बड़े नेता गैस सब्सिडी की तरह आरक्षण त्यागने की अपील क्यों नहीं करते- सम्पत सारस्वत

  • बीकानेर। पीएम और अन्य केन्द्रीय मंत्री आमजन से गैस सब्सिडी त्यागने का तो आह्वान करते हैं, लेकिन वे आमजन से आरक्षण त्यागने का आह्वान क्यों नहीं करते। आरक्षित सीट पर एक बार चुनाव जीतने के बाद सांसद या विधायक सम्पन्न हो जाता है। फिर उसे आरक्षण की जरूरत नहीं है। ऐसे में उसे अपने वर्ग के अन्य भाई बंधुओं को आगे लाने के लिए मौका देना चाहिए। क्यों बरसों से एक ही परिवार आरक्षण का लाभ लेता आ रहा है। उसे तो सार्वजनिक रूप आरक्षण त्यागने की घोषण करनी चाहिए। यह बात मैं भारत हूं संगठन के संस्थापक सदस्य सम्पत सारस्वत ने पुष्करणा स्टेडियम में 16 फरवरी को होने वाले राष्ट्रवादी स्वाभिमान समागम की तैयारी बैठक में सदस्यों को कही। इस मौके पर उन्होंने सदस्यों से कहा कि हम आरक्षण का विरोध नहीं कर रहे हैं। हम आरक्षण की वितरण व्यवस्था का विरोध कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि आरक्षण का लाभ कुछ सम्पन्न परिवारों द्वारा ही लिया जा रहा है। हम चाहते है कि इस जातिगत आरक्षण की राष्ट्रीय समीक्षा हो ताकि वंचित पिछड़े दलितों को इसका लाभ मिल सके। बैठक में कार्यक्रम की तैयारियों को लेकर संगठन के सदस्यों को जिम्मेदारियां सौंपी गई। बैठक में डी पी जोषी, एडवोकेट पंकज जोषी, विनोद भाटी, दिनेष ओझा, यज्ञनेष पुरोहित, मुकेष सारस्वत, श्रीमती अनु केवलिया, मुकेष पुरोहित, अभिषेक सारस्वत, जतन लाल, भैंरू ओझा, अरूण कल्ला, लक्ष्मीकांत लाटा आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

WhatsApp Us whatsapp
Click To Join Whatsapp Group Fo Daily News Updates. whatsapp
error: CONTENT IS PROTECTED!
%d bloggers like this: