआर कोड जारी करना व क्यूआर कोड के माध्यम से टोकन राशि जमा करने का डिजिटल प्रशिक्षण दिया गया। अग्रणी जिला प्रबंधक ने बताया कि अभियान के तहत जिलेभर की शाखाओं द्वारा शिविर लगाकर 260 पथ विक्रेताओं को ऋण वितरण कर प्रशिक्षण दिया गया। एसबीआई के उप महाप्रबन्धक सुशील कुमार ने बताया कि समस्त सरकारी ऋण योजनाओं के लंबित प्रार्थना पत्रों का निस्तारण शीघ्र किया जायेगा।

मतदाता डिजी लॉकर में सुरक्षित रख सकेंगे ई.एपिक 25 जनवरी को शुम्भारभ
राष्ट्रीय मतदाता दिवस से निर्वाचन आयोग शुरू कर रहा ई.एपिक सुविधा प्रत्येक बूथ अधिकारी को डाउनलोड करवाने होंगे ई.एपिक राष्ट्रीय मतदाता दिवस के उपलक्ष्य में बूथ लेवल तक होंगे विभिन्न कार्यक्रम
बीकानेर 21 जनवरी। राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर इस बार भारत निर्वाचन आयोग की ओर से ई.एपिक सुविधा प्रारंभ की जा रही है। इसके माध्यम से पंजीकृत मतदाता एक सरल प्रक्रिया के अनुसार अपने मोबाइल फोन के माध्यम से ई.एपिक डाउनलोड कर इसे इलेक्ट्रॉनिकली अपने डिजी लॉकर में सुरक्षित रख सकेंगे।
जिला निर्वाचन अधिकारी एवं कलक्टर नमित मेहता ने बताया कि राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर जिला स्तर से लेकर बूथ लेवल तक होने वाले कार्यक्रमों में एनवीएसपी पोर्टल अथवा वोटर हेल्पलाइन एप से ई.एपिक डाउनलोड किए जाएंगे। प्रत्येक बूथ लेवल अधिकारी को कम से कम पांच ई.एपिक डाउनलोड करने के निर्देश दिए गए हैं। इस दिन व इस दिन के बाद भी बूथ लेवल अधिकारी अधिक से अधिक संख्या में पंजीकृत मतदाताओं के मोबाइल फोन नंबर प्राप्त करेंगे ताकि इच्छुक मतदाताओं द्वारा ई.एपिक डाउनलोड किए जा सकेंं।
जिला कलक्टर ने बताया कि राष्ट्रीय मतदाता दिवस के सिलसिले में जिला स्तर से लेकर बूथ स्तर तक निर्वाचन संबंधी भारत निर्वाचन आयोग की निर्वाचन एवं मतदाता पंजीकरण हेतु आईटी एप्लीकेशन एवं मोबाइल एप द्वारा प्रदत्त जन सुविधाओं की जानकारी अधिक से अधिक नागरिकों तक पहुंचाए जाने के लिए विभिन्न कार्यक्रम आयोजित होंगे। इस दौरान 23 व 24 जनवरी को शैक्षणिक संस्थानों के साक्षरता क्लबों के माध्यम से विभिन्न गतिविधियां आयोजित होंगी व आईटी एप्लीकेशन की जानकारी दी जाएगी। 24 जनवरी को ही बूथ लेवल अधिकारियों द्वारा चुनाव पाठशाला की बैठक आयोजित की जाएगी।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply