वल्लभ गार्डन चौराहा: शीघ्र हो क्षतिग्रस्त पुल का निर्माण, भूमि टेस्टिंग के बाद ही खडे़ करें पिलर-मेहता, Vallabh Garden Square: Construction of damaged bridge soon, Pilar should stand only after land testing -Mehta

Contents

0
(0)

बीकानेर, 12 जनवरी। जिला कलक्टर व अध्यक्ष नगर विकास न्यास नमित मेहता ने कहा कि वल्लभ गार्डन चैराहे के पास क्षतिग्रस्त पुल का न्यास शीघ निर्माण कार्य प्रारंभ करवाएं।
क्षतिग्रस्त पुल का मंगलवार को मौका मुआयना करने के बाद मेहता ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए यह बात कही। मेहता ने कहा कि नई सीवरेज लाइन अब पुल के नीचे से ना डाली जाए। मेहता ने कहा कि नगर निगम इसका तकमीना बनाकर कार्य प्रारंभ कर दें जिससे कि आमजन को परेशानी ना हो साथ ही जब तक पुल का निर्माण होता है तब तक सुरक्षा के पुख्ता बंदोबस्त किए जाए।
उन्होंने कहा कि क्षतिग्रस्त पुल का निर्माण शीघ्र प्रारंभ किया जाए तथा इसकी चैड़ाई वर्तमान की तुलना में थोड़ा बढ़ाकर पुल बनाया जाए ताकि यातायात और सुगम हो सके। उन्होंने नगर निगम के अधिकारियों को निर्देश दिए कि पुल के नीचे से जो सीवरेज लाइन गुजर रही है जिसके टूटने से यह पुल क्षतिग्रस्त हुआ है उस लाइन को अब पिल्लर के माध्यम से ओपन रखा जाए व पुलिया के पास से ही एक नई लाईन डाली जाए और यह पूरी लाइन पुलिया के बराबर निकले। मेहता ने कहा कि इस बात का विशेष ध्यान रखा जाए कि संपूर्ण लाइन खुले में होनी चाहिए तथा पाइपलाइन पूरी तरह सुरक्षित रहे, इसके लिए पुल के पास से पिलर का सपोर्ट देकर पाइपलाइन को खुले में ही रखा जाए ताकि भविष्य में अगर कभी पाइप लाइन में किसी तरह की दिक्कत या लिकेज हो तो उसे दुरुस्त करने में आसानी रहे।
डायवर्जन लाइन का कार्य भी शीघ्र हो
जिला कलक्टर ने न्यास व निगम के अभियंताओं को निर्देश दिए कि पुलिया के पास जाते हुए जो लाइन डैमेज हुई है उसके काफी पीछे से एक डायवर्जन लाइन पृथक से डाली जाए और उसका मिलान आगे तक कर दिया जाए जिससे कि पुल के निर्माण करने तक यहां पानी से हुए नुकसान अथवा पानी के कारण जो जमीन वर्तमान में काफी गीली हो गई है वह भी सूख जाए और निर्माण कार्य पूर्ण गुणवत्ता के साथ शीघ्र हो सके।
सुरक्षा के पूर्ण बंदोबस्त हो
जिला कलक्टर ने दोनों विभाग के अभियंताओं को सख्त निर्देश दिए कि जब तक पुल और सीवरेज लाइन का निर्माण कार्य पूर्ण होता है और पुलिया यातायात के लिए खोला जाता है तब तक सुरक्षा के पूर्ण बंदोबस्त किए जाए। उन्होंने कहा कि पुल के दोनों तरफ बैरियर इस तरह से लगाएं कि छोटे और बड़े वाहनों का आवागमन न हो सके साथ ही उन्होंने न्यास सचिव को निर्देश दिए कि वे पुलिस के साथ बातचीत कर यहां यातायात पुलिस की भी व्यवस्था करें ताकि किसी तरह की अप्रिय घटना घटित ना हो।

अतिक्रमण हटाए तथा पिलर के निर्माण के लिए भूमि की हो टेस्टिंग

जिला कलक्टर ने निगम और न्यास के अधिकारियों को निर्देश दिए कि पुल के दोनों तरफ कुछ अतिक्रमण हो रखे हैं इन्हें तुरंत प्रभाव से हटाया जाए। अतिक्रमण के कारण पुल के नीचे से गुजरने वाले पानी में रुकावट आती है और भविष्य में इस रुके हुए पानी के कारण भी पुल को नुकसान हो सकता है। उन्होंने कहा कि अतिक्रमण हटाने से पानी का बहाव निर्बाध रूप से चलता रहेगा। उन्होंने दोनों विभाग के अभियंताओं को कहा कि सीवरेज के लिए बनने वाले पिलर तथा पुल के निर्माण के समय जमीन की टेस्टिंग भी कर ली जाए कि इस भूमि पर पिलर का निर्माण किया जाना तकनीकी रूप से उचित रहेगा या नहीं। निरीक्षण के दौरान नगर विकास न्यास सचिव नरेंद्र सिंह राजपुरोहित, आयुक्त नगर निगम पंकज शर्मा, नगर निगम के अधीक्षण अभियंता ललित ओझा तथा नगर विकास न्यास के एस. ई. संजय माथुर उपस्थित थे।

नगरपालिका चुनाव में हो कोरोना संबंधित गाइडलाइन की पालना-मेहता

बीकानेर, 12 जनवरी। जिला निर्वाचन अधिकारी नमित मेहता ने नगरपालिक चुनाव के लिए नामांकन पत्र प्रस्तुत करने और चुुनाव के दौरान कोरोना संबंधी गाइडलाइंस की पालना सुनिश्चित करवाने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए है। मेहता ने नगर पालिका चुनाव 2021 के लिए सम्बंधित उपखंड अधिकारी व अधिशाषी अधिकारी नगर पालिका के साथ विडियो कांफे्रंस के माध्यम से बैठक कर ये निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जिले में पिछले कुछ दिनों से कोरोना के पॉजीटिव मामलों में कमी आई है लेकिन चुनाव के दौरान कोई राजनैतिक दल, उम्मीदवार व उनके समर्थक नामांकन व प्रचार के दौरान पूर्ण सावधानी बरतें और कोविड 19 एडवाइजरी की अनुपालना में कोई लापरवाही ना हो। जिला निर्वाचन अधिकारी मेहता ने बताया जिले की 3 नगरपालिका के सदस्यों के लिए 28 जनवरी को मतदान करवाया जाएगा, जबकि 31 जनवरी को मतगणना होगी।
अध्यक्ष के लिए चुनाव 7 फरवरी को
मेहता ने बतया कि वी.सी. में कहा कि नगर पालिका अध्यक्ष के लिए 1 फरवरी को लोक सूचना जारी होगी। नामांकन पत्र 2 फरवरी अपराह्न 3 बजे तक प्रस्तुत किए जा सकेंगे। उन्होंने बताया कि नामांकन पत्रों की संवीक्षा की तिथि 3 फरवरी को होगी, जबकि 4 फरवरी को अपराह्न 3 बजे तक अभ्यर्थिता वापिस ली जा सकेगी। चुनाव चिन्हों का आवंटन 4 फरवरी को अभ्यर्थिता वापस लेने के तुरंत बाद किया जाएगा। उन्होंने बताया कि अध्यक्ष के लिए मतदान 7 फरवरी को प्रातः 10 बजे से अपराह्न 2 बजे तक होगा, जबकि मतगणना मतदान समाप्ति के तुरन्त बाद होगी। उपाध्यक्ष पद के लिए निर्वाचन 8 फरवरी को होगा।
चुनाव खर्च की सीमा की निर्धारित मेहता ने बताया कि नगरपालिका सदस्य के लिए उम्मीदवार 1 लाख रुपए व्यय कर सकता है प्रचार के दौरान लाउडस्पीकर के उपयोग के लिए निर्वाचन अधिकारी द्वारा प्राधिकृत अधिकारी की लिखित अनुमति प्राप्त करनी आवश्यक होगी एवं इसका प्रयोग रात्रि 8 बजे से प्रातः 8 बजे तक पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply